NDTV Khabar

वीरेंद्र सहवाग ने ट्वीट करके बताया, इस बात ने उन्‍हें बनाया तूफानी बल्‍लेबाज

टीम इंडिया के पूर्व ओपनर वीरेंद्र सहवाग ने अपनी बल्‍लेबाजी के बिंदास अंदाज से दुनियाभर में लोगों की प्रशंसा हासिल की. क्रिकेट से संन्‍यास लेने के बाद वीरू अब कमेंटेटर के रोल में अपनी चुटीली टिप्‍पणियों से लोगों की वाहवाही हासिल कर रहे हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
वीरेंद्र सहवाग ने ट्वीट करके बताया, इस बात ने उन्‍हें बनाया तूफानी बल्‍लेबाज

वीरेंद्र सहवाग अपने क्रिकेट करियर के दौरान गेंदबाजों के लिए खौफ का पर्याय बने (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कहा-अहम बात यह है कि ढीली गेंद को आप किस तरह मारते हैं
  2. दुनियाभर के गेंदबाजों के लिए वीरू खौफ का पर्याय बने रहे
  3. 104 टेस्‍ट में आठ हजार से अधिक रन बनाए, जिसमें 23 शतक हैं
नई दिल्‍ली: टीम इंडिया के पूर्व ओपनर वीरेंद्र सहवाग ने अपनी बल्‍लेबाजी के बिंदास अंदाज से दुनियाभर में लोगों की प्रशंसा हासिल की. क्रिकेट से संन्‍यास लेने के बाद वीरू अब कमेंटेटर के रोल में अपनी चुटीली टिप्‍पणियों से लोगों की वाहवाही हासिल कर रहे हैं. सोशल मीडिया में उनके 'पंच' भी लोगों को खूब पसंद आ रहे हैं. ट्विटर पर वीरू ने अपने फैंस को बल्‍लेबाजी के दौरान अपनी आक्रामक शैली का राज बताया है. उन्‍होंने यही भी बताया कि उन्‍होंने बल्‍लेबाजी के दौरान किस बात का ध्‍यान रखा जिसके कारण वे गेंदबाजों के लिए खौफ का पर्याय बने. वीरू की बल्‍लेबाजी का अंदाज ऐसा था कि शतक, दोहरे शतक यहां तक कि तिहरे शतक के करीब होने पर भी वे कमजोर गेंद को क्रीज से बाहर निकलकर छक्‍के के लिए उड़ाने से नहीं चूके. वे छक्‍का लगाकर तिहरा शतक भी पूरा कर चुके हैं.

टिप्पणियां
यह भी पढ़ें : सहवाग ने बताया, 'किस तरह किंग्‍समीड के किंग बन गए थे युवराज'
वीरेंद्र सहवाग ने एक ट्वीट के जरिये बताया है कि क्रिकेट खेलते हुए उन्‍होंने किस मूल बात पर यकीन किया. ट्विटर पर 'वीरू ज्ञान' देते हुए उन्‍होंने लिखा, 'ऐसा हमेशा नहीं होता कि आपके कहे गए शब्‍द बड़ा असर छोड़ते हैं. यह इस बात पर निर्भर करता है कि हम किसी बात को किस तरह से कहते हैं.' अपनी बात को आगे बढ़ता हुए दिल्‍ली के इस पूर्व क्रिकेटर ने लिखा, 'यही बात क्रिकेट में भी है. आमतौर पर कमजोर गेंद हमारे ऊपर प्रभाव नहीं छोड़ती. महत्‍वपूर्ण यह है कि हम इसे किस तरह से मारते हैं.'

वीडियो: टीम इंडिया की सीरीज जीत में रोहित शर्मा चमके
गौरतलब है कि 38 वर्षीय सहवाग ने 104 टेस्‍ट में 49.34 के औसत से 8586 रन बनाए जिसमें 23 शतक और 32 अर्धशतक शामिल रहे. वनडे में भी इस खिलाड़ी ने 251 वनडे में 8273 रन बनाए जिसमें 15 शतक और 38 अर्धशतक शामिल रहे. 19 टी20 मैचों में वीरू ने 394 रन बनाए जिसमें 68 रन उनका सर्वाधिक स्‍कोर रहा. सहवाग वर्ष 2007 में टी20 वर्ल्‍डकप और 2011 में क्रिकेट वर्ल्‍डकप जीतने वाली भारतीय टीम के सदस्‍य रहे.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement