NDTV Khabar

एचसीए अधिकारियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करेंगे अजहरुद्दीन

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन ने कहा है कि वह जल्द ही हैदराबाद क्रिकेट एसोसिएशन (एचसीए) के अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे.

868 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
एचसीए अधिकारियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करेंगे अजहरुद्दीन

मोहम्मद अजहरुद्दीन (पूर्व भारतीय क्रिकेट कप्तान)

खास बातें

  1. अजहर बोले, मैं किसी भी पद पर आसीन होने का हकदार
  2. 'मेरे साथ इस तरह का व्यवहार आपराधिक कदम'
  3. 'जो भी एचसीए कर रहा है, वह गैरकानूनी'
नई दिल्ली: भारतीय टीम के पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरुद्दीन ने कहा है कि वह जल्द ही हैदराबाद क्रिकेट एसोसिएशन (एचसीए) के अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे. अजहर ने शनिवार को कहा, 'बीसीसीआई के पत्र के अनुसार मैं आईसीसी/बीसीसीआई या किसी भी राज्य संघ में किसी भी पद पर आसीन होने का हकदार हूं. साथ ही तत्कालीन एचसीए सचिव टी. शेषनारायण द्वारा जारी किया गया पहचान पत्र इस बात का सबूत है कि एचसीए अध्यक्ष मेरे केस में लगातार झूठ बोल रहे हैं'

पूर्व कप्तान ने कहा, 'मैं तत्कालीन एड होक पैनल के चैयरमैन पी.सी. जैन और अन्य लोग जिन्होंने मुझे एचसीए चुनावों में अध्यक्ष पद पर खड़े होने से रोका, उन लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने जा रहा हूं. मेरे साथ इस तरह का व्यवहार करना आपराधिक कदम है'. एचसीए के पूर्व अध्यक्ष जी. विवेक द्वारा अपने ऊपर लगाए गए आरोपों को अजहर ने बेबुनियाद बताते हुए कहा कि उन्होंने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) को इस बारे में लिखा है. 

यह भी पढ़ें : युवराज और रैना के समर्थन में आया यह पूर्व भारतीय कप्तान, बोले- दोनों खिलाड़ियों को मिले यो-यो टेस्ट में छूट

उन्होंने कहा, 'मैंने बीसीसीआई को एक पत्र लिखा है। साथ ही मैंने प्रशासकों की समिति (सीओए) को भी पत्र लिखा है/ मुझे लगता है कि उन्हें इसके खिलाफ कार्रवाई करना चाहिए. वो जो भी एचसीए में कर रहे हैं वो पूरी तरह से गैरकानूनी है. भारत के सबसे सफल कप्तानों में शुमार अजहर ने कहा, 'मुझे उम्मीद है कि बीसीसीआई से इस पर जबाव आएगा। सीओए के अध्यक्ष विनोद राय इस समय देश से बाहर हैं, जब वह वापस आएंगे तो मैं उनसे मुलाकात करूंगा'.

टिप्पणियां
VIDEO: पूर्व कप्तान अजहरुद्दीन ने अब क्रिकेट प्रशासक बनने का फैसला किया है

बता दें कि अजहरुद्दीन ने एचसीए के अधिकारियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने का फैसला उन्हें पिछले रविवार को हुई बैठक में हिस्सा लेने से रोकने के बाद किया है. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement