NDTV Khabar

सलमान बट और कामरान अकमल ने भारत की तरह पाकिस्‍तान से अच्‍छे बल्‍लेबाज न निकलने का बताया यह कारण..

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सलमान बट्ट और टीम से बाहर चल रहे विकेटकीपर बल्लेबाल कामरान अकमल चाहते हैं कि पाक सिलेक्‍टर्स को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई ) की तरह ही खिलाड़ि‍यों को ज्‍यादा मौके देना चाहिए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सलमान बट और कामरान अकमल ने भारत की तरह पाकिस्‍तान से अच्‍छे बल्‍लेबाज न निकलने का बताया यह कारण..

कामरान अकमल इस समय पाकिस्‍तान की क्रिकेट टीम से बाहर चल रहे हैं (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कहा, सिलेक्‍टर्स में खिलाड़ि‍यों को ज्‍यादा मौके देना चाहिए
  2. रोहित शर्मा को भारतीय सिलेक्‍टर्स ने खूब मौके दिए
  3. पाकिस्‍तान के मैचों में पिच का स्वभाव एक सा नहीं रहता
कराची:
टिप्पणियां

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सलमान बट और टीम से बाहर चल रहे विकेटकीपर बल्लेबाज कामरान अकमल चाहते हैं कि पाक सिलेक्‍टर्स को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई ) की तरह ही खिलाड़ि‍यों को ज्‍यादा मौके देना चाहिए. इन दोनों क्रिकेटरों के मुताबिक, भारतीय चयनकर्ता पाकिस्तान की तुलना में खिलाड़ियों को ज्यादा मौके देते हैं.स्‍पॉट फिक्सिंग के मामले में प्रतिबंध का सामना कर चुके बट ने कहा, ‘भारत अपने खिलाड़ियों को शीर्ष स्तर पर क्रिकेट खेलने का ज्यादा मौका देता है. एक समय रोहित शर्मा काबल्लेबाजी औसत 25-30 के आसपास था लेकिन भारत के चयनकर्ताओं ने उन्हें लगातार मौके दिये और आज वह विश्वस्तरीय बल्लेबाज है.

बट और अकमल के अनुसार, पाकिस्तान से भारत की तरह अच्छे बल्लेबाज इसलिए नहीं निकल पा रहे क्योंकि घरेलू स्तर पर होने वाले मैचों में पिच का स्वभाव नियमित नहीं रहता है.

वीडियो: गावस्‍कर ने इस अंदाज में की विराट की प्रशंसा
कामरान ने कहा, ‘घरेलू स्तर के मैच ऐसे पिचों पर होने चाहिये जहां बल्लेबाज लंबे समय तक क्रीज पर मौजूद रह सके. उन्हें आत्मविश्वास भरने और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के लिये तैयार करने का सिर्फ यही तरीका है.’उन्होंने कहा कि घरेलू टूर्नामेंट कायदे-आजम-ट्राफी में 20 से ज्यादा ऐसे मौके रहे जहां टीमें 100 रन के अंदर सिमट गईं.(इनपुट: एजेंसी)




NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement