पाकिस्तान के लिए खेलने वाला पहला सिख बनना चाहता है यह तेज गेंदबाज

महिंदर पाल ने कहा कि मैंने आखिरी बार ग्रेड-2 क्रिकेटर साल 2017 में खेली थी, लेकिन दुर्भाग्यवश डिपार्टमेंट क्रिकेट खेल रहे बहुत से खिलाड़ियो को वर्तमान टीमों के साथ करार नहीं मिला है. इनमें से कुछ ही खिलाड़ियों को वर्तमान घरेलू टीमों से अनुबंध मिला है.

पाकिस्तान के लिए खेलने वाला पहला सिख बनना चाहता है यह तेज गेंदबाज

पाकिस्तान की घरेलू क्रिकेट में ग्रेड 2 क्रिकेट खेल रहे महिंदर पाल सिंह

नई दिल्ली:

इस समय पाकिस्तान में सरदार तेज गेंदबाज के चर्चे जोर-शोर से हो रहे हैं, जो भारत के खिलाफ बेहतर करना चाहता है.  इस गेंदबाज का नाम महिंदर पाल सिंह है, जो पाकिस्तान  के लिए खेलने वाले पहले सरदार खिलाड़ी बनना चाहते हैं. महिंदर ने कहा कि पाकिस्तान के लिए खेलना मेरे लिए बड़ी बात होगी. अगर आप किसी भी क्रिकेटर से पूछोगे, तो वह उच्च दबाव वाले मैच खेलना चाहता है. विश्व स्तर पर बड़े मैच, जिन्हें पूरी दुनिया देख रही हो. भारत और पाकिस्तान का मुकाबला हमेशा ही बड़ा मंच होता है और भविष्य में मैं इस मंच का हिस्सा बनना पसंद करूंगा.

इस युवा पाकिस्तानी महिंदर पाल ने कहा कि  भारत के पंजाब में मेरे रिश्तेदार हैं. मेरी आंटी बाकी दूसरे रिश्तेदारों के साथ वहां रहती हैं, जिनसे मैं नियमित अंतराल पर मिलता रहता हूं. पाक वेबसाइट से इस गेंदबाज ने कहा कि साथ ही भारत में मेरे कुछ प्रशंसक भी हैं. खासतौर पर पंजाब में, जो मुझसे कहते रहते हैं कि अगर मैं पाकिस्तान के लिए खेलता हूं, तो वह मेरा समर्थन करेंगे.  वैसे इस सरदार गेंदबाज को हाल ही में  पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड की बदली हुई नीति के बाद खासा नुकसान सहना पड़ा. है.  पीसीबी ने हाल ही में घरेलू ढांचे में बदलाव किया है. और इसके कारण करीब 400 क्रिकेटरों को अपनी नौकरी या आजीविका गंवानी पड़ी है. 

महिंदर पाल ने कहा कि मैंने आखिरी बार ग्रेड-2 क्रिकेटर साल 2017 में खेली थी, लेकिन दुर्भाग्यवश डिपार्टमेंट क्रिकेट खेल रहे बहुत से खिलाड़ियो को वर्तमान टीमों के साथ करार नहीं मिला है. इनमें से कुछ ही खिलाड़ियों को वर्तमान घरेलू टीमों से अनुबंध मिला है. उन्होंने कहा कि अब जबकि मैं  जिला स्तर पर या ग्रेड-2 क्रिकेट में यदा-कदा ही अपने विभाग के लिए खेला था, तो वर्तमान हालात में में मेरा किसी घरेलू टीम से जुड़ना मुश्किल था. ज्यादातर समय मुझे सेशन के आखिर में यह देखने के लिए बुलावा आया कि मैं क्या कर सकता था. मैं अंडर-16, 17 या अंडर-19 सिस्टम से नहीं आया था, तो लोग मेरे बारे में ज्यादा नहीं जानते थे. यही कारण रहा कि मुझे वर्तमान घरेलू सिस्टम में किसी टीम के लिए अनुबंध नहीं मिला.

VIDEO: कुछ दिन पहले विराट ने करियर को लेकर बड़ी बात कही थी. ​

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com