Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

वसीम जाफर के भतीजे ने खेली 473 रनों की मैराथन पारी

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
वसीम जाफर के भतीजे ने खेली 473 रनों की मैराथन पारी

खास बातें

  1. वसीम जाफर के भतीजे अरमान ने गुरुवार को रिज़वी स्प्रिंगफील्ड की ओर से खेलते हुए 437 मिनट की पारी में 359 गेंदों का सामना कर 65 चौकों और 16 छक्कों की मदद से 473 रन ठोके।
मुंबई:

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज और मुंबई के लिए घरेलू क्रिकेट में लम्बे समय से रन-मशीन कहे जाते रहे वसीम जाफर के खानदान में एक और चमत्कारी बल्लेबाज भी है, जिसने गुरुवार को हैरिस शील्ड इंटर-स्कूल टूर्नामेंट में 473 रनों की पहाड़ जैसी पारी खेली, जो अब इस प्रतियोगिता का उच्चतम स्कोर है।

वसीम जाफर के भतीजे अरमान ने गुरुवार को माटुंगा जिमखाना मैदान पर अपने स्कूल रिज़वी स्प्रिंगफील्ड की ओर से आईईएस वीएन सुले गुरुजी स्कूल के खिलाफ खेलते हुए 437 मिनट तक क्रीज़ पर टिके रहकर 359 गेंदों का सामना किया, और 65 चौकों और 16 छक्कों की मदद से 473 रन ठोके।

टिप्पणियां

14-वर्षीय अरमान ने हेराम्ब परब की गेंद पर आउट होने के बाद थोड़ी-सी नाखुशी भी जताई कि वह 500 का आंकड़ा नहीं छू पाया, लेकिन कहा कि पिछला रिकॉर्ड तोड़कर अच्छा लग रहा है। अरमान जाफर के मुताबिक बल्लेबाजी करते वक्त उसे रनों और रिकॉर्ड का ध्यान नहीं आया था, और वह अपने खेल का पूरा मज़ा ले रहा था। हैरिस शील्ड टूर्नामेंट में इससे पहले सर्वाधिक रन बनाने का रिकॉर्ड सरफराज खान के नाम दर्ज था, जिसने नवम्बर, 2009 में रिज़वी स्प्रिंगफील्ड की ओर से खेलते हुए ही 439 रन बनाए थे। उससे भी पहले यह रिकॉर्ड अरमान के चाचा वसीम जाफर के ही नाम पर था, जिन्होंने 1992-93 में अंजुमन-ए-इस्लाम की ओर से मारवाड़ी विद्यालय के खिलाफ खेलते हुए नाबाद 400 रन बनाए थे।


वैसे अरमान जाफर को शुरू से ही लम्बी पारियां खेलने के लिए जाना जाता है, और उसने वर्ष 2010 में गाइल्स शील्ड टूर्नामेंट के दौरान राजा शिवाजी स्कूल की ओर से बल्लेबाजी करते हुए 498 रन की पारी खेली थी।



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... स्‍कूल छोड़ने जा रही थी मां, रास्‍ते में याद आया बच्‍चे तो घर पर ही छूट गए, देखें मजेदार Video

Advertisement