NDTV Khabar

विश्व कप : भारत ने वेस्टइंडीज को चार विकेट से हराया, क्वार्टर फाइनल में जगह हुई पक्की

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
विश्व कप : भारत ने वेस्टइंडीज को चार विकेट से हराया, क्वार्टर फाइनल में जगह हुई पक्की
पर्थ:

भारत ने वाका मैदान पर शुक्रवार को हुए आईसीसी विश्व कप-2015 के पूल-बी मुकाबले में वेस्टइंडीज को चार विकेट से हराकर लगातार चौथी जीत दर्ज कर ली। इसके साथ ही भारतीय टीम का नॉकआउट वर्ग में पहुंचना भी पक्का हो गया।

भारत के सामने जीत के लिए 183 रनों का लक्ष्य था जिसे टीम ने 39.1 ओवरों में छह विकेट खोकर हासिल किया। इस जीत के साथ महेंद्र सिंह धोनी विदेशी धरती पर भारत के सबसे सफल कप्तानों शुमार हो गए हैं। विदेशी जमीन पर कप्तान के तौर पर धोनी की यह 59वीं जीत है। इससे पूर्व सौरव गांगुली के नाम सबसे ज्यादा 58 जीत थे।

लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत की राह हालांकि आसान नहीं रही और उसके छह विकेट एक समय 134 रनों पर गिर गए थे। इसके बाद कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (41 नाबाद) ने एक बार फिर सधी हुई पारी खेली और टीम को जीत दिलाई। धोनी और रविचंद्रन अश्विन (16 नाबाद) ने सातवें विकेट के लिए 51 रनों की नाबाद साझेदारी की।

वेस्टइंडीज की ओर से जेरोम टेलर और आंद्रे रसेल को दो-दो सफलता मिली। केमार रोच और ड्वायन स्मिथ को एक-एक विकेट मिला।

इससे पूर्व, रोहित शर्मा (7) के साथ भारतीय पारी की शुरुआत करने आए शिखर धवन (9) को पांचवें ओवर की पहली गेंद पर जेरोम टेलर ने पवेलियन भेजकर भारत को पहला झटका दे दिया। इस समय टीम की रनसंख्या केवल 11 थी। नौ रन बाद ही रोहित भी टेलर का शिकार हो गए।

इसके बाद विराट कोहली (33) और अजिंक्य रहाणे (14) ने मिल कर भारतीय पारी को संवारने की कोशिश की और तीसरे विकेट के लिए 43 रन जोड़े। आंद्रे रसेल ने हालांकि 15वें ओवर की आखिरी गेंद पर कोहली को मार्लन सैमुअल्स के हाथों कैच करा कर खतरनाक होती इस जोड़ी को तोड़ दिया।

कुछ देर बाद ही अजिंक्य रहाणे भी रोच की गेंद पर विकेटकीपर दिनेश रामदीन को अपना कैच दे बैठे। उनका विकेट हालांकि विवादास्पद रहा। रामदिन द्वारा कैच पकड़े जाने के बाद रहाणे ने तीसरे अंपायर से रिव्यू मांगा था। सुरेश रैना 22 रन बनाकर आउट हुए।

इससे पहले भारत ने अपने गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन की बदौलत वेस्टइंडीज टीम को 44.2 ओवर में 182 रनों पर समेट दिया। भारत की ओर से मोहम्मद समी ने तीन जबकि उमेश यादव और रवींद्र जडेजा ने दो-दो विकेट हासिल किए। रविचंद्रन अश्विन तथा मोहित शर्मा को एक-एक सफलता मिली।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी वेस्टइंडीज के सात विकेट एक समय 25 ओवर से पहले ही 85 रनों पर गिर गए थे और ऐसा लगने लगा था कि कैरेबियाई टीम शायद 100 रनों के आस-पास सिमट जाएगी।

इसके बाद लेकिन आठवें विकेट के लिए डारेन सैमी (26) और कप्तान जेसन होल्डर (57) के बीच हुई 39 रनों की साझेदारी ने टीम को इस संकट से उबार लिया।

सैमी के पवेलियन लौटने के बाद जेरोम टेलर (11) के साथ होल्डर ने नौवें विकेट के लिए 51 रन जोड़े और टीम को 150 रनों के पार पहुंचाया। होल्डर ने 64 गेंदों की अपनी पारी में चार चौके और तीन छक्के लगाए और आखिरी बल्लेबाज के रूप में आउट हुए। इस दौरान हालांकि भारतीय क्षेत्ररक्षण बेहद औसत रहा और खिलाड़ियों ने कई कैच छोड़े।

कैरेबियाई टीम को पहला झटका पांचवें ओवर में आठ रनों के योग पर ड्वायन स्मिथ (6) के रूप में लगा। वेस्टइंडीज टीम के कुल योग में अभी सात रन ही और जुड़े थे कि मार्लन सैमुअल्स (2) दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से रन आउट हो गए।

धीमी शुरुआत के बीच विस्फोटक बल्लेबाज क्रिस गेल (21) ने रनगति बढ़ाने की कोशिश की और नौवें ओवर की आखिरी गेंद पर एक शॉट हवा में उछाल बैठे। मोहित शर्मा ने उनका कैच लिया। गेल का विकेट समी ने हासिल किया।

सबसे बड़ी सफलता मिलने के बाद अगले ही ओवर में भारतीय गेंदबाजों को दिनेश रामदीन (0) का भी विकेट मिल गया। उन्हें उमेश यादव ने बोल्ड किया। इसके बाद लेंडल सिमंस 9 रन और जोनाथन कार्टर 21 रन बनाकर पवेलियन लौटे। आंद्रे रसेल आठ रन बनाकर आउट हुए।

टिप्पणियां


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement