NDTV Khabar

आईसीसी के एलीट क्रिकेट अंपायरों के पैनल में केवल एक भारतीय अंपायर ही बना सका जगह...

भारत में क्रिकेट धर्म की तरह माना जाता है और सबसे अधिक क्रिकेट फैन यहीं रहते हैं. क्रिकेट में बीसीसीआई की तूती बोलती है और आईसीसी भी उसके सामने कई बार बेबस नजर आती है, लेकिन एक मामले में भारत काफी पीछे है.

127 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
आईसीसी के एलीट क्रिकेट अंपायरों के पैनल में केवल एक भारतीय अंपायर ही बना सका जगह...

सुंदरम रवि एकमात्र भारतीय अंपायर हैं, जो आईसीसी के एलीट पैनल में शामिल किए गए हैं...

खास बातें

  1. आईसीसी ने 2017-18 सत्र के लिए अपने लाइन अप में बदलाव नहीं किया है
  2. पाकिस्तान के अंपायर अलीम दार भी पैनल में शामिल हैं
  3. आईसीसी ने सात मैच रैफरियों की सूची भी जारी की है
दुबई: भारत में क्रिकेट धर्म की तरह माना जाता है और सबसे अधिक क्रिकेट फैन यहीं रहते हैं. क्रिकेट में बीसीसीआई की तूती बोलती है और आईसीसी भी उसके सामने कई बार बेबस नजर आती है, लेकिन एक मामले में भारत काफी पीछे है. जब बात आईसीसी के एलीट पैनल में शामिल अंपायरों की आती है, तो देश से केवल एक ही नमा उभरता है. वह है अंपायर सुंदरम रवि का, जो इस साल भी इसमें बने हुए हैं. विश्व क्रिकेट संस्था ने 2017-18 सत्र के लिए अपने लाइन अप में कोई बदलाव नहीं किया है और रवि को बरकरार रखा है.

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने सालाना समीक्षा और चयन प्रक्रिया के बाद एलीट पैनल मैच रैफरियों के उसी ग्रुप को बरकरार रखा है. यह फैसला आईसीसी अंपायर चयन पैनल द्वारा लिया गया, जिसमें चेयरमैन और आईसीसी के क्रिकेट महाप्रबंधक ज्योफ अलाडर्सि, आईसीसी मुख्य मैच रैफरी रंजन मदुगले, इंग्लैंड के पूर्व खिलाड़ी, कोच, अंपायर और अब कमेंटेटर डेविड लॉयड तथा भारत के पूर्व कप्तान और अंतरराष्ट्रीय अंपायर श्रीनिवास वेंकटराघवन शामिल थे.

रवि के अलावा एलीट पैनल में शामिल अन्य अंपायर अलीम दार, कुमार धर्मसेना, मराइस इरासमस, क्रिस गाफाने, इयान गोल्ड, रिचर्ड इलिंगवर्थ, रिचर्ड केटलबोरो, नाइजेल लोंग, ब्रुस ओक्सेनफोर्ड, पॉल रेफेल और रॉड टकर हैं.

टिप्पणियां
सात मैच रैफरी डेविस बून, क्रिस ब्रॉड, जेफ क्रो, रंजन मदुगले, एंडी पाइक्राफ्ट, जवागल श्रीनाथ और रिची रिचर्डसन आगामी सत्र में रैफरी की भूमिका अदा करेंगे.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement