NDTV Khabar

तेज गेंदबाज उमेश यादव ने तूफानी अंदाज में बैटिंग कर मचाया तहलका, जड़ा शानदार शतक

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
तेज गेंदबाज उमेश यादव ने तूफानी अंदाज में बैटिंग कर मचाया तहलका, जड़ा शानदार शतक

उमेश यादव (फाइल फोटो)

भारतीय क्रिकेट के घरेलू सत्र के दूसरे दिन ही एक ऐसा कारनामा हुआ, जिसकी उम्मीद क्रिकेट के दीवानों को तो दूर, खिलाड़ियों को भी कम ही रहती है। भारतीय क्रिकेट टीम के तेज़ गेंदबाज उमेश यादव ने शुक्रवार को विदर्भ की ओर से ओडिशा के खिलाफ खेलते हुए 128 रनों की सात चौकों और सात छक्कों से सजी शानदार नाबाद पारी खेली, जिसकी बदौलत विदर्भ ने 467 रनों का पहाड़ खड़ा कर दिया।

यह पारी, जिसकी बदौलत उमेश यादव ट्विटर पर भी ट्रेंड करने लगे, इसलिए खास है, क्योंकि इससे पहले उन्होंने अपने फर्स्ट क्लास करियर के दौरान कभी कोई शतक नहीं लगाया था। उनके नाम एक अर्द्धशतक ही इससे पहले सर्वाधिक निजी स्कोर के रूप में दर्ज था। उमेश ने अब तक कुल 44 फर्स्ट क्लास मैचों में 12.25 की औसत से सिर्फ 380 रन बनाए हैं। यहां तक कि 50 वन-डे मैचों में भी वह केवल 46 रन ही बना पाए हैं, जिससे उनकी बैटिंग क्षमता का अंदाज़ा लगाना कतई मुश्किल नहीं रह जाता है।

यह पारी घरेलू क्रिकेट की पोल खोलने वाली भी है, जो आपको आपके गेंदबाजी स्तर के बारे में भी साफ-साफ बता रही है। दूसरी ओर, यहां शतक बनाने वाले बल्लेबाज अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में एक-एक रन के लिए भी जूझते दिखाई देते हैं।


टिप्पणियां

हालांकि इतना सब होने के बाद भी शुक्रवार को तो उमेश ने अपने नाम लिखवा ही लिया। उमेश के अलावा जहां सत्र के पहले दिन विस्फोटक वीरेंद्र सहवाग ने 92 रनों की पारी खेलकर फॉर्म में वापसी का संकेत दिया था, वहीं शुक्रवार को ही विदर्भ की ओर से ही डेब्यू मैच खेल रहे आदित्य शनवारे ने भी शानदार 119 रन बनाकर अपने बल्लेबाजी कौशल का प्रदर्शन किया।

संघर्षपूर्ण पारी
विदर्भ क्रिकेट स्टेडियम नागपुर में खेले जा रहे इस मैच में विदर्भ की रणजी टीम ने ओडिशा के सामने पहली पारी में 467 रन का विशाल स्कोर खड़ा कर दिया। शुक्रवार को विदर्भ ने अपने पहले दिन के स्कोर छह विकेट पर 256 रन से आगे खेलना शुरू किया, लेकिन उसका सातवां विकेट 279 रन पर ही गिर गया। इसके बाद बैटिंग करने आए तेज गेंदबाज उमेश यादव ने तूफानी अंदाज में बैटिंग शुरू की। उन्होंने रवि जांगिड़ के साथ 14 रन की साझेदारी की थी कि टीम का आठवां विकेट 293 रन के स्कोर पर ही गिर गया।
 


यादव ने जड़े 7 चौके और 7 छक्के
आठ विकेट गिर जाने पर भी यादव ने एक छोर से आक्रामक बैटिंग जारी रखी और और गेंदबाज अक्षय वखारे के साथ 102 रनों की साझेदारी करके टीम का स्कोर 9 विकेट पर 395 तक पहुंचा दिया। वखारे ने 34 रन बनाए। इसके बाद यादव ने रविकुमार ठाकुर के साथ मोर्चा संभाला और शानदार शतक लगाकर टीम का स्कोर 467 तक ले गए। उन्होंने ठाकुर के साथ भी 72 रन की साझेदारी की। यादव 128 रन बनाकर नाबाद रहे, जिसमें 7 चौके और 7 छक्के शामिल थे। इसके लिए उन्होंने महज 119 गेंदें खेलीं।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement