वर्ल्ड कप सेमीफाइनल : बड़े मैच के दबाव को संभाल नहीं सकी टीम इंडिया

वर्ल्ड कप सेमीफाइनल : बड़े मैच के दबाव को संभाल नहीं सकी टीम इंडिया

नई दिल्ली:

सिडनी में सेमीफ़ाइनल मुक़ाबले में टीम इंडिया को करारी हार का सामना करना पड़ा। 95 रन की हार के साथ ही टीम इंडिया के लगातार दूसरी बार वर्ल्ड कप जीतने का सपना टूट गया।

टीम इंडिया की हार की पांच बड़ी वजहों पर एक नजर-

1. टॉस हारना
सिडनी में शुरुआत में ही टीम इंडिया के लिए अपशगुन हो गया। भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने माना कि टॉस हारने के बाद चिंता हुई थी। पहले बल्लेबाज़ी कर कंगारुओं ने बड़ा स्कोर खड़ा कर भारत पर दबाव बना दिया।

2. स्मिथ का शतक
उमेश यादव ने डेविड वॉर्नर को आउट कर अच्छी शुरुआत तो दिलाई, लेकिन स्टीवन स्मिथ ने मुश्किल परिस्थितियों में शानदार शतक बनाकर टीम इंडिया को संकट में डाल दिया। स्मिथ ने एरॉन फिंच के साथ दूसरे विकेट के लिए 182 रन जोड़कर तय कर दिया कि ऑस्ट्रेलियाई टीम 300 के पार पहुंचेगी।

3. पटरी से उतरे गेंदबाज़
जिन गेंदबाज़ों के बूते टीम इंडिया लगातार 7 मैच जीतने में कामयाब रही, वे इस मुक़ाबले में पटरी से उतर गए। उमेश यादव को 4 विकेट जरूर मिले, लेकिन उन्होंने 72 रन खर्च डाले। मोहित शर्मा ने 10 ओवरों में 75 रन दे दिए तो मोहम्मद शमी को कोई विकेट नहीं मिला। 10 ओवर में 68 रन देने के बाद धोनी ने मैच के बाद कहा कि तेज़ गेंदबाज़ बेहतर कर सकते थे।

4. कोहली-रैना की नाकामी
329 रनों के लक्ष्य के सामने टीम इंडिया के दो बड़े बल्लेबाज़ फ्लॉप हो गए। विराट कोहली से सिर्फ़ एक रन बना पाया। वहीं सुरेश रैना ने महज 7 रन बनाए। इन दोनों बल्लेबाज़ों की नाकामी ने टीम इंडिया को फ़ाइनल की होड़ से बाहर कर दिया।

5. बड़े मुक़ाबले का दबाव
सेमीफ़ाइनल से ठीक पहले भारतीय बल्लेबाज़ रोहित शर्मा ने भरोसा जताया था कि टीम इंडिया बड़े मुक़ाबला जीतना जानती है, लेकिन ऑस्ट्रेलिया के सामने टीम जिस तरह दबाव में ढह गई। उसे देखते हुए यही कहा जा सकता है कि टीम अभी दबाव के पलों को संभालना सीख नहीं सकी है।

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com