World Cup 2019: इन कारणों से सेलेक्टरों ने एबी डिविलियर्स का वर्ल्ड कप में खेलने का प्रस्ताव ठुकरा दिया

World Cup 2019: इन कारणों से सेलेक्टरों ने एबी डिविलियर्स का वर्ल्ड कप में खेलने का प्रस्ताव ठुकरा दिया

World Cup: एबी डिविलियर्स

खास बातें

  • अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं एबी डिविलियर्स
  • अलग-अलग देशों की टी20 लीग में खेलते हैं
  • टीम सेलेक्शन से 24 घंटे पहले बोर्ड से संपर्क साधा था
जोहानिसबर्ग:

इंग्लैंड में खेले जा रहे वर्ल्ड कप (World Cup 2019) में दुनिया भर के करोड़ों क्रिकेटप्रेमी दक्षिण अफ्रीकी टीम के प्रदर्शन से हैरान हैं. न गेंदबाजी काम कर रही है, न बल्लेबाज रन बना पा रह हैं और न ही फील्डरों के हाथ में गेंद ठहर पा रही है. दक्षिण अफ्रीका टीम अपने शुरुआती तीनों मैच गंवा चुकी है. शुरुआत में दक्षिण अफ्रीका को इंग्लैंड और बांग्लादेश से हार मिली. भारत के खिलाफ जरूर यह टीम लड़ते दिखाई पड़ी, लेकिन इस मैच में भला नहीं ही हुआ. तीन हार के बाद अब बात साफ हो चली है कि दक्षिण अफ्रीका का सेमीफाइनल में पहुंचना बहुत ही मुश्किल हो चला है. दक्षिण अफ्रीकी समर्थकों को दिग्गज एबी डिविलियर्स (AB de Villiers) की याद सता रही है. कारण यह है कि यह मिड्ल ऑर्डर ही रहा, जो तीनों मैचों में एकदम चूर-चूर दिखाई पड़ा. लेकिन एब एबी डिविलियर्स (AB de Villiers) को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है. एबी ने वर्ल्ड कप (World Cup 2019) में खेलने की पेशकश की थी, लेकिन क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका ने उनकी पेशकश पर ठुकरा दिया.

बहरहाल, अब एक चौंकाने वाली खबर आ रही है कि वर्ल्ड कप के लिए दक्षिण अफ्रीका टीम की घोषणा से 24 घंटे पहले एबी डि विलियर्स ने वर्ल्ड कप में खेलने की पेशकश की थी. अब यह तो आप जानते ही हैं कि एबी वनडे क्रिकेट से काफी पहले ही संन्यास ले चुके हैं. सूत्रों की मानें, तो डिविलियर्स ने वर्ल्ड कप में खेलने के लिए कप्तान फैफ डु प्लेसिस और मुख्य कोच ओटिस गिब्सन के जरिए मुख्य चयनकर्ता लिंडा जोंडी के समक्ष अपनी बात पहुंचाई थी.

यह भी पढ़ें: शतक बनाने के बाद भी रोहित शर्मा बोले, 'मैं अपना स्‍वाभाविक खेल नहीं खेल सका'

लेकिन न केवल एबी के प्रस्ताव को ठुकरा दिया गया, बल्कि उनके प्रस्ताव पर विचार तक नहीं किया गया. सूत्रों की मानें, तो एबी के प्रस्ताव को ठुकराने के पीछे दो मुख्य कारण रहे. चलिए अब आप इन दो कारणों के बारे में भी जान लीजिए. पहला कारण तो यह रहा कि एबी डि विलियर्स ने विश्व कप में चयन के लिए घरेलू व अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में खेलने के मापदंड का पालन नहीं किया. हालांकि, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद एबी अलग-अलग देशों की टी20 लीग में खेलते दिखाई पड़े.

यह भी पढ़ें:  इस बड़े रिकॉर्ड से 'जरा सा' चूक गए युजवेंद्र चहल, लेकिन....

वहीं, डिविलियर्स के प्रस्ताव पर विचार न करने के पीछे यह महसूस किया गया कि उनके चयन का मतलब उन खिलाड़ियों के साथ अन्याय होता, जिन्होंने उनकी अनुपस्थिति में बेहतर प्रदर्शन किया. टूर्नामेंट की टीम चयन की दिशा में एडेन मार्करैम व रैसी वॉन डेर डुसेन ने अच्छा प्रदर्शन किया था. और डि विलियर्स को टीम में चुनने का अर्थ यह होता कि इन दोनों में से किसी एक को ड्रॉप करना करना पड़ता. 
 
VIDEO: दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मैच से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में विराट कोहली.

बहरहाल, वर्तमान हालात में टीम को एबी डिविलियर्स की बहुत ही ज्यादा जरूरत महसूस हो रही है और प्रशंसक उनकी वापसी की मांग कर रहे हैं, लेकिन क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका के नजरिए को देखते हुए यह बहुत ही असंभव सा दिखाई पड़ रहा है. 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com