ट्रिपल सेंचुरी से सरफराज खान की धमाकेदार वापसी, ड्रॉ मैच में मुंबई को 3 अंक

Ranji Trophy: सरफराज खान पहली बार तब देश भर में चर्चा का विषय बन गए थे, जब उन्होंने साल 2009 में सिर्फ 12 साल की उम्र में मुंबई की स्कूली हैरिश शील्ड के एक मैच में 421 गेंदों पर 439 रन की पारी खेली.

ट्रिपल सेंचुरी से सरफराज खान की धमाकेदार वापसी, ड्रॉ मैच में मुंबई को 3 अंक

नाबाद तिहरा शतक बनाने के बाद सरफराज खान

खास बातें

  • पिछले कुछ साल काफी खराब गुजरे सरफराज के
  • उत्तर प्रदेश के खिलाफ खेली नाबाद 301 रन की पारी
  • मुंबई की पहली पारी की बढ़त सुनिश्चित की सरफराज की पारी ने
मुंबई:

पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद कैफ ने युवा सरफराज खान (Sarfaraz Khan) को बधाई देते हुए बिल्कुल सही ही लिखा कि जिंदगी अक्सर किसी को दूसरा मौका नहीं देती!! लेकिन जब देती है, तो इसे भुनाना भी अपने आप में एक कला है. और पिछले करीब दो साल से करियर में खासा खराब समय देखने वाले सरफराज खान (Sarfaraz Khan) ने मिले 'दूसरे मौके' को दोनों हाथों से भुनाते हुए शानदार वापसी की है. चल रहे रणजी ट्रॉफी के छठे राउंड में उत्तर प्रदेश के खिलाफ बुधवार को वानखेड़े स्टेडियम में खत्म हुए मैच के चौथे दिन सरफराज खान (Sarfaraz Khan) ने शानदार तिहरा शतक जड़कर एक बार फिर से बता दिया क्यों उनके टैलेंट को बहुत ही खास कहा जाता है. 

वानखेड़े स्टेडियम में बुधवार को खत्म हुए मुकाबले में मुंबई ने 625 के स्कोर के जवाब में अपने दो विकेट 16 रन पर गंवा दिए थे. सरफराज छठे नंबर पर बैटिंग के लिए आए. और वह 391 गेंदों पर 301 रन बनाकर नाबाद रहे. सरफराज ने अपनी इस पारी में 30 चौके और 8 छक्के लगाए. सरफराज की इस पारी से एक समय संकट में दिख रही मुंबई ने 7 विकेट पर 688 रन बनाकर पारी घोषित करते हुए पहली पारी की बढ़त के आधार पर महत्वपूर्ण तीन अंक सुनिश्चित कर दिए. 

यह भी पढ़ें:  NZ vs IND: ...लेकिन रिकॉर्डों का पलड़ा तो न्यूजीलैंड की ओर झुक रहा

बता दें कि सरफराज खान पहली बार तब देश भर में चर्चा का विषय बन गए थे, जब उन्होंने साल 2009 में सिर्फ 12 साल की उम्र में मुंबई की स्कूली हैरिश शील्ड के एक मैच में 421 गेंदों पर 439 रन की पारी खेली. इसके बाद साल 2015 में करीब 15 साल की उम्र में उन्हें मुंबई के लिए रणजी ट्रॉफी करियर की भी शुरुआत की, तो अगले ही साल वह आईपीएल में बिकने वाले सबसे कम उम्र के खिलाड़ी बन गए. बेंगलुरु ने उन्हें 15 लाख रुपये में खरीदा था. साल 2016 में अंडर-19 वर्ल्ड कप में सरफराज 6 मैचों से 355 रन बनाकर टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे. 

यह भी पढ़ें: कोच रवि शास्त्री ने स्पष्ट कीं न्यूजीलैंड दौरे को लेकर कई बातें

लेकिन इसके बाद 2015-16 में मुंबई छोड़कर सरफराज उत्तर प्रदेश क्या गए, उनका करियर की पटरी से उतर गया. उनकी फॉर्म गिर गई. वह उत्तर प्रदेश टीम से फिटनेस के कारण बाहर हुए, तो मुंबई लौटने पर भी उन्हें एक साल कूलिंग पीरियड नियम के कारण जगह नहीं मिली. ऊपर से उनके घुटने में चोट लग गई, जिसका ऑपरेशन कराना पड़ा. बेंगलोर ने उन्हें 1.75 करोड़ में खरीदा था, तो पिछले साल उन्हें रिलीज कर दिया. पंजाब ने उन्हें खरीदा जरूर, लेकिन सिर्फ 25 लाख रुपये में. और अब सरफराज ने खराब समय को पीछे छोड़ते हुए एक बार फिर से बड़ा धमाका  कर डाला. 

VIDEO: पिंक बॉल बनने की पूरी कहानी, स्पेशल स्टोरी. 

सरफराज खान ने तिहरा शतक जड़ डाला. और वह भी धमाकेदार अंदाज में. इसमें दो राय नहीं कि 22 साल के सरफराज की इस पारी की गूंज राष्ट्रीय चयनकर्ताओं तक जरूर पहुंचेगी. और यह पारी उनके करियर को एक नया जन्म देने वाली साबित होगी.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com