NDTV Khabar

वर्ल्ड कप : पाकिस्तान ने जिम्बाब्वे को 20 रनों से हराकर दर्ज की अपनी पहली जीत

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
वर्ल्ड कप : पाकिस्तान ने जिम्बाब्वे को 20 रनों से हराकर दर्ज की अपनी पहली जीत
ब्रिस्बेन: वहाब रियाज (नाबाद 54, 4 विकेट) के हरफनमौला खेल की बदौलत पाकिस्तान क्रिकेट टीम ने गाबा मैदान पर रविवार को खेले गए आईसीसी विश्व कप-2015 के पूल-बी मुकाबले में जिम्बाब्वे को 20 रनों से हरा दिया। यह पाकिस्तान की पहली जीत है।

पाकिस्तान ने जिम्बाब्वे के सामने 236 रनों का लक्ष्य रखा, जिसका पीछा करते हुए जिम्बाब्वे की टीम 49.4 ओवरों में सभी विकेट गंवाकर 215 रन ही बना सकी। जिम्बाब्वे की ओर से ब्रेंडन टेलर (50) ने शानदार अर्धशतक लगाया और कप्तान एल्टन चिगुम्बुरा ने 35 रनों की पारी के साथ अंत तक उसके संघर्ष को जिंदा रखा लेकिन वह अपनी टीम को जीत तक नहीं पहुंचा सके।

मोहम्मद इरफान (30-4) ने 22 रन के कुल योग पर ही दो विकेट लेकर जिम्बाब्वे को शुरुआती झटके दे दिए, लेकिन इसके बाद हेमिल्टन मसाकाद्जा (29) और टेलर ने तीसरे विकेट के लिए 52 रनों की साझेदारी की।

मसाकाद्जा 54 गेंदों पर चार चौके लगाककर 74 के कुल योग पर आउट हुए। इसके बाद सीन विलियम्स ने 33 रनों की पारी खेली और टेलर के साथ 54 रनों की साझेदारी की। टेलर का विकेट 128 रनों के कुल योग पर गिरा। टेलर ने 72 गेंदों पर छह चौके लगाए।

एक समय जिम्बाब्बे ने 150 रनों पर पांच विकेट गंवाए थे और उस समय उसकी पारी का 34वां ओवर चल रहा था। उसकी जीत के पूरे आसार थे लेकिन मैन ऑफ द मैच चुने गए वहाब रियाज और इरफान ने दो रनों के अंतराल पर तीन विकेट लेकर जिम्बाब्वे की उम्मीदों को करारा झटका दे दिया।

चिगुम्बुरा ने हालांकि इसके बाद भी तिनाशे पन्यंगारा (10) के साथ नौवें विकेट के लिए 27 रन जोड़कर अपनी टीम को जीत की स्थिति में बनाए रखा लेकिन पारी के अंतिम ओवर में इन दोनों के आउट होने के साथ जिम्बाब्वे की उम्मीदें समाप्त हो गईं। पाकिस्तान की ओर से इरफान और रियाज ने चार-चार विकेट लिए।

पाकिस्तान अब तक खेले तीन में से दो मैच हार चुका है। उसे भारत और वेस्टइंडीज ने पटखनी दी है। दूसरी ओर, जिम्बाब्वे की टीम अब तक खेले गए चार मैचों में से एक में ही जीत हासिल कर सकी है।

पूल-ए की तालिका में पाकिस्तान दो अंक के साथ सात टीमों में छठे स्थान पर पहुंच गई, जबकि जिम्बाब्वे की टीम दो अंक लेकर पांचवें स्थान पर काबिज है।

इससे पहले, पाकिस्तान ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने का फैसला किया लेकिन मिस्बाह का यह फैसला सही साबित नहीं हुआ।

जिम्बाब्वे की कसी गेंदबाजी के आगे उनके बल्लेबाज न तो अपना विकेट ही बचा सके और न खुलकर रन ही बना सके। कप्तान मिस्बाह उल हक (73) और  रियाज की संघर्षपूर्ण अर्धशतकीय पारियों की बदौलत पाकिस्तानी टीम ने निर्धारित 50 ओवरों में सात विकेट पर 235 रन बनाने में सफल रही।

पाकिस्तान ने एक समय 20.1 ओवरों में सिर्फ 58 रन बनाए थे और उसके तीन बल्लेबाज पवेलियन लौट चुके थे। नासिर जमशेद (1), अहमद शहजाद (0) और हरिस सोहेल (27) पवेलियन लौट चुके थे।

चार रन के कुल योग पर दो विकेट गिरने के बाद हरिस और मिस्बाह ने तीसरे विकेट के लिए 54 रन जोड़े। इसके बाद उमर अकमल (33) और मिस्बाह ने चौथे विकेट के लिए 69 रनों की साझेदारी की।

उमर का विकेट 127 के कुल योग पर गिरा। शाहिद अफरीदी (0) भी इसी योग पर आउट हुए। अफरीदी की विदाई के बाद मिस्बाह ने शोएब मकसूद (21) के साथ 28 रन जोड़े और फिर रियाज के साथ सातवें विकेट के लिए 47 रनों की साझेदारी की।

मिस्बाह का विकेट 202 रनों के कुल योग पर गिरा। कप्तान ने 121 गेंदों का सामना कर तीन चौके लगाए। उनके आउट होने के बाद रियाज ने खुलकर हाथ दिखाए और पारी के एकमात्र छक्के को अंजाम दिया। रिजाय ने 40 गेंदों का सामना कर चार चौके और एक छक्का लगाया।

रियाज और सोहेल खान (नाबाद 6) ने आठवें विकेट के लिए 23 गेंदों पर 33 रन जोड़े। जिम्बाब्वे की ओर से तेंदाई चातारा ने तीन विकेट लिए जबकि सीन विलियम्स को दो सफलता मिली। सिकंदर रजा और तावांदा मुपारिवा को एक-एक सफलता मिली।

टिप्पणियां

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement