Khabar logo, NDTV Khabar, NDTV India

इस वर्ल्डकप में इन पांच खिलाड़ियों पर रहेगी नजर

ईमेल करें
टिप्पणियां
इस वर्ल्डकप में इन पांच खिलाड़ियों पर रहेगी नजर

फाइल फोटो

नई दिल्ली: वर्ल्ड कप 2015 के लिए सभी टीमों ने अपने आख़िरी 15 सिपाहियों के नाम का एलान कर दिया है। अब देखना होगा कि इनमें से कौन अपनी सेना को जीत दिला कर इतिहास के पन्नों में अपना नाम दर्ज़ करवाता है। वर्ल्ड कप में 14 टीमें शामिल हैं और 70 खिलाड़ियों के फ़ौज में से एक नज़र डालते हैं टॉप पांच खिलाड़ी पर।

क्रिस गेल (वेस्ट इंडीज़)

वेस्ट इंडीज़ के क्रिस गेल के लिए क्रिकेट का सभी फ़ॉमैर्ट एक जैसा है। गेल जब बल्लेबाज़ी करने उतरते हैं तो गेंदबाज़ों के पसीने छूट जाते हैं। 2011 वर्ल्ड कप में गेल अच्छे फ़ॉर्म में नही थे और उन्होंने 5 मैच में 170 रन ही बनाए। ऐसे में वो इस बार इसकी भरपाई करने की कोशिश करेंगे।

इस साल गेल शानदार फ़ॉर्म में दिखाई दे रहे हैं। गेल की धमाकेदार बल्लेबाज़ी का करिश्मा हाल ही में दक्षिण अफ़्रीका के ख़िलाफ़ टी-20 मैच में देखने को मिला। जहां उन्होंने 41 गेंद पर 90 रन की पारी खेली। ज़ाहिर है गेल ने अपनी तूफ़ानी पारी से वर्ल्ड कप के दावेदारों को चेतावनी दे दिया कि कोई वेस्ट इंडीज़ की टीम को हल्के में लेने की भूल ना करे।


ग्लेन मैक्सवेल (ऑस्ट्रेलिया)-

वहीं ग्लेन मैक्सवेल को औसत फ़ॉर्म के बावजूद ऑस्ट्रेलियाई वर्ल्ड कप के आख़िरी 15 खिलाड़ियों में जगह मिल गई है। मैक्सवेल पिछले कुछ समय से ख़राब फ़ॉर्म में थे लेकिन चयनकर्ताओं ने उनपर भरोसा जताया है।

बिग शो के नाम से मशहूर मैक्सवेल ने चयनकर्ताओं को निराश नहीं किया। बिग बैश लीग में शनिवार को 44 गेंद पर 66 रन की पारी खेल कर मैक्सवेल ने फ़ॉर्म में वापसी के संकेत दे दिए। वैसे 36 वनडे में बिग हिटर मैक्सवेल के नाम 891 रन है।

विराट कोहली (भारत)

ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ टेस्ट में विराट कोहली के बल्ले से 4 टेस्ट की 8 पारियों में 692 रन निकले। ये आकंड़े इतना बताने के लिए काफ़ी है कि कोहली ज़ोरदार फ़ॉर्म में है।

टेस्ट से पहले श्रीलंका के ख़िलाफ़ वनडे सीरीज़ में भी विराट कप्तानी के साथ-साथ बल्ले का भी कमाल दिखा चुके हैं। कोहली ने सीरीज़ के 5 मैचों में क़रीब 105 की स्ट्राइक रेट से सबसे ज़्यादा 329 रन बटोरे।
 
वैसे कोहली को 2011 वर्ल्ड कप खेलने का अनुभव भी है। विराट ने पिछले वर्ल्ड कप के 9 मैचों में 282 रन बनाए जिसमें एक शतक और एक अर्द्धशतकीय पारी शामिल रही।

विराट के आक्रामक खेल को देख कर कई जानकार उनकी तुलना सर विवियन रिचर्डसन और सचिन तेंदुलकर से करते रहे हैं। 26 साल के कोहली ने भी जानकारों के भरोसे पर खरे उतरने की कोशिश की है। ऐसे में वर्ल्ड कप में भी उनका जलवा देखने को मिलेगा।

कोरी एंडरसन (न्यूज़ीलैंड)

कोरी एंडरसन ने अब तक सिर्फ़ 19 वनडे खेले हैं...और उनके खाते में 558 रन हैं। लेकिन एंडरसन एक मैच विनर खिलाड़ी हैं ये सभी जानते हैं। वनडे में सबसे तेज़ 36 गेंद पर शतक बनाने का रिकॉर्ड 24 साल के इस बल्लेबाज़ के नाम है।

एंडरसन ने वेस्ट इंडीज़ के ख़िलाफ़ पिछले साल एक जनवरी को वनडे में सबसे तेज़ शतक बनाया था लेकिन उसके बाद वो कोई बड़ी पारी नहीं खेल सके।

हालांकि कुछ एक मैचों में उनकी भूमिका मैच विनर की ज़रूर रही। ऐसे में वर्ल्ड कप में भी फ़ैन्स को एंडरसन की तूफ़ानी बल्लेबाज़ी देखने को मिल सकती है।

रोहित शर्मा (भारत)

रोहित शर्मा पहली बार वर्ल्ड कप में खेलेंगे लेकिन उनके हुनर को देखते हुए किसी को ये शक़ नहीं होगा कि वो धमाकेदार प्रदर्शन करेंगे। पिछले साल दो बार रोहित ने वनडे में 200 का आंकड़ा पार कर सबको प्रभावित किया। वर्ल्ड कप में भी उनसे बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद होगी।

हालांकि ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ टेस्ट सीरीज़ में रोहित पूरी तरह फ़्लॉप रहे। 3 टेस्ट मैच में रोहित सिर्फ़ 173 रन बटोर सके।
ज़ाहिर है 27 साल के रोहित टेस्ट की नाकामी को भूल कर वनडे में नई शुरुआत करना चाहेंगे। 126 वनडे में रोहित के नाम 3752 रन हैं जिसमें 5 शतक और 23 अर्द्धशतक शामिल है।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement