NDTV Khabar

पाकिस्‍तानी क्रिकेटर जावेद मियांदाद और शाहिद अफरीदी के बीच तूतू-मैंमैं

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पाकिस्‍तानी क्रिकेटर जावेद मियांदाद और शाहिद अफरीदी के बीच तूतू-मैंमैं

जावेद मियांदाद और शाहिद अफरीदी (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. शाहिद अफरीदी की फेयरवेल मैच की डिमांड से शुरू हुआ विवाद
  2. मियांदाद बोले, धन के पीछे दौड़ने वाले क्रिकेट हैं अफरीदी
  3. अफरीदी का जवाब, आखिरकार सब्र की भी एक सीमा होती है

क्रिकेटप्रेमियों को पाकिस्‍तान के दो मशहूर क्रिकेटर रमीज राजा और मो. यूसुफ (यूसुफ योहाना) के बीच हुई जोरदार तूतू-मैंमैं याद होगी. अब इस कड़ी में नया नाम पाकिस्‍तान के पूर्व बल्‍लेबाज जावेद मियांदाद और हरफनमौला शाहिद अफरीदी का जुड़ गया है. जहां मियांदाद ने अफरीदी को धन के पीछे दौड़ने वाला क्रिकेटर बताया है, वहीं अफरीदी ने कहा है कि मैं मियांदाद के कमेंट्स की लंबे समय से अनदेखी कर रहा था लेकिन अब वे अपनी सीमाएं लांघते जा रहे हैं. उनका व्‍यवहार कुछ ऐसा था कि मुझे अपनी प्रतिक्रिया देनी ही पड़ी.

दरअसल इन दोनों क्रिकेटरों के विवाद की शुरुआत शाहिद अफरीदी द्वारा पाकिस्‍तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) से अपने लिए फेयरवेल मैच मांगने के बाद हुई. एक चैनल से बातचीत में अफरीदी ने पीसीबी से आग्रह किया था कि वह उनके लिए फेयरवेल मैच आयोजित करे ताकि वे (अफरीदी ) सम्‍मान के साथ इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कह सके. शाहिद अफरीदी इस समय टेस्‍ट और वनडे क्रिकेट से संन्‍यास ले चुके हैं और केवल टी20 मैच खेल रहे हैं. फिट नहीं होने के कारण अफरीदी इस समय पाकिस्‍तान की टी20 टीम से भी बाहर हैं.(पढें, रमीज राजा और मोहम्मद यूसुफ ने एक-दूसरे के खिलाफ कीं आपत्तिजनक टिप्पणियां)

मियांदाद और अफरीदी की यह तनातनी नई नहीं है
अफरीदी की यह मांग पाकिस्‍तान के पूर्व कप्‍तान और कोच जावेद मियांदाद को नागवार गुजरी. उन्‍होंने दो टूक अंदाज में कहा कि धन के लालच के कारण ही अफरीदी इस मैच की डिमांड कर रहे हैं. मियांदाद की अफरीदी के साथ नाराजगी कोई नई नहीं हैं. अफरीदी ने इसी वर्ष एक बार कहा था कि पाकिस्तानी क्रिकेटरों को पाकिस्तान से कहीं ज्यादा प्‍यार भारतीय दर्शकों से मिलता है तो मियांदाद उन पर बिगड़ पड़े थे. मियांदाद ने कहा कि इस तरह के बयान देने वाले खिलाड़ियों को खुद पर 'शर्म आनी' चाहिए.


टिप्पणियां

अफरीदी बोले थे, मियांदाद को यह शोभा नहीं देता
मियांदाद की इस प्रतिक्रिया पर 'बूम-बूम अफरीदी' को भी गुस्‍सा आ गया. एक कार्यक्रम में उन्‍होंने कहा कि मेरे लिए नहीं, बल्कि मियांदाद के लिए धन हमेशा बड़ा मुद्दा रहा है.  उन्‍होंने कहा कि मियांदाद जैसे बड़े कद वाले खिलाड़ी को यह शोभा नहीं देता कि वे इस तरह की ओछी बयानबाजी करें.

कहा- खेद है कि सीनियर के खिलाफ ऐसा कहना पड़ा लेकिन..
यही नहीं, अफरीदी ने बाद में ट्वीट के जरिये भी जावेद मियांदाद पर निशाना साधा. उन्‍होंने कहा कि मैं लंबे समय से बर्दाश्‍त कर रहा था लेकिन किसी के सब्र की भी सीमा होती है. जावेद क्रिकेट के बड़े खिलाड़ी हैं लेकिन पिछले काफी समय से मेरे खिलाफ टीवी पर मोर्चा संभाले हुए थे. उन्‍होंने कहा कि मुझे खेद है कि मैंने अपने एक सीनियर के खिलाफ इस तरह रिएक्‍ट किया, लेकिन उनके व्‍यवहार पर मुझे ऐसा करना पड़ा.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement