NDTV Khabar

'इस वजह' से शेन वॉर्न राजस्थान रॉयल्स से जुड़ने को हुए राजी!

ऑस्ट्रेलियाई महान स्पिनर शेन वॉर्न फिर से अपनी पुरानी टीम के साथ जुड़ सकते हैं. हालांकि वह इसके लिए राजी नहीं थे, लेकिन...

180 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
'इस वजह' से शेन वॉर्न राजस्थान रॉयल्स से जुड़ने को हुए राजी!

शेन वॉर्न का फाइल फोटो

खास बातें

  1. आधिकारिक रूप से ऐलान जल्द करेंगे दिग्गज स्पिनर
  2. साल 2008 में राजस्थान को जिताया था खिताब
  3. साल 2011 के बाद किया संन्यास का ऐलान
नई दिल्ली: सभी आठों टीमें आईपीएल 2018 की तैयारी में जी-जान से जुटी हुई हैं. दो साल के बैन के बाद राजस्थान रॉयल्स की भी इस सीजन में वापसी हो रही है. टीम के साथ-साथ एक और नाम की टीम में वापसी होने की अटकलें जोरों पर हैं. ऐसे संकेत आ रहे हैं कि शेन वॉर्न एक बार फिर से आईपीएल से जुड़ सकते हैं. आईपीएल के सबसे पहले सीजन यानी 2008 में जब टूर्नामेंट की शुरुआत हुई थी, तो राजस्थान रॉयल्स टीम के कप्तान शेन वॉर्न ही थे. और उनकी कप्तानी में राजस्थान ने खिताब जीता था.  
 
अब वॉर्न के टीम के साथ जुड़ने की खबर सुर्खियां बन रही है. वॉर्न ने भी ट्वीट कर वापसी की खबर को हवा दे दी है. वॉर्न ने अपने ट्वीट में लिखा 'मैं इस हफ़्ते जल्द एक बड़ा एलान करने वाला हूं और इसको लेकर मैं काफी उत्साहित हूं. जी हां ये आईपीए 2018 से जुड़ा है.'

यह भी पढ़ें : कुछ ऐसे' शाहरुख खान ने आईपीएल नीलामी में मारी अपने पैरों पर कुल्हाड़ी!

ध्यान दिला दें कि राजस्थान रॉयल्स ने इस साल ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ को कप्तान बनाया है. इसके अलावा टीम ने ऑक्शन में सबसे बड़ी बोली लगाते हुए इंग्लैंड के बेन स्टोक्स को 12.5 करोड़, तो भारत के जयदेव उनादकट को 11.50 करोड़ में टीम का हिस्सा बनाया.  फिर से वॉर्न की बात करें, तो ऑस्ट्रेलिया के पूर्व लेग स्पिनर ने आखिरी बार 2011 आईपीएल में खेला था. इसके बाद उन्होंने संन्यास का एलान कर दिया. इससे पहले वॉर्न ने कम अनुभव वाले खिलाड़ियों की टीम राजस्थान को 2008 में चैंपियन बनाया. वॉर्न एक कप्तान के तौर पर आईपीएल में अच्छे रहे, लेकिन 2008 सीजन के बाद उनकी टीम लगातार अच्छा प्रदर्शन करने में सफल नहीं रही.

VIDEO : राजस्थान रॉयल्स ने ही इंग्लैंड के बेन स्टोक्स को 12.50 करोड़ रुपये में खरीदा.
सूत्रों की मानें, तो दरअसल शेन वॉर्न राजस्थान से जुड़ना नहीं चाहते थे. लेकिन टीम के कोऑनर मनोज बडाले ने वार्न को अधिकार विशेष और अच्छी फीस के वादे के साथ उन्हें खुद से फिर से जोड़ने में कामयाबी हासिल कर ली.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement