IND vs SL: विराट कोहली के शतक ने रिकी पोंटिंग व गावस्कर को दिया 'यह बड़ा गम'!

हर शतक, हर पारी के साथ कोहली का कद और विराट हो रहा है. नागपुर टेस्ट के तीसरे दिन भी टीम इंडिया के युवा कप्तान ने एक बार फिर से इस पहलू को और मजबूती प्रदान की.

IND vs SL: विराट कोहली के शतक ने रिकी पोंटिंग व गावस्कर को दिया 'यह बड़ा गम'!

विराट कोहली (भारतीय कप्तान, फाइल फोटो)

खास बातें

  • कोहली ने तोड़ा रिकी पोंटिंग का स्पेशल रिकॉर्ड
  • बतौर कप्तान विराट ने जड़ा साल में 10वां शतक
  • कप्तान के रूप में शतकों के मामले में सनी को पीछे छोड़ा
विराट कोहली:

टीम इंडिया के युवा कप्तान विराट कोहली के कारनामे हर एक शानदार पारी के साथ और 'विराट' होते जा रहे हैं. नागपुर टेस्ट के तीसरे दिन लकमल की गेंद पर एक रन लेकर अपना 19वां और लगातार दूसरा टेस्ट शतक पूरा करने के साथ ही कोहली ने पूर्व कंगारू कप्तान रिकी पोंटिंग को बड़ा झटका दिया. वास्तव में यह ऐसा झटका है कि जिस पर ऑस्ट्रेलियाई मीडिया और पोंटिंग आने वाले कई दिनों तक गमगीन रहेंगे. साथ ही, विराट कोहली ने अपने 19वें शतक से पोंटिंग को तो झटका दिया ही, पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर को भी नहीं बख्शा. 

बता दें कि ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग ने टेस्ट क्रिकेट में अपनी कप्तानी में बल्ले से वह बड़ा कारनामा किया था, जिसके आस-पास भी कोई दूसरा बल्लेबाज पहले कभी नहीं फटक सका था. लेकिन विराट ने श्रीलंका के खिलाफ पोंटिंग के कारनामे की लंका लगा दी. दरअसल रिकी ने खुद के कप्तान रहते एक कैलेंडर ईयर में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में नौ शतक जड़े थे. वह भी एक नहीं, दो बार. वास्तव में किसी भी कप्तान और देश के लिए यह रिकॉर्ड बहुत ही फख्र वाली बात है. खुद रिकी पोंटिंग ने भी नहीं सोचा था कि विराट कोहली इस पर इतनी जल्दी पानी फेर देंगे. पोंटिंग ने साल 2005 व साल 2006 में नौ-नौ शतक बनाए थे, जबकि दक्षिण अफ्रीकी पूर्व कप्तान ग्रीम स्मिथ ने भी साल 2005 में ही इतने अंतरराष्ट्रीय शतक जड़े थे

यह भी पढें : विराट कोहली के प्रशंसकों में इंग्‍लैंड के इस पूर्व बल्‍लेबाज ने  किया यह ट्वीट

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बहरहाल अब पोंटिंग के ऐतिहासिक रिकॉर्ड पर कोहली ने अपना नाम चस्पा कर दिया है. नागपुर में विराट के बल्ले से निकला यह शतक एक कैलेंडर ईयर में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में बतौर कप्तान उनके द्वारा बनाया गया दसवां शतक रहा. साफ कर दें कि इन दस शतकों में वनडे और टेस्ट दोनों ही शतक शामिल हैं. इस दसवें शतक के साथ ही कोहली ने पोंटिंग के अलावा पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर के बतौर कप्तान सबसे ज्यादा शतक बनाने के भारतीय रिकॉर्ड को भी तोड़ दिया. जहां गावस्कर ने एक कप्तान के रूप में 74 पारियों में 11 शतक बनाए थे, तो कोहली ने 49 पारियों में ही 12वां शतक जड़कर गावस्कर के रिकॉर्ड को तोड़ दिया. कहा जा सकता है कि एक कप्तान बल्लेबाज के रूप में कोहली ने खुद को नंबर वन के रूप में स्थापित कर लिया है. 

VIDEO : गावस्कर का कोहली के बारे में बड़ा बयान
कोहली के इस प्रदर्शन से हर शख्स बहुत ही आसानी से इस बात को समझ सकता है कि बतौर कप्तान रहते विराट भविष्य में अपने इस रिकॉर्ड को और कितना 'विराट रूप' प्रदान करेंगे. जैसे-जैसे विराट के बल्ले से निकल रहीं रन रूपी आग की लपटें और ऊंची हो रही हैं,  ठीक वैसे-वैसे कोई न कोई रिकॉर्ड इस अग्नि में भस्म हो रहा है.