NDTV Khabar

इस बार 7 नंबर महेंद्र सिंह धोनी को दे गया अभी तक का 'सबसे बड़ा सम्मान'!

जब बार-बार इस तरह की बातें होती हैं, तो तर्कशास्त्री भी एक बार सोच में पड़ जाते हैं क्योंकि तथ्यों को आप नहीं नकार सकते

213 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
इस बार 7 नंबर महेंद्र सिंह धोनी को दे गया अभी तक का 'सबसे बड़ा सम्मान'!

सात नंबर की जर्सी में महेद्र सिंह धोनी

खास बातें

  1. 7 का सिकंदर!
  2. सत्ते का साथ, धोनी हर परीक्षा में पास!
  3. अब 7 आया..फिर बहार लाया!
नई दिल्ली: पूर्व भारतीय कप्तान और टीम इंडिया के विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी और सात नंबर के रिश्ते के बीच कितना गहरा नाता है, यह अब इस महान खिलाड़ी के प्रशंसक ही नहीं, बल्कि यह अब दुनिया भर के क्रिकेटप्रेमी भी बहुत ही अच्छी तरह से जानते हैं. धोनी ने खुलकर 7 अंक के साथ अपने रिश्ते को पूरी दुनिया के सामने बयां किया है.
 
धोनी अंकशास्त्र में बहुत विश्वास करते हैं. और उनका हमेशा से यह मानना रहा है कि यह अंक उनके लिए बहुत ही भाग्यशाली साबित हुआ. और अगर माही ऐसा मानते हैं, तो इसके पीछे उनके पास बहुत ही ठोस वजह है. और यह वजह फिर से सामने आई है. 
  शायद यही वजह है कि धोनी हर काम के लिए 7 अंक को वरीयता प्रदान करते हैं. फिर चाहे धोनी के कारों के नंबर की सीरीज हो, या फिर कोई और बात. बात महेंद्र सिंह धोनी की जन्मतिथि के साथ ही शुरू हो जाती है. धोनी की जन्मतिथि है 7/7/1981. धोनी के अंकशास्त्र में बहुत ही ज्यादा भरोसे का सबूत यह है कि आपको भारतीय स्टंपर की जर्सी और गले में पड़े लॉकेट पर भी सात का अंक साफ तौर पर दिख जाएगा. लेकिन मानो सिर्फ यही ही काफी नहीं है.

टिप्पणियां
यह भी पड़ें: VIDEO: रजनीकांत बने एमएस धोनी, हरभजन सिंह से चश्मा लगाकर बोले- क्या रे...
  सात नंबर आपको धोनी की करीब 25 बाइक और करीब दस से पंद्रह के बीच करीब-करीब सभी चौपहिया वाहनों पर दिखाई पड़ेगा. सात का सुरूर माही पर ऐसा चढ़ा कि साल 2016 में धोनी ने अपने दोस्त, मैनेजर और बिजेनेस पार्टनर के साथ मिलकर 'सेवेन' नाम का ब्रांड लॉन्च किया. इसके अलावा माही ने देश-विदेश में 'फिटसेवन' के नाम से देश-विदेश में जिम की चेन खोली है. और अब 2 अप्रैल यानि सोमवार को लकी सेवन का असर धोनी पर साफ तौर पर दिखाई पड़ा. 

VIDEO: महेंद्र सिंह धोनी एक बार फिर से चेन्नई सुपर किंग्स के साथ जुड़कर पीली जर्सी में दिखाई पड़ेंगे
बता दें कि आज के दिन ही भारत ने साल 2011 में विश्व कप जीता था. और विश्व कप की सातवीं सालगिरह के मौके पर पूर्व भारतीय कप्तान ने राष्ट्रपति भवन में देश का तीसरा सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म भूषण प्राप्त किया. ठीक सातवीं सालगिरह के दिन. आप आप खुद ही देखिए कि सात का अंक माही के लिए कितना ज्यादा भाग्यशाली है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement