NDTV Khabar

IND vs NZ: तीसरे टी20 में जीत के बाद विराट कोहली ने बताया, 'इस कारण हार्दिक पंड्या को सौंपा आखिरी ओवर'

भारत और न्‍यूजीलैंड के बीच मंगलवार को तिरुवनंतपुरम में खेले गए निर्णायक टी20 में विराट कोहली ने हरफनमौला हार्दिक पंड्या से आखिरी ओवर कराया.

517 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
IND vs NZ: तीसरे टी20 में जीत के बाद विराट कोहली ने बताया, 'इस कारण हार्दिक पंड्या को सौंपा आखिरी ओवर'

कप्तान विराट कोहली ने कहा कि मुझे हार्दिक पंड्या की ऑफ कटर्स पर पूरा भरोसा था

खास बातें

  1. आखिरी ओवर में न्‍यूजीलैंड को जीत के लिए चाहिए थे 19 रन
  2. विराट बोले, हार्दिक के ऑफ कटर्स बेहतरीन होते हैं
  3. विकेट पर नमी थी और गेंद इस पर रुककर आ रही थी
तिरुवनंतपुरम: भारत और न्‍यूजीलैंड के बीच मंगलवार को तिरुवनंतपुरम में खेले गए निर्णायक टी20 में विराट कोहली ने हरफनमौला हार्दिक पंड्या से आखिरी ओवर कराया. पंड्या को कुलदीप यादव पर तरजीह देते हुए गेंदबाजी के लिए बुलाया गया था. यह फैसला बेहतरीन साबित हुआ और टीम इंडिया छह रन से मैच जीतने में सफल रही. मैच के बाद टीम इंडिया के कप्‍तान विराट कोहली ने पंड्या को आखिरी ओवर सौंपने के कारण बताए. उन्‍होंने कहा कि हार्दिक के ऑफ कटर्स बेहतरीन होते हैं. चूंकि विकेट पर नमी थी और गेंद रुक रही थी, ऐसे में मैंने यह फैसला किया. कप्तान विराट कोहली को पंड्या की ऑफ कटर्स पर पूरा भरोसा था जो न्यूजीलैंड के खिलाफ तीसरे टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में तनावपूर्ण आखिरी ओवर में काफी उपयोगी साबित हुए. आखिरी ओवर में न्‍यूजीलैंड को जीत के लिए 19 रन की जरूरत थी लेकिन उन्‍होंने इस ओवर में महज 12 रन ही दिए. मैच के बाद कोहली ने कहा,‘हमें हार्दिक पर पूरा भरोसा था. नमी के कारण गेंदविकेट पर जम रही थी. ऐसे में मैंने सोचा कि आखिरी ओवर में उसके पास जाऊं. विराट के अनुसार, हार्दिक ने तीन गेंद के बाद कहा,‘मैं कर लूंगा, आप चिंता मत करो,’उन्होंने कहा,‘एक कप्तान के तौर पर जब आपको गेंदबाज से इस तरह का आत्मविश्वास मिलता है तो आपके पास कहने को कुछ नहीं होता. उसे (हार्दिक को) अपनी क्षमता पर भरोसा था और वह हमारे लिये फिनिशर की भूमिका निभाने में कामयाब रहा.’उन्होंने अपने गेंदबाजों की तारीफ करते हुए कहा कि टीम की सफलता में उनके योगदान की अधिक तारीफ होनी चाहिए.

वीडियो: पुजारा बोले, धोनी और कोहली में जीत की भूख है कॉमन
टीम इंडिया के कप्‍तान ने कहा,‘वे इससे अधिक प्रशंसा के पात्र है जो उन्हें मिलती है. यह खेल छोटे प्रारूप में बल्लेबाजों का खेल हो गया है. जब निर्णायक मैचों में गेंदबाज अपनी भूमिका निभाते हैं तो इससे फर्क पैदा होता है. दोनों टीमें लक्ष्य के करीब पहुंच ही गई थी लेकिन बेहतर गेंदबाजी करने वाली टीम जीती.’कोहली ने कहा कि मैच के ओवरों में कटौती के बावजूद खिलाड़ियों ने अपेक्षा के अनुरूप प्रदर्शन किया. विराट ने कहा,‘लंबे समय तक बारिश हुई थी लिहाजा कम ओवरों के अनुरूप ढलना आसान नहीं था. निर्णायक मैच में इस तरह खुद को ढालना और जीतना बेहतरीन रहा.’


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement