यह ख़बर 14 जुलाई, 2013 को प्रकाशित हुई थी

ब्रॉड पर टिप्पणियां करने वाला ट्विटर अकाउंट मेरा नहीं : गिलक्रिस्ट

ब्रॉड पर टिप्पणियां करने वाला ट्विटर अकाउंट मेरा नहीं : गिलक्रिस्ट

खास बातें

  • एडम गिलक्रिस्ट ने कहा है कि पहले एशेज टेस्ट के दौरान आउट होने के बावजूद मैदान से बाहर नहीं जाने के स्टुअर्ट ब्रॉड के विवादास्पद फैसले पर उनके हवाले से की गई टिप्पणियां फर्जी ट्विटर खाते से की गई है।
नाटिंघम:

एडम गिलक्रिस्ट ने कहा है कि पहले एशेज टेस्ट के दौरान आउट होने के बावजूद मैदान से बाहर नहीं जाने के स्टुअर्ट ब्रॉड के विवादास्पद फैसले पर उनके हवाले से की गई टिप्पणियां फर्जी ट्विटर खाते से की गई है।

गिलक्रिस्ट ने एक बयान में कहा, ‘मुझे पता चला है कि मेरे नाम से एक फर्जी ट्विटर अकाउंट से स्टुअर्ट ब्रॉड के कैच के बारे में बयान दिए जा रहे हैं।’

उन्होंने कहा, ‘मैं चिंतित हूं कि कुछ विदेशी मीडिया संगठनों ने मेरे हवाले से ये बयान जारी किए। मैं ट्विटर पर नहीं हूं और मैंने ब्रॉड के बारे में ऐसा कोई बयान नहीं दिया है।’

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

इंग्लैंड के ब्रॉड उस समय 37 रन पर थे जब ऑस्ट्रेलिया के युवा स्पिनर एस्टोन एगर की गेंद पर पहली स्लिप में माइकल क्लार्क ने उनका कैच लपका। ऑस्ट्रेलिया ने अपील की, लेकिन पाकिस्तानी अंपायर अलीम दार ने बल्लेबाज के पक्ष में फैसला दिया।

ऑस्ट्रेलिया उस समय तक दोनों रिव्यू ले चुका था लिहाजा उसके पास कोई चारा नहीं था।