NDTV Khabar

इसलिए सचिन तेंदुलकर ने नहीं दी अर्जुन को मुंबई टी-20 में खेलने की इजाजत, नीलामी से हटे

जो समस्या अर्जुन के सामने थी, उसे देखते हुए कहा जा सकता है कि सचिन ने बेटे की बाबत बिल्कुल सही फैसला लिया

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
इसलिए सचिन तेंदुलकर ने नहीं दी अर्जुन को मुंबई टी-20 में खेलने की इजाजत, नीलामी से हटे

अर्जुन तेंदुलकर

खास बातें

  1. इंग्लैंड में गेंदबाजी करते देखे गए थे अर्जुन
  2. मुंबई लीग में खेलने को बहुत उत्साहित थे
  3. अजिंक्य रहाणे और सूर्यकुमार यादव 7-7 लाख में बिके
नई दिल्ली: सचिन तेंदुलकर के बेटे और बंयहत्था तेज गेंदबाज अर्जुन तेंदुलकर इस महीने आयोजित होने वाली पहली मुंबई टी-20 लीग में नहीं खेलेंगे. अर्जुन इस लीग में खेलने को लेकर बहुत उत्साहित थे, लेकिन पिता सचिन की सलाह के बाद अर्जुन ने इस लीग में न खेलने का फैसला किया. बता दें कि इस महीने आईपीएल की तर्ज पर 11 से 21 मार्च तक वानखेड़े स्टेडियम में मुंबई लीग का आयोजन होने जा रहा है. स्पोर्ट्स प्रा. लि. और विजक्राफ्ट मिलकर इस लीग का आयोजन कर रहे हैं. सचिन इस लीग के ब्रांड एंबैस्डर हैं. रविवार को ही खिलाड़ियों की बोली लगी थी. इसमें सबसे ज्यादा रकम अजिंक्य रहाणे और सूर्यकुमार यादव को मिली थी. इन दोनों को क्रमश: मुंबई नॉर्थ और मुंबई नॉर्थ ईस्ट ने सात-सात लाख रुपये में खरीदा था. इस टूर्नामेंट में छह टीमें हिस्सा लेंगी. 
 
इस टूर्नामेंट के लिए 900 से भी ज्यादा खिलाड़ियों के नाम फ्रेंचाइचीजियों को भेजे गए हैं. और करीब 200-250 खिलाड़ियों के नामों पर बोली लगी. हर टीम 16-20 खिलाड़ी खरीद सकती है. और टीम का सेलरी पर्स 35 लाख रुपये है. 

टिप्पणियां
बहरहाल अर्जुन तेंदुलकर पर लौटते हैं. कुछ दिन पहले ही अर्जुन को इंग्लैंड में अंग्रेज बल्लेबाजों को नेट पर गेंदबाजी करते हुए देखा गया था. तब मुंबई घरेलू सर्किल में सभी ने यही अनुमान लगाया कि अर्जुन मैच खेलने के लिए इंग्लैंड गए हैं. वैसे अर्जुन इस लीग के खेलने के लिए बहुत ही उतावले थे. लेकिन वह इंग्लैंड में किसी खास मकसद के साथ गए थे. और अभी भी इस मकसद को अंजाम देना बाकी है. यही वजह रही कि फ्रेंचाइजी टीमों को भेजे गए 900 नामों में अर्जुन तेंदुलकर का नाम शामिल ही नहीं किया गया. सूत्रों की मानें, तो अर्जुन को फिटनेस संबंधी कोई भी समस्या नहीं है. वह पूरी तरह फिट हैं

VIDEO: जानिए कुछ दिन पहले सचिन तेंदुलकर ने क्या अपील की. 
सचिन तेंदुलकर ने स्थिति साफ करते हुए कहा कि यह टूर्नामेंट प्रदर्शन करने का मंच है, अपना गेंदबाजी एक्शन सुधारने का नहीं. अर्जुन इंग्लैंड में अपने बॉलिंग एक्शन को दुरुस्त करने पर काम कर रहे हैं. अर्जुन अभी 18 साल के हैं और उन्हें लंबा सफर तय करना है.सचिन ने इसकी सूचना एमसीए अधिकारियों को भी दे दी है. 
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement