NDTV Khabar

कुछ ऐसे Bhuvneshwar Kumar की चोट ने एनसीए की कार्य प्रणाली की पोल खोल दी

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कुछ ऐसे Bhuvneshwar Kumar की चोट ने एनसीए की कार्य प्रणाली की पोल खोल दी

भुवनेश्वर कुमार चोटिल होकर विंडीज के खिलाफ सीरीज से बाहर हो गए हैं

नई दिल्ली:

भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar kumar) की चोट ने एक बार फिर 'भानुमती के पिटारे' को खोल दिया है. इस चोट ने राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) में काम कर रहे विशेषज्ञों की योग्यता पर सवाल खड़े कर दिए हैं क्योंकि उन्होंने भुवनेश्वर को क्लीन चिट दे दी थी. अब ऐसी खबरें हैं कि हार्दिक पंड्या (Hardik Pandya) और जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) ने भी रीहैब के लिए एनसीए जाने से मना कर दिया है. बीसीसीआई के एक अधिकारी ने बताया कि प्रोटोकॉल के मुताबिक अनुबंधित खिलाड़ियों को रीहैब के लिए एनसीए जाना पड़ता है, लेकिन पंड्या और बुमराह ने साफ कर दिया है कि वह बेंगलुरु नहीं जाएंगे।

अधिकारी ने कहा, "पड्या और बुमराह दोनों ने टीम मैनेजमेंट से साफ कह दिया है कि वह रीहैब के लिए अकादमी नहीं जाएंगे और इसलिए योगेश परमार पंड्या पर नजर बनाए हुए हैं जबकि नितिन पटेल ने बुमराह पर कड़ी नजर रखी है. हां, ये लोग अनुबंधित खिलाड़ी हैं और उन्हें एनसीए में होना चाहिए था, लेकिन जोखिम ज्यादा है और खिलाड़ी चोटों को लेकर गंभीर हैं. इसलिए एक समय के बाद आपको खिलाड़ियों को आजादी देनी होती है कि वह अपने हित को लेकर फैसले ले सकें"


यह भी पढ़ें:  MS Dhoni अगले साल टी20 वर्ल्ड कप के लिए उपलब्ध रहेंगे, साथी ऑलराउंडर ने किया खुलासा

भुवनेश्वर को हॉर्निया की शिकायत है. यह गेंदबाज विश्व कप के बाद से ही एनसीए से अंदर-बाहर होते रहे हैं क्योंकि उनकी कोशिश 100 फीसदी फिट होने की है, लेकिन एनसीए की टीम उनकी चोट को समझ पाने में असफल रही है और राष्ट्रीय टीम से दो मैच खेलने के बाद ही एक बार फिर वह चोटिल हो गए हैं. अधिकारी ने कहा, "वह तीन महीने तक एनसीए में थे और बेंगलुरू में उनके कितने टेस्ट हुए, इसमें जाने के बजाए मैं यह कह सकता हूं कि उनकी सभी तरह से जांच कर ली गई थी, लेकिन उनका हॉर्निया ठीक नहीं हुआ. जैसे ही मुंबई में दोबारा उनकी जांच की गई यह सामने आ गया."

यह भी पढ़ें:  अब टीम विराट की नजर पहले मैच के साथ ही वनडे सीरीज कब्जाने पर

उन्होंने कहा, "ऐसा पहली बार नहीं है कि खिलाड़ी को एनसीए में इस तरह की परेशानी हुई हो. रिद्धिमान साहा का भी एक उदाहरण हमारे सामने हैं और अब वह न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज में नहीं खेल पाएंगे. हम सब जानते हैं कि वह टीम में क्या लेकर आते हैं. उनके पास स्विंग और सीम है.य वह सर्जरी कराएंगे और आईपीएल के समय तक वापसी करेंगे"

VIDEO: पिंक बॉल बनने की कहानी जान लीजिए, स्पेशल स्टोरी. 

टिप्पणियां

उन्होंने कहा, "अच्छी बात यह है कि भुवनेश्वर ने टीम प्रबंधन को जल्दी बता दिया कि उन्हें परेशानी हो रही है और नितिन तथा सपोर्ट स्टाफ ने भी उस पर तुरंत प्रतिक्रिया दी. हमने प्रोटोकॉल का पालन किया था और उन्हें तभी टीम में लाया गया था जब उन्हें फिट घोषित कर दिया गया था"


 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... राजगढ़ के थप्पड़ कांड को लेकर हाई कोर्ट ने राज्य सरकार और कलेक्टर से जवाब मांगा

Advertisement