NDTV Khabar

'इस शर्त' में गौतम गंभीर ने युवराज सिंह को ऐसे दी मात

टीम इंडिया के दो दिग्गज युवराज सिंह और गौतम गंभीर के बीच पिछले दिनों एक बात को शर्त लगी थी. दांव पर क्या था, यह तो कहना मुश्किल है, पर इस शर्त में आखिरकार गौतम अपने दोस्त युवराज सिंह को मात देने में कामयाब रहे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
'इस शर्त' में गौतम गंभीर ने युवराज सिंह को ऐसे दी मात

गौतम गंभीर का फाइल फोटो

खास बातें

  1. आखिर दांव पर क्या लगा था?
  2. गौतम 16 रन से जीत गए शर्त
  3. दोनों कर रहे हैं बीसीसीआई के इस फैसले का इंतजार
नई दिल्ली: टीम इंडिया के दो दिग्गज युवराज सिंह और गौतम गंभीर के बीच पिछले दिनों एक बात को शर्त लगी थी. दांव पर क्या था, यह तो कहना मुश्किल है, पर इस शर्त में आखिरकार गौतम अपने दोस्त युवराज सिंह पर मात देने में कामयाब रहे. ये दोनों ही दिग्गज टीम इंडिया में वापसी के लिए पुरजोर कोशिश कर रहे हैं, लेकिन दोनों के सामने टीम इंडिया की वापसी एक खास बात पर निर्भर करती है. वैसे ये दोनों ही सितारा खिलाड़ी इन दिनों बहुत ही खास बात को लेकर चिंतित हैं. 
 युवराज सिंह ने मंगलवार को दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर राष्ट्रीय चयनकर्ताओं को ये मैसेज तो दे ही दिया कि अभी उनके बल्ले की न आग कम हुई है और न ही टीम इंडिया में वापसी की भूख. युवराज ने 40 गेंदों पर बिना आउट हुए 4 चौकों और 1 छक्के से 50 रन बनाए. इस पारी से उन्होंने दिखा दिया कि वह टी-20 और वनडे के लिए टीम इंडिया के लिए पूरी तरह से तैयार हैं.

यह भी पढ़ें : इस वजह से यूसुफ पठान डोप टेस्ट में फंसे ....बीसीसीआई ने दी यह सजा..उठे ये 'दो बड़े सवाल'?

चलिए वापस एक बार फिर से गौतम और युवराज सिंह के बीच लगी शर्त पर लौटते हैं. दरअसल सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी का मैच मंगलवार को पंजाब और दिल्ली के बीच गौतम गंभीर के घरेलू फिरोजशाह कोटला मैदान पर खेला गया. इसी मैच को लेकर इन दोनों ने कुछ दिन पहले स्कोर में एक-दूसरे को पछाड़ने की शर्त लगाई थी. युवराज ने अपनी तरफ से कोशिश तो पूरी-पूरी की, लेकिन आखिर में वह गौतम से हार गए. 

टिप्पणियां
VIDEO:


गौतम गंभीर ने रन आउट होने से पहले 54 गेंदों पर 66 रन बनाकर न केवल युवराज सिंह से शर्त जीत ली, बल्कि सेलेक्टरों को ओभी बताया कि गाहे-बेगाहे अगर दक्षिण अफ्रीका में कोई ओपनर चोटिल हो जाता है, तो वह जगह लेने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं. वैसे गौतम गंभीर भी युवराज सिंह के साथ इस बात का इंतजार कर रहे हैं कि क्या बीसीसीआई उन्हें जल्द ही ऐलान होने वाले सालाना अनुबंध की किसी कैटेगिरी (ए, ए+, बी, सी) में से किसी एक में उन्हें  जगह देगा.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement