NDTV Khabar

WI vs ZIM: एक पारी में दो से ज्यादा रिव्यू चाहते हैं जिम्‍बाब्‍वे के कोच हीथ स्‍ट्रीक

जिम्बाब्वे क्रिकेट टीम के मुख्य कोच हीथ स्ट्रीक और वेस्टइंडीज टीम के मुख्य कोच स्टुअर्ट लॉ, दोनों चाहते हैं कि टेस्ट की एक पारी में निर्णय समीक्षा प्रणाली (डीआरएस) की संख्या दो से ज्यादा कर दी जाए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
WI vs ZIM: एक पारी में दो से ज्यादा रिव्यू चाहते हैं जिम्‍बाब्‍वे के कोच हीथ स्‍ट्रीक

हीथ स्ट्रीक ने कहा कि इस मुद्दे पर चर्चा होनी चाहिए (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कहा, ज्‍यादा रिव्‍यू होते तो होल्‍डर 11 रन पर आउट होते
  2. इंडीज के कोच स्‍टुअर्ट लॉ ने भी इस बयान का किया समर्थन
  3. स्‍ट्रीक ने इस मुद्दे पर चर्चा किए जाने की जरूरत बताई
बुलावायो: जिम्बाब्वे क्रिकेट टीम के मुख्य कोच हीथ स्ट्रीक और वेस्टइंडीज टीम के मुख्य कोच स्टुअर्ट लॉ, दोनों चाहते हैं कि टेस्ट की एक पारी में निर्णय समीक्षा प्रणाली (डीआरएस) की संख्या दो से ज्यादा कर दी जाए. इन दोनों ने यह बात हाल ही में जिम्बाब्वे और वेस्टइंडीज के बीच खत्म हुए टेस्ट मैच के बाद कही है. टेस्ट मैच के दौरान अगर जिम्बाब्वे के पास दो से ज्यादा रिव्यू होते तो वह जेसन होल्डर को 11 के निजी स्कोर पर पवेलियन भेज दिया होता.होल्डर ने बाद में मैच में शतक जड़ा वहीं अगर वेस्टइंडीज के पास रिव्यू होता तो वह जिम्बाब्वे के कप्तान ग्रेम क्रिमर को आउट कर शायद मैच जीत सकती थी.

यह भी पढ़ें: न्यूजीलैंड के इस क्रिकेटर ने राजकोट T-20 मैच से पहले दिया बड़ा बयान

टिप्पणियां
वेबसाइट क्रिकइंफो ने स्टुअर्ट लॉ के हवाले से लिखा है, "कैमरा लगाने और तकनीक को लाने में काफी पैसा खत्म होता है, लेकिन हमने उनका दो बार गलत तरीके से उपयोग किया. तकनीक का पास होना लेकिन उसका सही से उपयोग न कर पाना, मेरे लिए इस बात का कोई मतलब नहीं बनता है. हमें इसमें ज्यादा चतुराई बरतरनी पड़ेगी क्योंकि हमारे पास सिर्फ दो रिव्यू होते हैं."

वीडियो: पुजारा बोले, धोनी और विराट में जीत की भूख हैं कॉमन
स्ट्रीक ने भी स्टुअर्ट की बात को सही ठहराते हुए कहा, "आप इस तकनीक को लाने के लिए काफी पैसा खत्म करते हैं. जो लोग देख रहे थे उन्हें पता है कि गलत फैसले लिए गए. यह ऐसा मुद्दा है जिस पर हमें चर्चा करनी चाहिए कि हम इस तरह की महंगी तकनीक का अच्छे से उपयोग कैसे कर सकते हैं ताकि सही फैसले लिए जा सकें." (इनपुट: एजेंसी)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement