NDTV Khabar

बीवी तान्‍या के संग इटली में छुट्टियां मना रहे तेज गेंदबाज उमेश यादव, शेयर किए ये फोटो...

तेज गेंदबाज उमेश यादव को श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज और एकमात्र टी20 के लिए भारतीय टीम में स्‍थान नहीं दिया गया. उमेश ने इस खाली समय का उपयोग पत्‍नी तान्‍या के साथ घूमने के लिए किया.

268 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
बीवी तान्‍या के संग इटली में छुट्टियां मना रहे तेज गेंदबाज उमेश यादव, शेयर किए ये फोटो...

उमेश यादव को गेंदबाज के तौर पर बेहतर बनाने में उनकी पत्‍नी तान्‍या का खास योगदान रहा है

खास बातें

  1. श्रीलंका के खिलाफ वनडे-टी20 की भारतीय टीम में नहीं थे उमेश
  2. इस खाली समय का उपयोग उन्‍होंने इटली में छुट्टियां मनाकर किया
  3. तेज गेंदबाज उमेश यादव के लिए लकी साबित हुई हैं तान्‍या
नई दिल्‍ली: तेज गेंदबाज उमेश यादव को श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज और एकमात्र टी20 के लिए भारतीय टीम में स्‍थान नहीं दिया गया. उमेश ने इस खाली समय का उपयोग पत्‍नी तान्‍या के साथ घूमने के लिए किया. उमेश ने पत्‍नी तान्‍या के साथ इटली की अपनी यात्रा के फोटो इंस्‍टाग्राम अकाउंट पर शेयर किए हैं. इन फोटो में उमेश क्रिकेट के व्‍यस्‍तता भरे सत्र से दूर पत्‍नी के साथ मौजमस्‍ती करते नजर आ रहे हैं. गौरतलब है कि पत्‍नी तान्‍या, टीम इंडिया के तेज गेंदबाज उमेश यादव के लिए लकी साबित हुई हैं. उमेश को एक समय ऐसे गेंदबाज के रूप में देखा जाता था जो अच्‍छी गति और स्विंग होने के बावजूद अपनी प्रतिभा के साथ न्‍याय नहीं कर पा रहा था. बाद में कड़ी मेहनत के बल पर उन्‍होंने न केवल इस धारणा को तोड़ा बल्कि आज वे टीम इंडिया के मुख्‍य गेंदबाज हैं.
 
 

Cute

A post shared by Umesh Yadav (@umeshyaadav) on


 
 

Gandloa ride Venice Italy

A post shared by Umesh Yadav (@umeshyaadav) on


 
 

San Gimignano # Tuscany #Italy

A post shared by Umesh Yadav (@umeshyaadav) on


 
 

Torre di Pisa # Italy #

A post shared by Umesh Yadav (@umeshyaadav) on

ऐसा नहीं है कि उमेश यादव में प्रतिभा की कमी थी. बस उसे निखारने और समर्पण की जरूरत थी. प्रदर्शन में स्‍थायित्‍व नहीं होना उनकी  कमजोरी थी. गेंदबाजी करते हुए उमेश कई बार दिशाहीन होकर लेग स्‍टंप के बाहर गेंद फेंकने लगते थे. इसी कारण शुरुआती दौर में वे टीम इंडिया में कभी अंदर तो कभी बाहर होते रहे. उनके लिए हालात 2013 में बदले, जब उनकी तान्या से शादी हुई.

यह भी पढ़ें : 20 साल की उम्र तक उमेश यादव लेदर की गेंद से खेलना नहीं जानते थे

उमेश यादव ने एक इंटरव्‍यू के दौरान बताया था 'मैं पहले टीम में नियमित रूप से जगह नहीं बना पा रहा था. मैं कभी विकेट लेता, कभी नहीं ले पाता. फिर जब 2013 में मेरी शादी तान्या से हुई, तब मेरे अंदर अपने प्रदर्शन को लेकर जागरुकता आई, क्योंकि मुझे पता था कि कोई ऐसा भी है जो किसी भी हाल में मेरा साथ देने के लिए तैयार है.'

वीडियो: टी20 मैच में टीम इंडिया ने श्रीलंका को हराया
उमेश के अनुसार जब तान्या ने पहले कुछ साल देखा कि उमेश करियर को लेकर सीरियस नहीं हैं. उमेश ने बताया कि तान्‍या मुझसे कहती कि तुम्हारे पास काबिलियत है. लेकिन तुम उसका सही उपयोग नहीं कर रहे हो. उमेश ने बताया, 'एक समय ऐसा भी था, जब मुझे लगने लगा था कि मैं अब ट्रेनिंग छोड़कर घर बैठ जाऊं. उस समय तान्या ने समझाया कि कोई ब्रेक नहीं लेना है. प्रैक्टिस पर जाना है, तो जाना है. मैं बंक भी नहीं मार सकता था. न प्रैक्टिस पर लेट हो सकता था. तान्‍या ने कहा, 'यही तुम्हारा जॉब है. यही जुनून है. इसे हासिल करो.' टीम इंडिया के इस तेज गेंदबाज ने कहा कि किसी खास के मुंह से ऐसी बातें सुनकर मुझे अहसास हुआ कि क्रिकेट ही मेरी जिंदगी है.'


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement