NDTV Khabar

डेविड वॉर्नर बोले, आर.अश्विन के खिलाफ शॉट खेलना जोखिम भरा लेकिन ऐसा करता रहूंगा

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
डेविड वॉर्नर बोले, आर.अश्विन के खिलाफ शॉट खेलना जोखिम भरा लेकिन ऐसा करता रहूंगा

मौजूदा सीरीज में डेविड वॉर्नर और आर. अश्विन का मुकाबला दिलचस्‍प रहा है (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. माना, भारतीय विकेटों पर ऐसे शॉट खेलना जोखिम भरा है
  2. रविचंद्रन अश्विन को बेहतरीन गेंदबाज करार दिया
  3. बैट के आकार में बदलाव के नियम का नहीं होगा कोई असर
बेंगलुरू: ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर ने कहा है कि भारतीय ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन के खिलाफ गैर परंपरागत शॉट खेलना जोखिम से भरा है, लेकिन मैं आगे भी ऐसा करता रहूंगा. मौजूदा टेस्ट सीरीज की चार पारियों में अश्विन पहली ही तीन बार वार्नर को आउट कर चुके हैं. वार्नर ने ऑस्ट्रेलियाई मीडिया से कहा, ‘वह मुझे नौ बार आउट कर चुके हैं, इसलिए उसे इसके लिए श्रेय जाता है.’अश्विन ने दूसरे टेस्ट की पहली पारी में वॉर्नर को बोल्ड करने के बाद दूसरी पारी में उन्हें एलबीडब्‍ल्‍यू किया. उन्होंने कहा, ‘पिछले टेस्ट में मैं स्विच हिट लगाने की कोशिश कर रहा था, मैंने रिवर्स स्वीप खेलने का प्रयास किया. मेरे लिए एकमात्र चिंता असमान उछाल था, यह हमेशा चुनौतीपूर्ण चीज होती है.’ अश्विन की लय को तोड़ने के लिए स्विच हिट का इस्तेमाल किया जा सकता है लेकिन वॉर्नर का मानना है कि भारतीय विकेटों पर इस शॉट में काफी जोखिम है.

टिप्पणियां
उन्होंने कहा, ‘अगर आप चूक जाओगे और स्विच हिट लगा रहे होंगे तो आपको पगबाधा आउट दिया जा सकता है लेकिन अगर आप रिवर्स स्वीप कर रहे होंगे तो ऐसा नहीं होगा. आपको सतर्क रहना होगा.’ वॉर्नर ने कहा, ‘मुझे पता है कि अगर मैं शाट खेलूंगा (अश्विन के खिलाफ) तो उसे कुछ बदलाव करना होगा.’ उन्होंने कहा, ‘वह शानदार गेंदबाज है, वह अपनी सरजमीं पर काफी विकेट हासिल कर चुका है और मुझे इस पर प्रतिक्रिया देनी होगी.’

वॉर्नर ने दावा किया कि उन्होंने छींटाकशी का जवाब देना बंद कर दिया है. दक्षिण अफ्रीका पर गेंद से छेड़छाड़ का आरोप लगाने के लिए एक बार आईसीसी द्वारा जुर्माने का सामना करने वाले ऑस्ट्रेलिया के इस सलामी बल्लेबाज ने कहा, ‘मुझे ऐसी (छींटाकशी) प्रतिक्रिया देने की जरूरत नहीं है, अब ऐसा करने की जरूरत नहीं है.’ मेरिलबोन क्रिकेट क्लब (एमसीसी) ने हाल में बल्ले के आकार को लेकर सीमाएं तय की हैं लेकिन वॉर्नर ने कहा कि बदलाव का बड़ा असर नहीं होगा. उन्‍होंने कहा, ‘हमें इन बदलावों से सामंजस्य बैठाना होगा. गेंद अब भी उतनी दूर जाएगी, बाउंड्री लगेंगी, हम एक या दो रन लेते रहेंगे. हो सकता है कि बल्ले का किनारा लेने के बाद गेंद बाउंड्री पर नहीं करे.’एमसीसी ने हाल में घोषणा की थी कि अक्‍टूबर से बल्ले के आकार को सीमित किया जाएगा. अब बल्ले की गहराई सिर्फ 67 मिमी होगी जो वार्नर के मौजूदा बल्ले से 18 मिमी अधिक है. वॉर्नर ने भरोसा जताया कि चोटिल मिशेल स्टार्क की गैरमौजूदगी में पैट कमिंस टीम के लिए अच्छा काम करेंगे. उन्होंने कहा, ‘हमें पता है कि वह काफी गति से गेंदबाजी करता है और निश्चित तौर पर वह इसका फायदा उठाएगा.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement