NDTV Khabar

सचिन तेंदुलकर की बैटिंग सलाहकार के रूप में सेवाएं चाहते हैं टीम इंडिया के कोच रवि शास्‍त्री

सचिन उस तीन सदस्‍यीय क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) का हिस्‍सा थे जिसने रवि शास्‍त्री का नाम मुख्‍य कोच के पद के लिए प्रस्‍तावित किया था.

116 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
सचिन तेंदुलकर की बैटिंग सलाहकार के रूप में  सेवाएं चाहते हैं टीम इंडिया के कोच रवि शास्‍त्री

रवि शास्‍त्री भारतीय टीम के श्रीलंका दौरे से कोच पद की जिम्‍मेदारी संभालेंगे (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. शास्‍त्री ने बोर्ड की विशेष बैठक में जताई यह इच्‍छा
  2. लेकिन इस मामले में हितों का टकराव हैं अहम मुद्दा
  3. भरत अरुण को बनाया गया है टीम का गेंदबाजी कोच
नई दिल्‍ली: टीम इंडिया के नए कोच रवि शास्‍त्री ने कहा है कि यदि हितों के टकराव (conflict of interest) का मुद्दा आड़े नहीं आता है तो वे बल्‍लेबाजी सलाहकार के तौर पर मास्‍टर ब्‍लास्‍टर सचिन तेंदुलकर की सेवाएं चाहते हैं.गौरतलब है कि सचिन उस तीन सदस्‍यीय क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) का हिस्‍सा थे जिसने रवि शास्‍त्री का नाम मुख्‍य कोच के पद के लिए प्रस्‍तावित किया था. सीएसी में सदस्‍य के रूप में सौरव गांगुली और वीवीएस लक्ष्‍मण भी शामिल थे. रवि शास्‍त्री के सपोर्ट स्‍टाफ के तौर पर मंगलवार को भरत अरुण को गेंदबाजी कोच, संजय बांगर का सहायक कोच और आर.श्रीधर को फील्डिंग कोच नियुक्‍त किया गया है.गौरतलब है कि सीएसी ने बैटिंग सलाहकार के रूप में राहुल द्रविड़ और गेंदबाजी सलाहकार के रूप में जहीर खान के नाम की सिफारिश की थी.

भरत अरुण की बतौर बॉलिंग कोच नियुक्ति के बाद शास्‍त्री ने गांगुली पर कसा यह तंज!

सचिन तेंदुलकर को बल्‍लेबाजी सलाहकार बनाने की संबंधी अपनी ख्‍वाहिश का इजहार शास्‍त्री ने बीसीसीआई की विशेष समिति के साथ बैठक में किया. इस बैठक में कार्यकारी अध्‍यक्ष सीके खन्‍ना, सीईओ राहुल जौहरी, कार्यकारी सचिव अमिताभ चौधरी और सीओए सदस्‍य डायना एडुलजी मौजूद थे. वैसे विशेष समिति ने यह साफ किया है कि राष्‍ट्रीय टीम में कोई भी भूमिका, चाहे वह फुल टाइमर के तौर पर हो या पार्ट टाइमर के तौर पर, में हितों के टकराव का मुद्दा आड़े नहीं आना चाहिए.

समिति के एक सदस्‍य ने अपना नाम उजागर न करने की शर्त पर बताया कि रवि ने सीमित समय के लिए सचिन को बैटिंग सलाहकार बनाने का विचार रखा, इस पर समिति ने उन्‍हें हितों के टकराव के क्‍लॉज की याद दिलाई. यदि सचिन यह रोल स्‍वीकार करते हैं तो वे आईपीएल सहित अन्‍य जिम्‍मेदारियों से हटना होगा. (भाषा से इनपुट)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement