NDTV Khabar

चयन न होने से एक बार इतने निराश हो गए थे कुलदीप यादव, खुदकुशी के बारे में सोचने लगे थे

टीम इंडिया के चाइनामैन बॉलर कुलदीप यादव ने छोटे से इंटरनेशनल करियर में ही अपने प्रदर्शन से खास छाप छोड़ी है. कप्‍तान विराट कोहली का खास भरोसा इस स्पिनर को हासिल है.

8 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
चयन न होने से एक बार इतने निराश हो गए थे कुलदीप यादव, खुदकुशी के बारे में सोचने लगे थे

कुलदीप यादव वनडे क्रिकेट में हैट्रिक भी हासिल कर चुके हैं

खास बातें

  1. यूपी की अंडर15 टीम में कुलदीप का नहीं हो पाया था चयन
  2. तब क्रिकेट छोड़ने और खुदकुशी करने का आया था विचार
  3. अब बन चुके हैं भारतीय टीम के प्रमुख स्पिन गेंदबाज
टीम इंडिया के चाइनामैन बॉलर कुलदीप यादव ने छोटे से इंटरनेशनल करियर में ही अपने प्रदर्शन से खास छाप छोड़ी है. कप्‍तान विराट कोहली का खास भरोसा इस स्पिनर को हासिल है. 22 वर्षीय कुलदीप ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ वनडे में हैट्रिक भी हासिल कर चुके हैं. हालांकि भारतीय क्रिकेट में इस ऊंचाई को हासिल करने की कुलदीप यादव की राह आसान नहीं रही है. कानपुर के इस स्पिनर ने खुलासा किया है कि अपने क्रिकेट करियर के दौरान एक समय वे बेहद निराश हो गए थे. जब कुलदीप को उत्तरप्रदेश की अंडर-15 टीम में नहीं चुना गया था तो वे न सिर्फ क्रिकेट छोड़ने बल्कि खुदकुशी का विचार भी उनके दिमाग में आया था. कुलदीप की उम्र उस समय 13 वर्ष थी.

यह भी पढ़ें: घरेलू मैदान पर कुलदीप को नहीं मिला खेलने का मौका, परिजन और फैंस निराश

कुलदीप ने हिंदुस्‍तान टाइम्‍स को बताया, 'मैंने अपने चयन के लिए कड़ी मेहनत की थी, लेकिन जब मुझे नहीं चुना गया तो हताशा में खुदकुशी का ख्‍याल मेरे मन में आया था.' उन्‍होंने कहा कि भावनाओं के भरे क्षणों में ऐसा हर किसी के साथ होता है. कुलदीप ने आईपीएल में कोलकाता नाइट राडडर्स की ओर से खेलते हुए खास छाप छोड़ी. इस बाद वे लगातार आगे बढ़ते गए और जूनियर वर्ल्‍डकप में भाग लेने वाली भारतीय टीम के भी सदस्‍य रहे. कुलदीप ने अपने टेस्‍ट करियर का आगाज ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ धर्मशाला में टेस्‍ट खेलकर किया. इस टेस्‍ट में उन्‍होंने चार विकेट हासिल किए.

वीडियो: गावस्‍कर बोले, निडर गेंदबाज हैं कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल

श्रीलंका के खिलाफ सितंबर में हुई सीरीज में भी उन्‍होंने शानदार प्रदर्शन किया था. कुलदीप ऑस्‍ट्रेलिया के दिग्‍गज स्पिनर शेन वॉर्न के बहुत बड़े प्रशंसक हैं और वॉर्न के गेंदबाजी के वीडियो देखकर उन्‍होंने स्पिन के गुर सीखे हैं. उनकी प्रतिभा से वॉर्न भी प्रभावित हैं. उन्‍होंने हाल ही में कुलदीप की तुलना पाकिस्‍तान के स्पिन गेंदबाज यासिर शाह से की थी. वॉर्न ने कहा था कि भारत के इस चाइनामैन बॉलर ने यदि धैर्य बनाए रखा तो वह सर्वश्रेष्‍ठ स्पिन गेंदबाज बन सकता है. शॉर्टर फॉर्मेट में युजवेंद्र चहल के साथ जोड़ी बनाकर कुलदीप लगातार अच्‍छा प्रदर्शन कर रहे हैं. इसी कारण इन दोनों को सीमित ओवरों के क्रिकेट में रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा जैसे स्‍थापित स्पिनरों पर तरजीह दी जा रही है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement