NDTV Khabar

'काल के पंजे' से खुद को ईडन में बचा पाएगी श्रीलंकाई टीम?

मेजबान भारत के खिलाफ शुरू हो रही तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के पहले मुकाबले में बुधवार को श्रीलंका पर मंडरा है 'बहुत ही बड़ा खतरा'

33 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
'काल के पंजे' से खुद को ईडन में बचा पाएगी श्रीलंकाई टीम?

खास बातें

  1. ईडेन गार्डन में श्रीलंका पर मंडरा रहा है काल का पंजा!
  2. कैसे इस पंजे से बचेंगे मेहमान?
  3. क्रिकेटप्रेमियों के बीच जोर-शोर से शुरू हुई चर्चा
कोलकाता: गुरुवार से भारत और श्रीलंका के बीच तीन टेस्ट मैचों की सीरीज का आगाज हो रहा है. ईडन गार्डन में शुरू हो पहले टेस्ट में दोनों देशों की टीमें एक दूसरे से भिड़ने को तैयार हैं. लेकिन मुकाबले से पहले ही विराट एंड कंपनी ने लंकाइयों के सामने खड़ा कर दिया है 'पंजा चैलेंज'!. वास्तव में श्रीलंका के सामने फिलहाल यही सबसे बड़ी चुनौती है. क्रिकेट प्रेमियों के बीच चर्चाएं शुरू हो चुकी हैं और क्रिकेट पंडितों सहित गली-नुक्कड़, चौराहों, पान की दुकानों सभी जगह जोर-शोर से यह चर्चा तेजी से परवान चढ़ने लगी है कि क्या लंकाई 'विराट के पंजे' से मुक्त हो पाएंगे?.यूं तो इस बड़े सवाल का जवाब ईडेन गार्डन में मिल जाएगा, लेकिन लंकाई टीम के हालिया प्रदर्शन पर गौर करें, तो उसका 'विराट के पंजे' से निकलना बहुत ही मुश्किल नजर आ रहा है.  वैसे आप सोच रहे होंगे कि आखिर यह "विराट का पंजा" क्या है. 

VIDEO: इस गेंदबाज ने डाली ऐसी गेंद, बल्लेबाज से लेकर अंपायर तक देखते रह गए

क्या कहते हैं आंकड़े
दरअसल यह काल का पंजा वो लगातार पांच हार हैं, जो लंकाई टीम को पिछले लगातार पांच टेस्ट मैचों में भारत के हाथों झेलनी पड़ीं.

  • 20-24 अगस्त 2015 को मेजबानों को कोलंबो (पी. सारा. ओवल) में 278 रनों से धोया.
  • 28 अगस्त से 1 सितंबर के बीच कोलंबो (सिंहली स्पोर्ट्स क्लब ग्राउंड) में भारत 117 रन से जीता.
  • 26-29 जुलाई 2017 को भारत ने मेजबान श्रीलंका की गाले (गाले इंटरनेशनल स्टेडियम) में 304 रनों से लंका लगाई.
  • 3-6 अगस्त 2017 को भारत की कोलंबो में पारी और 53 रन से बड़ी जीत.
  • 12-14 अगस्त तक भारत ने केवल तीन दिन में ही मेजबान टीम को कैंडी (पालेकल इंटरनेशनल स्टेडियम) में फिर से पारी और 171 रनों से धूल चटायी.


वीडियो : महेंद्र सिंह धोनी ने दिया आलोचकों को जवाब

अब तो आप समझ ही गए होंगे कि हम श्रीलंका टीम पर ईडेन गार्डन में मंडरा रहे किस विराट के पंजे के बारे में बात कर रहे थे. साफ है कि मेहमान टीम पहले ही दिन से अपने ऊपर मंडरा रहे इस पंजे के दबाव के साथ मैदान पर उतरेगी. अब देखने वाली बात यह होगी क्या लंकाई अपने आप को भारत के हाथों 'हार के इस सिक्सर' से खुद को बचा पाते हैं,या नहीं?.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement