NDTV Khabar

अफगानिस्तान ही नहीं...बीसीसीआई ने इन तीन देशों को भी दिया है 'जीवन'

सोमवार को हुई विशेष बैठक में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने हुई अपनी विशेष बैठक में ऑस्ट्रेलिया के प्लान पर पानी फेरते हुए अफगानिस्तान को अपने खिलाफ भारत में पहला टेस्ट मैच खेलने का बड़ा सम्मान दिया. बहरहालयह पहला मौका नहीं है, जब बीसीसीआई ने ऐसा किया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अफगानिस्तान ही नहीं...बीसीसीआई ने इन तीन देशों को भी दिया है 'जीवन'

बीसीसीआई का लोगो

खास बातें

  1. एशिया में सिर्फ श्रीलंका नहीं हासिल कर पाया यह सम्मान
  2. पाकिस्तान को 1952 में भारत ने दिया था मौका
  3. बांग्लादेश ने साल 2000 में शुरू की थी टेस्ट पारी!
नई दिल्ली: सोमवार को हुई विशेष बैठक में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने हुई अपनी विशेष बैठक में ऑस्ट्रेलिया के प्लान पर पानी फेरते हुए अफगानिस्तान को अपने खिलाफ भारत में पहला टेस्ट मैच खेलने का बड़ा सम्मान दिया. यह टेस्ट मैच साल 2019 में खेला जाएगा. बहरहाल यह पहला मौका नहीं है, जब बीसीसीआई ने ऐसा किया है. अफगानिस्तान से पहले तीन ऐसे देश और रहे हैं, जिन्होंने अपना पहला टेस्ट मैच खेलने का सौभाग्य भारत के खिलाफ ही हासिल किया. चलिए आगे जानिए कौन-कौन हैं वो देश. बता दें कि साल 1952 के बाद से केवल श्रीलंका और आयरलैंड दो ही ऐसे देश रहे हैं, जिन्होंने भारत के खिलाफ अपना पहला टेस्ट नहीं खेला. वर्ना कई देशों ने अपनी 'टेस्ट जिंदगी' की शुरुआत भारत के खिलाफ ही की. सोमवार को ही बैठक में भारतीय बोर्ड ने इस बात का ऐलान किया कि अफगानिस्तान साल 2019 में टीम इंडिया के खिलाफ भारत की धरती पर अपना पहला टेस्ट मैच खेलेगी. हालांकि, तय कार्यक्रम के अनुसार अफगान टीम को अपना पहला टेस्ट साल 2019 में ही ऑस्ट्रेलिया में ही खेलना था. लेकिन यह अफगान टीम की ही दिली ख्वाहिश थी कि उसे यह मौका भारत के खिलाफ मिले. और बीसीसीआई ने हमेशा की तरह ही उसकी यह बात भी मान ली. 

यह भी पढ़ें : दक्षिण अफ्रीकी दौरे पर विराट के साथ रहेंगी अनुष्का, दोनों साथ मनाएंगे नया साल

टिप्पणियां
वैसे सबसे पहले भारत ने टेस्ट जीवन पाकिस्तान को साल 1952 (16 अक्टूबर) में प्रदान किया था. तब पाकिस्तान ने अपना पहला टेस्ट दिल्ली में खेला था और उसे हार का सामना करना पड़ा था. इसके बाद साल 1992 (18 अक्टूबर) में जिंबाब्वे ने हरारे में भारत के खिलाप अपने टेस्ट करियर का आगाज किया और यह टेस्ट मैच ड्रॉ छूटा था. वहीं बांग्लादेश ने बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष जगमोहन डालमिया के प्रयासों से साल 2000 (10 नवंबर) को अपना पहला टेस्ट खेला.

VIDEO : जानिए कुछ दिन पहले क्या बड़ा फैसला लिया था बीसीसीआई ने
कुल मिलाकर भारत ने अभी तक चार देशों को नया जीवन देते हुए अपने खिलाफ पहला टेस्ट खेलना का मौका दिया. इन देशों ने भारत की कोशिशों से अभी तक अच्छी प्रगति की है. अफगानिस्तान को अपने खिलाफ खेलने का मौका देने के बाद
अब देखने की बात यह होगी कि अब भारत के खिलाफ अपना पहला टेस्ट खेलने वाला पांचवां देश कौन बनता है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
 Share
(यह भी पढ़ें)... गिरते रुपया का आम आदमी पर क्या होगा असर?

Advertisement