NDTV Khabar

जानिए युवराज सिंह ने अपने आदर्श सचिन तेंदुलकर को किस मामले में पीछे छोड़ा

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जानिए युवराज सिंह ने अपने आदर्श सचिन तेंदुलकर को किस मामले में पीछे छोड़ा

युवराज सिंह (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली:

जब सचिन तेंदुलकर और युवराज सिंह के रिश्ते की बात होती है तब एक ऐसा रिश्ता सामने आता है जो शायद ही दूसरे क्रिकेटरों के बीच देखने को मिलता है. युवराज सिंह सचिन तेंदुलकर को सिर्फ अपना आदर्श नहीं बल्कि बड़ा भाई मानते हैं. युवराज सिंह ने सचिन को देखते हुए ही क्रिकेट खेलना शुरू किया. सचिन ने जब 16 साल की उम्र में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलना शुरू किया, तब युवराज सिर्फ 8 साल के थे. सचिन के खेल ने युवराज को इतना प्रभावित किया कि युवराज ने स्केटिंग छोड़कर क्रिकेट खेलना शुरू कर दिया था.

इस मामले में युवराज सिंह ने सचिन को पीछे छोड़ा
उसी युवराज सिंह ने आज एक मामले में सचिन तेंदुलकर को पीछे छोड़ दिया. जी हां, भारत के लिए एकदिवसीय मैचों में चौथे स्थान पर बल्लेबाजी करते हुए ज्यादा शतक मारने के मामले में युवराज सिंह ने सचिन तेंदुलकर को पीछे छोड़ दिया है. गुरुवार को कटक में इंग्‍लैंड के खिलाफ दूसरे वनडे मैच में युवराज सिंह ने यह कारनामा कर दिखाया है. इस मैच से पहले चौथे स्थान पर बल्लेबाजी करते हुए सचिन और युवराज के नाम चार-चार शतक थे लेकिन आज चौथे स्थान पर बल्लेबाजी करते हुए युवराज ने शानदार 150 रनों की पारी खेलते हुए सचिन को पीछे छोड़ दिया. चौथे स्‍थान पर बल्‍लेबाजी करते हुए पांच शतक मारने के लिए युवराज ने 101 मैचों का सहारा लिया है जबकि चार शतक मारने के लिए सचिन ने केवल 61 मैचों में बल्‍लेबाजी की थी.

टिप्पणियां

चौथे स्थान पर भारत के लिए सबसे ज्यादा शतक कोहली के नाम हैं
सचिन तेंदुलकर ने चौथे स्थान पर बल्लेबाजी करते हुए केन्या, श्रीलंका, वेस्टइंडीज और इंग्लैंड के खिलाफ शतक ठोके हैं जबकि युवराज सिंह ने चौथे स्थान पर बल्लेबाजी करते हुए इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के खिलाफ दो-दो और श्रीलंका के खिलाफ एक शतक ठोका है. एकदिवसीय मैचों में भारत के लिए चौथे स्थान पर बल्लेबाजी करते हुए सबसे ज्यादा शतक बनाने की बात की जाए तो यह रिकॉर्ड विराट कोहली के नाम है. कोहली चौथे स्‍थान पर बल्लेबाजी करते हुए 7 शतक मार चुके हैं जबकि दूसरे स्थान पर युवराज सिंह और तीसरे स्थान पर सचिन तेंदुलकर हैं.


युवराज के बुरे वक्त में हमेशा साथ खड़े नज़र आए सचिन तेंदुलकर
सचिन तेंदुलकर भी युवराज सिंह के बुरे वक्त में हमेशा साथ खड़े नज़र आए. युवराज में सचिन तेंदुलकर के प्रति जितनी भक्ति है, उतना ही प्यार सचिन भी युवराज से करते हैं. 2014 में टी-20 वर्ल्ड कप के फाइनल के बाद युवराज की जब चारों तरफ आलोचना हो रही थी तब सचिन, युवराज के साथ खड़े नजर आए थे. युवराज सिंह जब कैंसर की बीमारी के बाद ख़राब फॉर्म में चलते हुए टीम से बहार थे और उन्हें लग रहा था कि टीम में उनकी दोबारा वापसी नहीं होगी तब सचिन ने युवराज को हमेशा क्रिकेट का आनंद लेने के लिए कहा था. युवराज सिंह की जब-जब आलोचना हुई तब-तब तेंदुलकर ने उनका साथ दिया.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement