कुछ ऐसे सचिन तेंदुलकर और अनिल कुंबले ने दी अब्दुल कादिर को श्रृद्धांजलि, इमरान खान ने कही यह 'बड़ी बात'

कुछ ऐसे सचिन तेंदुलकर और अनिल कुंबले ने दी अब्दुल कादिर को श्रृद्धांजलि, इमरान खान ने कही यह 'बड़ी बात'

अब्दुल कादिर की फाइल फोटो

खास बातें

  • कादिर सर्वकालिक महान लेग स्पिनरों में एक थे-इमरान
  • ...तो कादिर के विकेट शेन वॉर्न के बराबर होते
  • कादिर ने लेग स्पिन कला को फिर से जीवित किया-कुंबले
नई दिल्ली:

शुक्रवार देर रात पाकिस्तान के महान लेग स्पिनर अब्दुल कादिर (Abdul Quadir) के निधन की खबर से क्रिकेट जगत में मायूसी का माहौल है. और सभी दिग्गज अपने-अपने तरीके इस लेग स्पिनर को श्रद्धांजलि भेट कर रहे हैं. कादिर के साथ बिताए गए लम्हों को भी याद कर रहे हैं. साल 1989 में पाकिस्तान के खिलाफ ही अपने करियर का आगाज करने वाले सचिन तेंदुलकर और अनिल कुंबले ने भी कादिर को श्रृद्धांजलि भेंट की है. सचिन ने कादिर को याद करते हुए उन्हें विश्व के बेहतरीन लेग स्पिनरों में से एक करार दिया, तो वहीं कादिर के कप्तान रहे और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने दिवंगत गेंदबाज को सर्वकालिक महान लेग स्पिनरों में से एक करार दिया है. वसीम अकरम ने भी ट्विटर पर कहा कि कैसे कादिर की बात ने उन्हें भरोसा दिया. 

अनिल कुंबले ने कादिर को ऐसा गेंदबाज बताया, जिन्होंने लेग स्पिन की कला को फिर से जीवित किया

वहीं, अब्दुल कादिर में बहुत ही ज्यादा भरोसा जताने वाले और क्रिकेट के दिनों में उनका प्रोत्साहन करने वाले इमरान खान ने दिवंगत गेंदबाज को सर्वकालिक महान लेग स्पिनर में से एक बताया. साथ ही, इमरान ने लिखा कि कादिर एक ऐसे शख्स थे, जो ड्रैसिंग रूम के माहौल को जीविंत बनाए रखते थे.

यह भी पढ़ें: हरभजन ने नंबर-4 के लिए सुझाया इस बल्लेबाज का नाम तो युवराज ने यूं ली टीम इंडिया की चुटकी

उन्होंने लिखा कि कादिर के आंकड़े उनकी काबिलियत के साथ इंसाफ नहीं करते. उस दौर में डीआरएस होता, तो कादिर के विकेट भी शेन वॉर्न जितने होते

यह भी पढ़ें: SL vs NZ, 3rd T20I: लसिथ मलिंगा हैट्रिक के बादशाह ही नहीं बने, बल्कि... VIDEO

पूर्व कप्तान वसीम अकरम ने ट्वीट किया, "सभी ने उन्हें कई कारणों से जादूगर कहा, लेकिन जब उन्होंने मेरी आंखों में देखकर कहा कि मैं अगले 20 साल तक पाकिस्तान के लिए क्रिकेट खेलूंगा तो मुझे विश्वास हो गया. वह बिल्कुल एक जादूगर थे. एक लेग स्पिनर और अपने समय के महान गेंदबाज. अब्दुल कादिर आपकी कमी खलेगी लेकिन आपको कभी भूलेंगे नहीं"

VIDEO:  धोनी के संन्यास पर युवा क्रिकेटरों के विचार जान लीजिए. 

कादिर 67 साल के थे और पाकिस्तान के लिए उन्होंने 67 मैचों में हिस्सा लिया था. टेस्ट में उनके नाम 236 विकेट हैं. वह पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के मुख्य चयनकर्ता भी रह चुके थे.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com