World Cup 2019: आईसीसी ने वर्ल्ड कप फाइनल में 'ओवर-थ्रो विवाद' पर पहली बार खोला मुंह

World Cup 2019: आईसीसी ने वर्ल्ड कप फाइनल में 'ओवर-थ्रो विवाद' पर पहली बार खोला मुंह

World Cup 2019: बेन स्टोक्स ओवर थ्रो के दौरान रन लेते हुए.

दुबई:

इंग्लैंड में जब से वर्ल्ड कप (World Cup 2019) खत्म हुआ, तब से पूरी दुनिया भर के क्रिकेटप्रेमी इंटरनेशलन क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी, ICC) पर बुरी तरह से टूट पड़े और यह अभी भी जारी है. वजह है न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए फाइनल में बहुत ही खराब अंपायरिंग का होना. खासकर इस पर उस घटना के लिए, जब इंग्लैंड की बैटिंग के दौरान आखिरी ओवर में चौथी गेंद पर ओवर-थ्रो पर मैदानी अंपायर धर्मसेना ने इंग्लैंड को छह रन दे दिए थे. बहरहाल, अब पहली बार आईसीसी ने इस मामले पर अपनी चुप्पी तोड़ी है. 

यह भी पढ़ें: इसलिए बेन स्टोक्स हुए अपराधबोध के शिकार, बोले-जीवन भर केन विलियमसन से माफी मांगता रहूंगा

इससे पहले मामले ने तब तूल पकड़ लिया था, जब आईसीसी के पूर्व दिग्गज और सम्मानित अंपायर साइमन टफेल ने यह दावा किया था कि इंग्लैंड को ओवर-थ्रो पर एक रन ज्यादा दिया गया. टफेल के इसी बयान के बाद मैदानी अंपायर की इस गलती की पोल खुली और इसके बाद तो पूर्व  क्रिकेटर और प्रशंसक और भी ज्यादा गुस्से से भर गए. 

यह भी पढ़ें: बीसीसीआई ने मांगे मुख्य कोच सहित छह अन्य पदों के लिए आवेदन, ये हैं शर्तें लेकिन रवि शास्त्री...

बहरहाल, वैश्विक मीडिया और पूर्व क्रिकेटरों की बाउंड्री से परिणाम निकलने के नियम की कड़ी आलोचना और फिर बओवर-थ्रो विवाद पर आईसीसी ने कहा कि अंपायरों के किसी भी निर्णय पर कुछ भी कहना हमारी नीति के खिलाफ है. साथ ही, प्रवक्ता ने यह भी कहा कि मैदान पर अंपायर आईसीसी की नियमों की किताब में नियमों की व्याख्या के आधार पर ही कोई फैसला लेते हैं. 

VIDEO:  वर्ल्ड कप के लीग मुकाबले में भारत ने पाकिस्तान को 89 रन से हराया था. 

बता दें कि साइमन टफेल पांच बार आईसीसी अंपायर ऑफ द ईयर रहे हैं. उन्होंने कहा था कि मैदानी अंपायरों ने साफ तौर पर तब ओवर-थ्रो में गलती की थी, जब उन्होंने इंग्लैंड को छह रन दे दिए थे. अगर एक रन दिया जाता, तो इसका परिणाम पर असर पड़ता. वहीं, ठीक अगली गेंद पर स्ट्राइक भी बेन स्टोक्स नहीं, बल्कि आदिल रशिद के पास होती. 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com