NDTV Khabar

कुंबले के साथ विवाद की खबरों पर कोहली ने तोड़ी चुप्‍पी, कहा - उनके फैसले का सम्‍मान करता हूं

कप्तान ने वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले वनडे की पूर्व संध्या पर कहा, 'निश्चित रूप से अनिल भाई ने अपने विचार व्यक्त किये हैं और उन्होंने पद से हटने का फैसला किया और हम उनके इस फैसले का सम्मान करेंगे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कुंबले के साथ विवाद की खबरों पर कोहली ने तोड़ी चुप्‍पी, कहा - उनके फैसले का सम्‍मान करता हूं

विवाद की खबरों के बीच कुंबले ने टीम इंडिया के कोच पद से इस्‍तीफा दे दिया है

खास बातें

  1. 'मेरे लिए सबसे अहम ड्रेसिंग रूम की गोपनीयता को बरकरार रखना है'
  2. कोहली को हालांकि लगता है कि कुंबले की अपनी राय है
  3. 'उनका अपना पक्ष था और हम सभी उनके फैसले का सम्मान करते हैं'
पोर्ट ऑफ स्पेन: विराट कोहली ने गुरुवार को कहा कि वह कभी भी ड्रेसिंग रूम की जानकारी का खुलासा नहीं करेंगे. उन्होंने इस्तीफा दे चुके कोच अनिल कुंबले के उस बयान का जिक्र करते हुए बात की जिसमें उन्होंने कहा था कि उनके बीच रिश्ते 'अस्थिर' हो गये थे. कोहली ने इस विवाद पर पहली बार खुलकर बोला है. भारतीय कप्तान के साथ मतभेदों के कारण दो दिन पहले कुंबले ने अपने पद से इस्तीफा देने का फैसला किया था. कोहली ने कहा, 'मैं कुंबले के इस्तीफा देने के फैसले का सम्मान करता हूं' और साथ ही कहा कि बतौर खिलाड़ी वह उनका काफी सम्मान करते हैं.

कप्तान ने वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले वनडे की पूर्व संध्या पर कहा, 'निश्चित रूप से अनिल भाई ने अपने विचार व्यक्त किये हैं और उन्होंने पद से हटने का फैसला किया और हम उनके इस फैसले का सम्मान करेंगे. यह ऐसी चीज है जो टूर्नामेंट के बाद हुई है.' कोहली को हालांकि लगता है कि कुंबले की अपनी राय है और उन्होंने थोड़ा घुमाकर बात करते हुए कहा कि उनके लिए ड्रेसिंग रूम की जानकारी काफी अहम है जिसे वह किसी भी कीमत पर सार्वजनिक नहीं कर सकते.

उन्होंने कहा, 'एक चीज तो निश्चित है कि मैंने चैम्पियंस ट्रॉफी के दौरान 11 प्रेस कांफ्रेंस की. हमने पिछले तीन-चार साल में ऐसी खेल संस्कृति बनायी है कि चेंजिंग रूम में जो कुछ भी होता है, हमने उन चीजों को कभी भी ड्रेसिंग रूम से बाहर नहीं किया है और इसकी पवित्रता को बरकरार रखा है. पूरी टीम इस पर विश्वास करती है. हमारे लिए यही सर्वोपरि है.' कोहली ने कहा कि उन्होंने और उनके खिलाड़ियों ने कुंबले की बतौर खिलाड़ी उपलब्धियों का हमेशा सम्मान किया है. कप्तान ने बहुत ही सतर्कता से स्पष्ट किया कि वह कोच कुंबले की भूमिका के बारे में बात नहीं करेंगे. उन्होंने कहा, 'बतौर क्रिकेटर और उन्होंने जो इतने वर्षों तक खेलकर देश के लिए उपलब्धि हासिल की है, मैं उनका पूरा सम्मान करता हूं. उनसे सम्मान वापस नहीं लिया जा सकता. हम सभी उनका पूरा सम्मान करते हैं.'

टिप्पणियां
जब उनसे कुंबले के कोचिंग के दौरान दृष्टिकोण के बारे में पूछा गया तो उन्होंने अपनी बात पर कायम रहते हुए कहा, 'जैसा कि मैंने कहा कि मेरे लिए सबसे अहम ड्रेसिंग रूम की गोपनीयता को बरकरार रखना है और जो कुछ भी चेंजिंग रूम में होता है, वो हम सभी के लिए काफी निजी और अहम होता है.' उन्होंने कहा, '...और यह ऐसी बात है जो मैं सार्वजनिक रूप से व्यक्त नहीं करूंगा. जैसा कि मैंने कहा है कि उनका अपना पक्ष था और हम सभी उनके फैसले का सम्मान करते हैं.'

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement