NDTV Khabar

6 बार की विजेता ऑस्ट्रेलिया से है आज टीम इंडिया का मुकाबला, जीती तो दूसरी बार पहुंचेगी फाइनल

 सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना आस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत की पहली ट्रंप कार्ड हैं.

194 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
6 बार की विजेता ऑस्ट्रेलिया से है आज टीम इंडिया का मुकाबला, जीती तो दूसरी बार पहुंचेगी फाइनल

खास बातें

  1. आज टीम इंडिया जीती खेलेगी फाइनल
  2. स्मृति मंधाना पर होगा दारोमदार
  3. मिताली राज का है कड़ा इम्तेहान
नई दिल्ली: आईसीसी महिला विश्व कप के दूसरे सेमीफाइनल मैच में आज टीम इंडिया के सामने कड़ी चुनौती है. उसका मुकाबला छह बार की विजेता आस्ट्रेलिया से है. यह मुकाबला यहां के काउंटी ग्राउंड में खेला जाएगा. इस मैच को जीतने वाली टीम फाइनल में इंग्लैंड के खिलाफ खिताबी जंग लड़ेगी.  सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना आस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत की पहली ट्रंप कार्ड हैं. अगर टीम को लॉर्डस में फाइनल खेलना है तो इसके लिए उन्हें पिछले कुछ मैचों की अपनी फॉर्म से सबक सीखते हुए विकेट पर पैर जमाने होंगे. 

वहीं जीत के लिए भारत के पांच शीर्ष बल्लेबाजों को 40 ओवर तक टिकना होगा. मंधाना, पूनम राउत, मिताली राज, हरमनप्रीत और दीप्ति शर्मा को विकेट बचाने के साथ ही रन गति को भी बनाए रखना होगा. पिछले मैच में वेदा कृष्णामूर्ति ने अंत में अच्छी आक्रामक बल्लेबाजी करके भारत की सेमीफाइनल में पहुंचाने की राह तैयार की थी. वहीं मिताली ने अपने करियर के आखिरी एक हजार रन पिछले पांच हजार रनों की तुलना में सबसे तेज बनाए हैं. 

भारतीय गेंदबाजी आक्रमण की धार एकता बिष्ट हैं. उनकी जगह शामिल राजेश्वरी गायकवाड़ भी पिछले मैच में कारगर रही थीं. कोच तुषार अरोठे रनों पर अंकुश लगाने के लिए लेग स्पिनर पूनम यादव के साथ बाएं हाथ की इन दोनों स्पिनरों को एक साथ उतार सकते हैं. 

ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजी क्रम में बाएं हाथ की तीन खिलाड़ियों को ध्यान में रखते हुए टीम में दीप्ति शर्मा और हरमनप्रीत कौर के रूप में दो ऑफ स्पिनर हैं. काउंटी ग्राउंड, भारत के लिए इस विश्व कप में अभी तक अच्छा साबित हुआ है. यहां भारत ने शुरुआती मैचों के बाद न्यूजीलैंड को 186 रन से हराकर किवी टीम के बढ़ते कदमों पर लगाम लगा दी थी. 

वहीं ऑस्ट्रेलिया की ओर से एलिस पैरी सात मैचों में 366 रन बनाकर दूसरी सबसे अधिक रन बनाने वाली खिलाड़ी हैं. उपकप्तान एलेक्स ब्लैकवेल भारत के खिलाफ अब तक दो शतक और छह अर्धशतक लगाकर बढ़िया प्रदर्शन कर चुकी हैं. कप्तान मैग लैनिंग कंधे की चोट के बाद लौटी हैं. ये तीनों मिलकर भारत के लिए बड़ी चुनौती पेश कर सकती हैं. 

क्या दोनों टीमों का रिकॉर्ड
1-  42 मैचों से 34 मैचों में भारत को आस्ट्रेलिया के हाथों हार झेलनी पड़ी है.
2-  आस्ट्रेलिया 6 बार विश्वकप जीत चुकी है.
3- राउंड रॉबिन लीग में आस्ट्रेलिया भारत को 8 विकेट से हरा चुका है.
4- 2005 में भारत फाइनल तक पहुंच चुका है.

( इनपुट आईएनएस से )
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement