NDTV Khabar

विराट कोहली ने कुछ ऐसा तंज किया कि रेनशॉ को आ गई हंसी

81 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
विराट कोहली ने कुछ ऐसा तंज किया कि रेनशॉ को आ गई हंसी
नई दिल्ली: बेंगलुरु टेस्ट का दूसरा दिन रोमांच से भरपूर रहा. भारतीय गेंदबाजों ने कसी हुई गेंदबाजी करते हुए ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों की रन बनाने की गति को धीमा कर दिया. इस बीच खिलाड़ियों के बीच स्लेजिंग भी देखने को मिली. हालांकि दोनों टीमों के खिलाड़ी रुक-रुक कर हंस कर माहौल को हल्का करने की कोशिश करते रहे.

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली इतने जोश में दिखे कि वे कई बार अपनी ही टीम के खिलाड़ियों से तेवर में बात करते नजर आए. रवींद्र जडेजा और कोहली के बीच फील्डिंग को लेकर कहा-सुनी भी देखी गई लेकिन दोनों को बाद में इस पर चर्चा करते देखा गया.

भारत-ऑस्ट्रेलिया टेस्ट सीरीज़ शुरू होने से पहले स्लेजिंग को लेकर खूब बयानबाजी हुई. पुणे टेस्ट में फ़ैंस को ऐसा कुछ देखने को नहीं मिला लेकिन बेंगलुरु टेस्ट में एक अलग तरह की स्लेजिंग देखने को मिली. एक ओर आर अश्विन और रवींद्र जडेजा अपनी गेंदों से कंगारुओं को चित करने की ताक में लगे रहे तो दूसरी ओर ईशांत शर्मा ने अपनी तेजी के साथ-साथ कंगारू बल्लेबाजों को एक अलग तरह से स्लेजिंग किया.

ईशांत ने ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीवन स्मिथ को परेशान करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी. ईशांत ने स्मिथ को चिढ़ाने की कोशिश जारी रखी लेकिन स्मिथ ने भी रक्षात्मक शॉट्स खेलते हुए उन्हें जबाव दिया. वहीं विकेट पर टिके मैट रेनशॉ की लय बिगाड़ने के लिए विराट कोहली ने स्लेजिंग का सहारा लिया जिसका खुलासा रेनशॉ ने मैच के बाद किया.

रैनशॉ ने कहा, 'विराट दर्शकों को शोर करने के लिए कह रहे थे और ऐसे माहौल में मुझे खेलने की आदत नहीं है. मैं इस मौके का मजा ले रहा था. कोहली मुझे पुणे टेस्ट की याद दिलाते हुए कह रहे थे कि मुझे बाथरूम जाना चाहिए. इससे मुझे हंसी आ रही थी.'

आर अश्विन से टकराने के बाद कोहली के तेवर आक्रामक हो गए लेकिन स्टीवन स्मिथ ने 20 साल के रेनशॉ को बचाने की पूरी कोशिश की. स्मिथ ने अपने ओपनर रेनशॉ को बाचने के लिए कोहली और अश्विन से भिड़े जिसे बाद में फील्ड अंपायर ने शांत किया. रेनशॉ ने कहा, 'स्मिथ और कोहली एक-दूसरे पर कमेंट्स कर रहे थे. हमने इसे हल्के में लिया क्योंकि हमें मालूम है कि सीरीज़ में 1-0 से आगे होने की वजह से भारतीय खिलाड़ी हमारी लय बिगाड़ने की कोशिश में लगे हैं'.

हालांकि रेनशॉ की बात से उलट भारतीय बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने मैच के बाद हंसते हुए ऐसी किसी बात से इनकार किया. 'जब हम ऑस्ट्रेलिया के साथ खेलते हैं तो स्लेजिंग होती है. मुझे नहीं मालूम किस खिलाड़ी ने क्या कहा लेकिन कुछ खास नहीं हुआ. खिलाड़ियों के बीच कहा-सुनी हुई लेकिन खेल की भावना के खिलाफ कोई स्लेजिंग नहीं की. न ही किसी निमय को तोड़ा. खिलाड़ी आपस में बात कर रहे थे.'


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement