NDTV Khabar

इसलिए चीफ सेलेक्टर को भाने लगा यह नया ओपनर, मिलेगी जल्द टीम इंडिया में जगह?

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
इसलिए चीफ सेलेक्टर को भाने लगा यह नया ओपनर, मिलेगी जल्द टीम इंडिया में जगह?

मयंक अग्रवाल

खास बातें

  1. रणजी ट्रॉफी में सबसे ज्यादा रन बनाने वाला ओपनर
  2. घरेलू टी-20 में 13वें नंबर रहे मयंक अग्रवाल
  3. फिरोजशाह कोटला में हैदराबाद के ऊपर फोड़ा बम!
नई दिल्ली: क्या आप जानते हैं कि साल 2017-18 रणजी ट्रॉफी सेशन में सबसे ज्यादा रन बनाने वाला बल्लेबाज कौन रहा. सोचिए..सोचिए, सोचिए! चलिए कोई बात नहीं. हम आपको ध्यान दिला देते हैं. खत्म हुए रणजी ट्रॉफी में सबसे ज्यादा रन बनाए कर्नाटक के मयंक अग्रवाल ने. और अब मयंक का अंदाज राष्ट्रीय चयन समिति को बहुत ही ज्यादा भा रहा है. मतलब यह है कि अगर इंग्लैंड दौरे में मयंक टीम इंडिया के साथ दिखाई पड़ें, तो चौंकाने वाली बात नहीं होगी क्योंकि चयन समिति की नजरें उन पर गड़ गई हैं. चलिए पहले आपको मयंक अग्रवाल के रणजी सेशन में किए कारनामे के बारे में बताते हैं. बता दें कि मयंक अग्रवाल घरेलू सत्र में 8 मैचों में 10.5.45 के औसत से 1,160 रन बनाकर सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे थे. वहीं, उन्होंने एक मैच में नाबाद 304  रन भी बनाए थे. और वह अपने इसी प्रदर्शन से सेलेक्शन कमेटी के बीच चर्चा का विषय बन गए थे. उनको लेकर टीम इंडिया में जगह दिए जाने की चर्चा तो शुरू हो चुकी थी. लेकिन एक बात बार-बार सेलेक्टरों को चिंतित कर रही थी. ​


यह भी पढ़ें : मुश्ताक अली T20:नहीं चले पश्चिम क्षेत्र के केदार जाधव और पार्थिव पटेल, मयंक अग्रवाल ने दक्षिण क्षेत्र को जिताया

टिप्पणियां
और इस चिंता का निवारण काफी हद तक मयंक ने फिरोजशाह कोटला में विजय हजारे ट्रॉफी में हैदराबाद के खिलाफ खेले गए क्वार्टरफाइनल में कर दिया. वैसे संकेत उन्होंने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी (टी-20) के जरिए ही काफी हद तक दिए थे. लेकिन अब चीफ सेलेक्टर एमएसके प्रसाद को भरोसा हो चला है कि यह वही सलामी बल्लेबाज है, जिसकी उन्हें तलाश है. प्रसाद कहते हैं,  'मयंक अग्रवाल बहुत ही शानदार हैं और उनके पास बेहतरीन स्ट्रोक्स हैं. वास्तव में इसमें कोई शक नहीं है'. और मयंक ने यह भरोसा एक दिन पहले ही चीफ सेलेक्टर को दिया. दरअसल प्रसाद यह देखना चाहते थे कि चार दिनी क्रिकेट के बाद वनडे में मयंक का बल्ला कैसे बोलता है. 

VIDEO : सेंचुरियन में शतक बनाने के बाद विराट कोहली.
मयंक अग्रवाल ने क्वार्टरफाइनल में हैदराबाद के खिलाफ पारी शुरू करते हुए 111 गेंदों में 140 रन बनाकर दो बातें साबित कीं. एक तो यह कि उनका बल्ला वनडे में भी बरसना जानता है. और दूसरा यह कि 7 छक्के जड़कर यह भी बताया कि वह बड़े शॉट लगाने में भी किसी से पीछे नहीं हैं. एक बार और बता दें कि सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी (टी-20) में सबसे ज्यादा रन बनाने में 13वें नंबर पर रहे थे. अभी 26 साल के हैं. मतलब दबाव पूरा चयन समिति पर बन चुका है. देखते हैं कि बुलावा कब भेजा जाता है. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement