NDTV Khabar

INDvsAUS: स्मिथ ने मांगी माफी, लेकिन गुस्साए विराट कोहली ने कहा- अब मेरे दोस्त नहीं रहेंगे ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर!

2962 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
INDvsAUS: स्मिथ ने मांगी माफी, लेकिन गुस्साए विराट कोहली ने कहा- अब मेरे दोस्त नहीं रहेंगे ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर!

India vs Australia : विराट कोहली और स्टीव स्मिथ के बीच कई बार कहासुनी हुई...

खास बातें

  1. पूरी सीरीज में दोनों ही टीमों की ओर से स्लेजिंग जारी रही
  2. बेंगलुरू टेस्ट में स्मिथ के DRS मामले से बात और बिगड़ गई
  3. विरा कोहली को ऑस्ट्रेलियाई मीडिया ने भी निशाने पर लिया
धर्मशाला: माना जा रहा था कि भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच टेस्ट सीरीज के खत्म होते ही दोनों ही टीमों के बीच चली आ रही तनातनी खत्म हो जाएगी. कंगारू कप्तान स्टीव स्मिथ ने माफी मांगते हुए भी इसी दिशा में कदम बढ़ाए और धर्मशाला टेस्ट के बाद सीरीज के दौरान हुई घटनाओं के लिए खेद जताया, लेकिन टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के विचारों पर गौर करें, तो लगता है कि इतना जल्दी सबुकछ सामान्य होने नहीं जा रहा है. विराट कोहली सीरीज के दौरान टीम ऑस्ट्रेलिया और वहां की मीडिया की ओर से लगातार टारगेट किए जाने के कारण आहत नजर आ रहे हैं और उन्होंने सीरीज जीतने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह कहकर चौंका दिया कि अब ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों के साथ मित्रवत व्यवहार नहीं रहेगा. अब हो सकता है कि आईपीएल पर भी इस विवाद की छाया पड़े. जानिए विराट कोहली ने और क्या कहा....

विराट कोहली ने सीरीज से पहले कहा था कि मैदान पर भले ही ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों से उनकी कहासुनी होती रहती है, लेकिन उसके बाहर वह अच्छे दोस्त रहे हैं और ऐसा ही इस सीरीज में भी रहेगा, लेकिन अब विराट के विचार बदल गए हैं. धर्मशाला टेस्ट के बाद इससे संबंधित पूछे गए सवाल का जवाब सुनकर तो कुछ ऐसा ही लगा. उन्होंने इसका सीधा जवाब दिया.

विराट कोहली ने कहा, 'नहीं, अब यह निश्चित रूप से बदल गया है. मुझे लगता है कि यह स्थिति पहले थी, लेकिन अब बिल्कुल भी वैसी नहीं रही. मैंने शुरुआती दौर में गहमागहम बहस के बीच जो कहा था, वह इसलिए था क्योंकि आप प्रतिस्पर्धी होना चाहते हैं, लेकिन मैं गलत साबित हुआ. मैंने पहले टेस्ट से पहले जो बातें कहीं थीं, वह पूरी तरह से गलत साबित हुईं और आपने मुझे ऐसा कहते हुए दोबारा नहीं सुना होगा.'

इन घटनाओं से सबसे अधिक दुखी हुए विराट
वास्तव में इस सीरीज में बेंगलुरू टेस्ट के दौरान स्टीव स्मिथ के द्वारा आउट होने पर ड्रेसिंग रूम से डीआरएस संबंधी सलाह लेने का प्रयास करने के बाद काफी विवाद हुआ था. इस पर ऑस्ट्रेलियाई मीडिया ने विराट को ही निशाने पर ले लिया था, वहीं स्मिथ ने इसे 'ब्रेन फेड' बताया था, जबकि विराट ने स्मिथ की इस हरकत को लगभग 'चीटिंग' करार दिया था. धर्मशाला टेस्ट में भी जब मुरली विजय ने जॉश हेजलवुड का कैच पकड़ा, तो थर्ड अंपायर ने उन्हें नॉटआउट करार दिया. इस पर स्मिथ ड्रेसिंग रूम में अपशब्द कहते कैमरे में कैद हो गए थे. इन सब घटनाओं से संभवतः विराट कोहली को धक्का लगा है. उनके अनुसार यह खेल भावना के लिए सही नहीं है.

ऑस्ट्रेलिया पर मिली 2-1 से जीत का श्रेय टीम को देते हुए विराट कोहली ने कहा कि कोई उनकी टीम को उकसाता है तो वे माकूल जवाब देने में माहिर हैं. पहले भी विराट कहते रहें हैं कि हम जवाब देने में पीछे नहीं रहेंगे.

कोहली ने कहा, जैसे को तैसा वाला जवाब देना जानते हैं...
कोहली ने कहा, ‘हमारा पलड़ा मैच में भारी हो या नहीं, यदि कोई हमें उकसायेगा तो हम उचित जवाब देंगे. सभी को यह हजम नहीं होता लेकिन हम जैसे को तैसा जवाब देने में माहिर हैं.’

जब विराट से ऑस्ट्रेलियाई मीडिया की ओर से निशाना बनाए जाने को लेकर सावल किया गया तो उन्होंने कहा कि वह इसकी परवाह नहीं करते. उन्होंने कहा कि कुछ लोगों का काम ही सनसनी फैलाना है.

उन्होंने कहा, ‘कुछ लोग दुनिया के एक कोने में बैठकर सनसनी फैलाना चाहते हैं. उन्हें खुद इन हालात का सामना नहीं करना पड़ता. यह सबसे आसान काम होता है कि घर बैठकर ब्लॉग लिख डालो या माइक पर बोलो लेकिन मैदान में उतरकर खेलना काफी मुश्किल है.’


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement