NDTV Khabar

इस 'बड़ी वजह' से महेंद्र सिंह धोनी को किया गया टी-20 टीम से बाहर

धोनी के समर्थक धोनी को आराम दिए जाने की बात चीएफ सेलेक्टर एमसएक प्रसाद के बयान को मान रहे हैं. प्रसाद ने कहा था कि हम दूसरा विकेटकीपर तलाश रहे हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
इस 'बड़ी वजह' से महेंद्र सिंह धोनी को किया गया टी-20 टीम से बाहर

Ind vs Wi 3rd ODI: महेंद्र सिंह धोनी का यह कैच भी चर्चाओं में है

खास बातें

  1. धोनी के समर्थक कह रहे-आराम दिया गया
  2. रोहित और विराट की सहमति से हुआ फैसला!
  3. विजय हजारे ट्रॉफी में न खेलने की सजा ?
नई दिल्ली: भारत की मेहमान विंडीज टीम के हाथों तीसरे डे-नाइट वनडे मुकाबले में हार (मैच रिपोर्ट) के बीच पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (Dhoni is dropped and not rested) का टी-20 टीम से बाहर किया जाना अभी भी क्रिकेटप्रेमियों के बीच चर्चा का विषय बन हुआ है. एक तबगा यह मान रहा है कि धोनी को आराम दिया गया है, तो अब बीसीसीसीआई के नजदीकी सूत्र से जो खबर आ रही है, उसके अनुसार धोनी को टीम से बाहर किया गया है. और विराट कोहली और रोहित शर्मा की मौजूदगी में ही यह फैसला हुआ. और इसके बाद यह साफ हो गया है कि पिछले करीब दस साल से टी-20 टीम का हिस्सा रहे पूर्व कप्तान को टीम ड्रॉप किया है. और उन्हें आराम नहीं दिया गया है. कम से कम सूत्र तो यही कह रहे हैं. 
धोनी के समर्थक धोनी को आराम दिए जाने की बात चीएफ सेलेक्टर एमसएक प्रसाद के बयान को मान रहे हैं. प्रसाद ने कहा था कि हम दूसरा विकेटकीपर तलाश रहे हैं. इसका मतलब धोनी के समर्थक यह निकाल रहे हैं विकेटकीपर के रूप में धोनी ही अभी भी मैनेजमेंट की पहली पसंद हैं. इसके साथ ही, प्रसाद ने साफ तौर पर यह भी कहा था कि टी-20 टीम में धोनी के लिए दरवाजे बंद नहीं हुए हैं. प्रसाद का बयान साफ कहता है कि धोनी के लिए दरवाजे खुले हैं. 

यह भी पढ़ें:  महेंद्र सिंह धोनी ने बताया, इस कारण उन्‍होंने विराट कोहली के लिए छोड़ी थी कप्‍तानी...

टिप्पणियां
माही के प्रशंसकों का एक तबका यह भी कह रहा है कि धोनी को इस बात की सजा दी गई क्योंकि एमएसके प्रसाद ने बयान देकर उन्हें संदेश दिया था कि उन्हें झारखंड के लिए विजय हजारे ट्रॉफी में खेलना चाहिए. लेकिन धोनी ने विजय हजारे ट्रॉफी में खेलने से इनकार कर दिया था. बहरहाल, अब सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि धोनी को आराम नहीं दिया गया, बल्कि उन्हें टीम से ड्रॉप किया गया. टीम चयन पॉलिसी पर नजर रखने वाले बोर्ड के एक सूत्र ने कहा कि चयनकर्ताओं ने उन्हें आराम नहीं दिया, बल्कि ड्रॉप किया है. और इसके पीछे वजह यह है कि धोनी साल 2020 में खेले जाने वाले टी-20 विश्व कप तक शायद ही क्रिकेट खेलेंगे. ऑस्ट्रेलिया में खेले जाने वाले इस विश्व कप में उनका खेलना मुश्किल है. ऐसे में जब वह इस अहम टूर्नामेंट का हिस्सा नहीं होने जा रहे, तो उन्हें लगातार टी-20 टीम में खिलाने का कोई मतलब नहीं है. और इस पहलू को लेकर टीम मैनेजमेंट और चयनकर्ताओं ने सोच-विचार कर फैसला लिया. 

VIDEO: जानिए कि विशेषज्ञ क्या कह रहे हैं भारत की हार के बारे में

सूत्र ने कहा जब यह फैसला लिया गया, तब रोहित और विराट मीटिंग में मौजूद थे. और बिना इन दोनों मंजूरी के यह फैसला कैसे लिया जा सकता था. एक अन्य सूत्र ने यह भी कहा कि टीम मैनेजमेंट के माध्यम से सेलेक्टरों ने धोनी को सूचित कर दिया था कि अब किसी युवा विकेटकीपर को परखने का समय आ गया है. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement