NDTV Khabar

इस वजह से Harbhajan Singh कर सकते हैं जल्द ही अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का ऐलान

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
इस वजह से Harbhajan Singh कर सकते हैं जल्द ही अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का ऐलान

Harbhajan Singh की फाइल फोटो

खास बातें

  1. हरभजन ने आखिरी टेस्ट मैच अगस्त 2015 में खेला था
  2. आखिरी ODI भी 2015 में खेला था भज्जी ने
  3. पिछले 4 साल में बतौर कमेंटेटर बनाई है पहचान
नई दिल्ली:

दिग्गज ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) को भले ही टीम इंडिया के लिए खेले हुए लंबा अरसा हो गया है. और शायद ही वह आगे टीम इंडिया के लिए खेलते दिखाई पड़ें. हरभजन (Harbhajan Singh) इन दिनों चैनल के लिए कमेंटरी करते दिखाई पड़ जाते हैं. बता दें कि भज्जी ने अभी अंतरराष्ट्रीय से संन्यास नहीं लिया है, लेकिन वह ऐसा जल्द ही कर सकते हैं. ध्यान दिला दें कि हरभजन ने अपना आखिरी टेस्ट मैच करीब चार साल पहले अगस्त 2015 में श्रीलंका के खिलाफ गॉल में खेला था, तो उनका आखिरी वनडे  भी करीब चार साल पहले ही दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ था. 

हालांकि, इन  पिछले चार साल में हरभजन ने आईपीएल में चेन्नई सपुर किंग्स के लिए जोर-शोर से क्रिकेट खेली है. इसी के साथ ही पिछले चार साल में भज्जी ने क्रिकेट एक्सपर्ट के रूप में भी अच्छी-खासी पहचान बना ली है. बहरहाल, हरभजन अब एक अलग ही मूड में हैं. 


यह भी पढ़ें:  रॉबिन उथप्पा का खुलासा, विनय कुमार की 'उस मदद' के बाद बेहतर होती गई Mayank Agarwal की बैटिंग

बात यह है कि हरभजन अब इंग्लैंड में जल्द ही एक लीग 'द हंड्रेड' का आयोजन होने जा रहा है. इसके लिए खिलाड़ियों की बोली 20 अक्टूबर को लगेगी. और भारत की तरफ से इस नीलामी में हिस्सा लेने वाले भज्जी  इकलौते खिलाड़ी हैं. भज्जी ने अपना बेस प्राइस एक लाख डॉलर रखा है. भज्जी सहित समूचे विश्व  से इस बोली में हिस्सा लेने वाले कुल 25 ऐसे विदेशी खिलाड़ी हैं, जिन्होंने अपना बेस प्राइस एक लाख डॉलर रखा है. 

यह भी पढ़ें: रोहित शर्मा की शतकीय पारी के फैन हुए लोग, हरभजन बोले,'रोहित 'हिट' है भाई..'

भज्जी ने अपना प्राइस तो रख दिया है, लेकिन बीसीसीआई अपनी नीति के अनुसार सक्रिया क्रिकेटरों को विदेशी लीग में खेलने की अनुमति नहीं दे रहा है. मतलब यह है कि अगर भज्जी को इंग्लैंड में  लीग खेलनी है, तो उन्हें युवराज सिंह की तरह संन्यास का ऐलान करना होगा. और हरभजन ने इसके लिए अपना पूरा मन बना लिया है. यही वजह है कि भज्जी कभी भी संन्यास का ऐलान कर सकते हैं. 

VIDEO:  धोनी के संन्यास पर युवा क्रिकेटरों के विचार सुन लीजिए. 

टिप्पणियां

वैसे भज्जी ने अभी तक अनुमति मांगने के लिए आधिकारिक तौर पर बीसीसीआई के समक्ष आवेदन नहीं किया है. शायद वजह हो कि भज्जी 20 अक्टूबर को होने वाली नीलामी में खुद को किसी फ्रेंचाइजी के खरीदे जाने की पुष्टि का इंतजार कर रहे हों. 


 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... बेटी की शादी कराने के बाद सास को हुआ दामाद से प्यार, एक साल बाद ही दिया बच्चे को जन्म

Advertisement