NDTV Khabar

विनोद कांबली के 'इस स्पेशल रिकॉर्ड' की बराबरी की विराट कोहली ने!

बल्ले से आग उगल रहे विराट कोहली ने फिरोजशाह कोटला में एक बहुत ही खास रिकॉर्ड की बराबरी कर ली, लेकिन अब यही रिकॉर्ड उनके लिए चुनौती बन गया है!

16 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
विनोद कांबली के 'इस स्पेशल रिकॉर्ड' की बराबरी की विराट कोहली ने!

विराट कोहली

खास बातें

  1. विराट के लगातार 2 दोहरे शतक व एक शतक!
  2. विनोद कांबली ने किया था 24 साल पहले कारनामा
  3. क्या दक्षिण अफ्रीका में इतिहास रच पाएंगे कोहली?
नई दिल्ली: भारतीय कप्तान विराट कोहली ने अपने घरेलू फिरोज शाह कोटला मैदान पर श्रीलंका के खिलाफ खेली जा रही सीरीज में लगातार दूसरा दोहरा और  तीसरा शतक जड़कर यूं तो कई रिकॉर्ड अपनी झोली में डाले, लेकिन इस दोहरे शतक के साथ सबसे पहले उन्होंने स्पेशल रिकॉर्ड की बराबरी की, जिसका करोड़ों भारतीय क्रिकेटप्रेमियों को पिछले 24 साल से इंतजार था. कोहली ने इस रिकॉर्ड की बराबरी तो कर ली, लेकिन यह स्पेशल रिकॉर्ड अब कोहली के लिए अब चैलेंज भी बन गया है. 

जब रविवार को जब विराट कोहली ने इस 24 साल पुराने रिकॉर्ड की बराबरी की, तो भारतीय क्रिकेटप्रेमियों की खुशी देखने लायक थी. अब इन क्रिकेटप्रेमियों की नजरें दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ केपटाउन में नौ जनवरी से शुरू हो रहे  पहले टेस्ट मैच पर लग गई हैं क्योंकि विराट के सामने इस स्पेशल रिकॉर्ड को तोड़ने का पूरा-पूरा मौका है. बता दें कि करीब 24 साल पहले साल 1993 में सचिन के बालसखा और लेफ्टी बल्लेबाज विनोद कांबली ने लगातार दो दोहरे और एक शतक जड़कर क्रिकेट की दुनिया में तहलका मचा दिया था. हालांकि, बाद में कांबली अपने टेस्ट करियर को विराट जैसी ऊंचाई नहीं दे सके थे.

यह भी पढ़ें : धोनी की 'उस चोट' की वजह से विराट कोहली ने किया यह 'डबल धमाका' !

तब विनोद कांबली ने इंग्लैंड और जिंबाब्वे के खिलाफ लगातार दो दोहरे शतक और इसके ठीक बाद श्रीलंका के खिलाफ अगले टेस्ट में शतक जड़ा था. अब विराट कोहली ने करीब 24 साल बाद  श्रीलंका की लंका लगाते हुए लगातार तीन पारियों में एक शतक और दो दोहरे शतक जड़कर कांबली के रिकॉर्ड को बराबर कर लिया. बहरहाल अब विराट कोहली के प्रशंसकों और क्रिकेट पंडितों की नजरें इस पर लगी हुई हैं कि विराट कोहली अगले कुछ हफ्तों में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट में लगातार चौथा शतक जड़कर कांबली  के रिकॉर्ड को तोड़ने के साथ ही नया इतिहास रच पाते हैं, या नहीं. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement