Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

इसलिए अब 'लर्निंग एप्प' बायजूस लेगा टीम इंडिया की जर्सी पर ओप्पो की जगह

इसलिए अब 'लर्निंग एप्प' बायजूस लेगा टीम इंडिया की जर्सी पर ओप्पो की जगह

एक सूत्र ने कहा कि यह ट्रांसफर तीन पक्षों ओप्पो, बायजूस और BCCI के बीच करार है जिस पर गुरूवार को हस्ताक्षर किए गए.

खास बातें

  • BCCI और ओप्पो के बीच 2017 में हुआ था पांच साल का करार
  • यह ट्रांसफर तीन पक्षों ओप्पो, बायजूस और BCCI के बीच का करार है
  • विवो मोबाइल को पछाड़कर ओप्पो ने हासिल किया था अधिकार
नई दिल्ली:

भारतीय क्रिकेटर (India Cricket team) जल्द ही अपनी किट पर नया लोगो धारण करते नजर आएंगे. अभी चीनी कंपनी ओप्पो को लोगो छपी जर्सी पहनते रहे खिलाड़ी अब बायजूस एप्प के लोगो छपी जर्सी पहनेंगे. इस संबंध में चीन की मोबाइल निर्माता कंपनी ओप्पो ने प्रायोजन अधिकार 'ऑनलाइन टयूटोरियल फर्म बायजूस को सौंप दिए हैं. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) और ओप्पो के बीच 1079 करोड़ रुपए का पांच साल का टीम प्रायोजन करार 2017 में हुआ था. विराट कोहली (Virat Kohli) और उनकी टीम 15 सितंबर से दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ आगामी घरेलू सत्र में नए लोगो के नाम वाली जर्सी पहनेंगे.

...तो बीसीसीआई विंडीज के खिलाफ धोनी की जर्सी के साथ सचिन जैसा ही रवैया अपनाएगा

एक सूत्र ने कहा कि यह ट्रांसफर तीन पक्षों ओप्पो, बायजूस और BCCI के बीच करार है जिस पर वीरवार को हस्ताक्षर किए गए. BCCI के एक वरिष्ठ अधिकारी ने भी नाम न छापने की शर्त पर कहा, 'ओप्पो और बायजूस आपस में कमीज के प्रायोजन के करार की शर्तें तय कर रहे हैं. सीओए को इस बारे में बता दिया गया है कि वे आपस में इस प्रायोजन के ट्रांसफर की बात कर रहे हैं.'

SL vs BAN: सीरीज से पहले श्रीलंका टीम में हुआ बड़ा बदलाव, बाहर हुए कईं खिलाड़ी

मार्च 2017 में ओपो ने 1079 करोड़ रुपये में पांच साल के लिए (मार्च 2022 तक) भारतीय टीम के प्रायोजक का अधिकार हासिल किया था. हालांकि, टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार, कम्पनी ने इस सौदे से अपने हाथ खींच लिए हैं क्योंकि उसका मानना है सौदे की कीमत 'बहुत ही अधिक' है और वो इस कीमत को वहन नहीं कर सकते. रिपोर्ट में यह भी कहा गया कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) को 31 मार्च, 2022 तक उस सौदे की रकम बाईजूस से मिलती रहेगी और उसे किसी प्रकार का नुकसान नहीं होगा. बता दें कि ओपो हर द्विपक्षीय मैच के लिए बीसीसीआई को 4.61 करोड़ और आईसीसी टूर्नामेंट के मैच के लिए 1.56 करोड़ का भुगतान कर रही थी. इससे पहले, स्टार इंडिया हर द्विपक्षीय मैच के लिए बीसीसीआई को 1.92 करोड़ और आईसीसी टूर्नामेंट के मैच के लिए 61 लाख रुपये देती थी.

रविवार को वेस्टइंडीज दौरे के लिए भारतीय टीम की घोषणा की गई.