NDTV Khabar

कुछ ऐसे Prithvi Shaw ने 'डबल धमाके' से दिया आलोचकों को करारा जवाब

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कुछ ऐसे Prithvi Shaw ने 'डबल धमाके' से दिया आलोचकों को करारा जवाब

Prithvi Shaw की फाइल फोटो

खास बातें

  1. मुंबई-बड़ोदा मैच में खेली तूफानी पारी
  2. Prithvi Shaw ने बनाए 179 गेंदों पर 202 रन
  3. पृथ्वी के 19 चौके व 7 छक्के
वडोदरा:

पहले चोट और फिर गलती से प्रतिबंधि दवा लेने का कारण क्रिकेट से दूर रहे युवा बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) ने अपने आलोचकों और बहुत ही करारा जवाब दिया है. वडोदरा में खेले जा रहे एलीट ग्रुप बी मुकाबले की तीसरे दिन 20 साल के इस युवा बल्लेबाज ने बडोदरा के गेंदबाजों की ऐसी धुनाई की कि खबर डबल धमाके की फैली, तो चयकर्ता भी पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) को विंडीज के खिलाफ वनडे टीम में लिए जाने पर विचार करने पर मजबूर हो गए. हालांकि, यह बात अलग है कि  पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw)को टीम में जगह नहीं मिली, लेकिन इतना साफ है कि पृथ्वी की धमाकेदार 202 रन की पारी के बाद उनका न्यूजीलैंड दौरे पर तीसरे ओपनर के रूप में जाना एकदम तय है. 

यह भी पढ़ें: इसलिए सेलेक्टरों ने मयंक अग्रवाल को दी पृथ्वी शॉ पर वरीयता, वनडे टीम घोषित


मुकाबले में दूसरे दिन मंगलवार के खेल की समाप्ति पर बड़ौदा का स्कोर पहली पारी में 9 विकेट पर 301 रन था. और बुधवार को जल्द ही 307 रन पर समाप्त हो गई. और इसके बाद जब मुंबई अपनी दूसरी पारी में बैटिंग के लिए मैदान पर उतरी, तो मानो पृथ्वी शॉ कुछ अलग ही खाकर मैदान पर उतरे. और उन्होंने उतरते ही मेजबान गेंदों की बखिया उधेड़नी शुरू कर दी. 
 

यह भी पढ़ें: टीम इंडिया से बाहर चल रहे Hardik Pandya ने की "मन की बात"

उन्होंने पहले शतक और इसके बाद दोहरा शतक जड़ डाला. पृथ्वी शॉ ने सिर्फ 179 गेंदों पर 19 चौकों और 7 छक्कों से 202 रन ठोककर विंडीज के खिलाफ वनडे टीम में चयन का बहुत ही मजबूत दावा ठोका था. निश्चित ही, यह आतिशी पारी पृथ्वी शॉ का बहुत ज्यादा भला करने जा रही है. 

टिप्पणियां

VIDEO:  पिंक बॉल बनने की पूरी कहानी जान लीजिए, स्पेशल स्टोरी. 

इस पारी से उन्होंने दिखा दिया है कि वह लगे छोटे प्रतिबंध के बाद और ज्यादा परिपक्व और रनों के लिए और ज्यादा भूख के साथ वापस लौटे हैं



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... राजगढ़ के थप्पड़ कांड को लेकर हाई कोर्ट ने राज्य सरकार और कलेक्टर से जवाब मांगा

Advertisement