NDTV Khabar

घास काट रहा था!..साल भर में बन गया स्टार टेस्ट क्रिकेटर!

किस्मत का सितारा जब बुलंद होता है, तो फिर इतिहास ही रच जाता है. कुछ ऐसा ही इतिहास इस क्रिकेटर के साथ लिखा गया जो देखते ही देखते जमीन से आसमान पर पहुंच गया

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
घास काट रहा था!..साल भर में बन गया स्टार टेस्ट क्रिकेटर!

ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज नॉथन लॉयन (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. तीस साल के हुए कंगारू ऑफ स्पिनर नॉथन लॉयन
  2. शुरू हो रही एशेज में टीम का अहम हिस्सा हैं नॉथन
  3. कुछ ऐसे रातों-रात पलट गई नॉथन की किस्मत!
नई दिल्ली: वास्तविक जिंदगी में इक्का-दुक्का कहानियां ही बॉलीवुड फिल्मों की तरह तेजी से बदल जाती हैं. इस ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर के साथ भी कुछ ऐसा हुआ. जिंदगी ने ऐसा पलटी खाई कि आज तक मुड़कर पीछे नहीं देखा. कंगारू क्रिकेटर और स्टार ऑफ स्पिनर नॉथन लियॉन की किस्मत कुछ ऐसी ही बदली कि वह देखते 'रंक' से राजा बन गए. सोमवार को नॉथन का जन्मदिन है. वह तीस साल के हो गए हैं और वह दो दिन बाद ही शुरू हो रही एशेज सीरीज के लिए कंगारू टीम का बहुत ही अहम हिस्सा हैं.

नॉथन की किस्मत में बड़े बदलाव के बारे में जानने के लिए फ्लैशबैक में चलते हैं. साल 2011 से करीब एक साल पहले की बात है. तब नॉथन क्रिकेट से दूर रहकर क्यूरेटर (पिच बनाने वाला) का काम कर रहे थे. यही काम उन्हें कैनबरा से एडिलेड ले आया और वह साल 2010 के आस-पास बतौर क्यूरेटर एडिलेड ओवल ग्राउंड स्टॉफ का हिस्सा बन गए. इसी मैदान पर वह पिच बनाते और घास काटते हुए नेट पर अभ्यास का समय भी निकाल लेते थे. इसी दौरान रेडबैक्स बिग बैश के कोच डॉरेन बैरी ने उनकी प्रतिभा को पहचानकर उनकी हौसलाअफजाई की. दक्षिण ऑस्ट्रेलिया के लिए टी-20 क्रिकेट खेलते हुए उन्होंने अपनी बॉलिंग से सभी को प्रभावित किया. इस प्रदर्शन से उनके प्रथण श्रेणी करियर का आगाज हुआ. इसके बाद उनका करियर किसी रॉकेट की तरह तेजी से ऊपर चला गया. 

चुनी गई ऑस्ट्रेलियाई टीम को देख भड़के दिग्गज क्रिकेटर 

टिप्पणियां
पहला फर्स्ट क्लास मैच खेलने के सात महीने के भीतर ही जुलाई साल 2011 में नॉथन लियॉन ऑस्ट्रेलिया टेस्ट टीम का हिस्सा बन गए. किस्मत लॉयन के ऊपर ऐसी ऐसी मेहरबान रही कि गाले में मेजबान श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट करियर की पहली ही गेंद पर नॉथन ने कुमार संगाकारा जैसे बल्लेबाज का विकेट लेते हुए पारी में पांच विकेट लिए. इसके बाद जो सिलसिला शुरू हुआ, फिर तो मानो थमा ही नहीं. साल 2015 आते-आते नॉथन लियॉन, हग ट्रंबल को पछाड़ते हुए ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट इतिहास के सबसे कामयाब ऑफ स्पिनर बन गए. चंद ही सालों में नॉथन 69 टेस्ट मैचों में 269 विकेट चटका चुके हैं.

VIDEO : टीम इंडिया के बारे में यह अहम राय है गावस्कर की
अब जबकि दो तीन बाद ही एशेज की जंग शुरू हो रही है, तो एक बार फिर से कंगारू टीम नॉथन लियॉन से करिश्माई प्रदर्शन की उम्मीद कर रही है. उम्मीद है कि नॉथन का तीसवां जन्मदिन उनके लिए और कामयाबी लेकर आएगा. विश यू वेरी-वेरी हैप्पी बर्थ-डे नॉथन लियॉन.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement