Budget
Hindi news home page

आखिर ऑस्ट्रेलिया से भारत क्यों 0-2 से हारा सीरीज?

ईमेल करें
टिप्पणियां
आखिर ऑस्ट्रेलिया से भारत क्यों 0-2 से  हारा सीरीज?
नई दिल्ली: 1. एडिलेड : जोश में गंवाया होश
सीरीज़ के पहले टेस्ट मैच में टीम इंडिया ने जीत की स्थिति में पहुंचकर मैच गंवाया। टीम इंडिया को चौथी पारी में 364 रनों का लक्ष्य मिला। तीसरे विकेट के लिए मुरली विजय और विराट कोहली के बीच में 185 रनों की साझेदारी हुई। लगा टीम इंडिया मैच निकाल लेगी, लेकिन सिर्फ़ 73 रनों के अंदर 8 विकेट टीम इंडिया के गिर गए। विराट कोहली ने जीत की पीछा करने के चक्कर में ड्रॉ का मौका भी गंवा दिया।  

2. ब्रिसबेन : नाकाम हुए गेंदबाज़
ब्रिसबेन में टीम इंडिया के बल्लेबाज़ों ने पहले बल्लेबाज़ी करके 408 रन जोड़े, लेकिन गेंदबाज़ों ने 505 रन लुटाकर टीम की लुटिया डुबो दी। ऑस्ट्रेलिया के पुछल्ले बल्लबाज़ों ने 200 से ज्यादा रन ज़ोड दिए और भारतीय गेंदबाज़ी बेबस नज़र आई। इसके बाद दूसरी पारी में बल्लेबाज़ नाकाम रहे और ऑस्ट्रेलिया ने 128 रनों का लक्ष्य हासिल कर लिया, हालांकि दूसरी पारी में भारतीय गेंदबाज़ों ने ऑस्ट्रेलिया पर दबाव ज़रूर बनाया।

3. मेलबर्न : बल्लेबाज़ों ने बचाया मैच
मेलबर्न में भी टीम इंडिया के गेंदबाज़ों ने निराश किया। पहली पारी में ऑस्ट्रेलिया ने जहां 530 रन ठोक डाले, वहीं दूसरी पारी में तो भारतीय गेंदबाज़ कंगरूओं को ऑलआउट करने में ही नाकाम रहे। आखिरकार ऑस्ट्रेलिया ने 9 विकेट खोकर पारी घोषित की और भारतीय टीम को आखिरी दिन 384 रनों का लक्ष्य मिला। जल्दी-जल्दी विकेट गिरने से धड़कने ज़रूर तेज़ हुई लेकिन 6 विकेट गंवाकर बल्लेबाज़ों ने जैसे तैसे टीम को हार से बचा लिया।

4. सिडनी : बल्लेबाज़ों ने बचाया मैच
सिडनी में भी कहानी मेलबर्न जैसी रही। गेंदबाज़ों ने नेपहली पारी में ऑस्ट्रेलिया को 572 रन दिए, जबकि दूसरी पारी में गेंदबाज़ों से न तो रन रुके न ही ऑस्ट्रेलिया को गेंदबाज़ ऑलआउट कर पाए। बल्लेबाज़ों ने हिम्मत दिखाकर यहां पर भी मैच ड्रॉ करवा लिया।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement