NDTV Khabar

श्रीलंका के खिलाफ टीम इंडिया बना सकती है खास रिकॉर्ड, जानें कौन किसे छोड़ सकता है पीछे...

श्रीलंका के आर प्रेमदासा क्रिकेट स्टेडियम पर भारत और श्रीलंका के बीच सीरीज का आखिरी यानी पांचवा एक दिवसीय मैच रविवार को खेला जाएगा.

49 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
श्रीलंका के खिलाफ टीम इंडिया बना सकती है खास रिकॉर्ड, जानें कौन किसे छोड़ सकता है पीछे...

टीम इंडिया का श्रीलंका के साथ वन डे सीरीज का आखिरी मैच रविवार को है.

खास बातें

  1. सीरीज में अब तक टीम इंडिया का प्रदर्शन शानदार रहा
  2. घरेलू मैदान पर श्रीलंका का काफी खराब प्रदर्शन
  3. टीम इंडिया यदि पांचवा मैच भी जीती तो बनेगा रिकॉर्ड
नई दिल्ली: श्रीलंका के आर प्रेमदासा क्रिकेट स्टेडियम पर भारत और श्रीलंका के बीच सीरीज का आखिरी यानी पांचवा एक दिवसीय मैच रविवार को खेला जाएगा. भारत सीरीज में 4-0 से आगे है. रविवार के मैच में भारत के उन खिलाड़ियों को मौका मिल सकता है जो अभी तक इस सीरीज में कोई भी मैच नहीं खेले हैं. पूरी सीरीज में जहां टीम इंडिया का प्रदर्शन शानदार रहा है वहीं अपने घरेलू मैदान में श्रीलंका काफी खराब प्रदर्शन कर रही है.

सीरीज में भारत ने हर डिपार्टमेंट में श्रीलंका को पीछे छोड़ दिया और विराट कोहली का हर परीक्षण सफल रहा है. पहले तीन मैचों में भारत के कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का निर्णय लिया था. इंडिया के गेंदबाज कोहली के निर्णय को सही साबित करते हुए तीनों मैचों में श्रीलंका को 250 के नीचे रोकने में कामयाब हुए. चौथे मैच में कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया था और इस मैच में खुद कोहली और रोहित ने शानदार शतक जड़े.

यह भी पढ़ें : क्या धोनी 2019 वर्ल्डकप टीम का हिस्सा होंगे? कोच रवि शास्त्री ने दिया यह जवाब

टीम इंडिया कायम कर सकती है एक खास रिकॉर्ड
टीम इंडिया ने 50 ओवरों में  375 रन का एक विशाल स्कोर खड़ा किया था. सबसे बड़ी बात यह है श्रीलंका के मैदान पर भारत का यह सबसे बड़ा स्कोर था. इस मैच से  पहले श्रीलंका के मैदान पर भारत का सबसे बड़ा  स्कोर 363 रन का था जो भारत ने 3 फरवरी 2009 को कोलंबो के मैदान पर बनाया था. अगर भारत रविवार का मैच जीत जाता है तो यह पहली बार होगा जब श्रीलंका के मैदान पर भारत 5-0 से सीरीज जीतने का गौरव हासिल करेगा और भारत के एक दिवसीय मैचों के इतिहास में यह दूसरी बार होगा जब विदेशी मैदान पर भारत पांच मैचों की एक दिवसीय सीरीज को क्लीन स्वीप करने में कामयाब होगा. वर्ष 2013 में विराट कोहली की कप्तानी में भारत ने ज़िम्बाब्वे को उसके घरेलू मैदान पर पांच मैचों की सीरीज में 5-0 से हराया था. विराट कोहली के सिवा कोई भी कप्तान यह कारनामा नहीं कर पाया.

यह भी पढ़ें : कप्तानी छोड़ने के बाद महेंद्र सिंह धोनी फ्लॉप हुए हैं या हिट?

टीम इंडिया के बल्लेबाज पीछे छोड़ सकते हैं कई बड़े खिलाड़ियों को
अगर रविवार के मैच में विराट कोहली 23 रन बना लेते हैं तो वे एक दिवसीय मैचों में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में ऑस्ट्रेलिया के मार्क वॉग को पीछे छोड़ देंगे. एक दिवसीय मैचों में मार्क वॉग ने 244 मैच खेलते हुए 8500 रन बनाए हैं जबकि विराट कोहली ने 193 मैच खेलते हुए करीब 55 के औसत से 8477 रन बनाए हैं. अगर महेंद्र सिंह धोनी पांचवे मैच में 64 रन बना लेते हैं तो एक दिवसीय मैचों में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में पाकिस्तान के मोहम्मद यूसुफ को पीछे छोड़ देंगे. धोनी ने 300 एक दिवसीय मैच खेलते हुए 9657 रन बनाए हैं, जबकि यूसुफ ने 288 मैच खेलते हुए 9720 रन बनाए हैं. इस मैच में रोहित शर्मा के पास भी एक मौका है बांग्लादेश के तमीम इकबाल को पीछे छोड़ने का. अगर रोहित शर्मा को इस मैच में मौका मिलता है और वे 23 रन बना लेते हैं तो सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले तमीम को पीछे छोड़ देंगे. तमीम इकबाल ने 173 मैच खेलते हुए 5743 रन बनाए हैं जबकि रोहित ने 162 मैच खेलते हुए 5721 रन बनाए हैं.

VIDEO : श्रीलंका को हराया

सबसे ज्यादा शतक के मामले में टूट सकते हैं कई रिकॉर्ड
एक दिवसीय मैचों में सबसे ज्यादा शतक जड़ने के मामले में भी रविवार को भारतीय बल्लेबाज कई रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं. इस मैच में अगर टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली शतक मारने में कामयाब होते हैं तो सबसे ज्यादा शतक बनाने के मामले में ऑस्ट्रेलिया के रिकी पोंटिंग को पीछे छोड़ देंगे. पोंटिंग ने 375 मैच खेलते हुए हुए 30 शतक जड़े हैं जबकि कोहली अब तक 193 मैच खेलते हुए 29 शतक मार चुके हैं. इस मैच में रोहित शर्मा अगर शतक जड़ते हैं तो सबसे ज्यादा शतक के मामले में ऑस्ट्रेलिया के डेविड वार्नर को पीछे छोड़ देंगे. एक दिवसीय मैचों में डेविड वार्नर ने 96 मैच खेलते हुए 13 शतक ठोके हैं जबकि रोहित शर्मा ने 162 मैच खेलते हुए 13 शतक ठोके हैं. शिखर धवन अगर रविवार को शतक मारने में कामयाब होते हैं तो राहुल द्रविड़ से आगे निकल जाएंगे. द्रविड़ ने 344 मैच खेलते हुए 12 शतक मारे हैं जबकि धवन 90 मैच खेलते हुए 11 शतक मारने में कामयाब हुए हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement