NDTV Khabar

युजवेंद्र चहल ने ढूंढी आस्ट्रेलियाई बल्लेबाज मैक्सवेल की कमजोरी

चहल ने चौथे वनडे की पूर्व संध्या पर पत्रकारों से कहा, ‘मैक्सवेल के लिये मेरी रणनीति स्टंप पर गेंदबाजी करने की नहीं होती है.

2 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
युजवेंद्र चहल  ने ढूंढी आस्ट्रेलियाई बल्लेबाज मैक्सवेल की कमजोरी

युजवेंद्र चहल(फाइल फोटो)

खास बातें

  1. चहल ने अब तक खेले गये तीनों मैचों में मैक्सवेल को आउट किया
  2. कहा, ‘मैक्सवेल के लिये मेरी रणनीति स्टंप पर गेंदबाजी करने की नहीं होती है
  3. मैक्सवेल के अलावा डेविड वार्नर अब भी खतरा होंगे भले ही वह नहीं चल पा रहे
बेंगलुरू: युजवेंद्र चहल ने वर्तमान एकदिवसीय श्रृंखला में ग्लेन मैक्सवेल को आउट करने में देर नहीं लगायी है और हरियाणा के इस लेग स्पिनर ने कहा कि आस्ट्रेलिया के इस विस्फोटक बल्लेबाज को आफ स्टंप से बाहर जाती गेंदों को खेलने में दिक्कत होती है. चहल ने अब तक खेले गये तीनों मैचों में मैक्सवेल को आउट किया. यह आस्ट्रेलियाई बल्लेबाज लगातार दो मैचों में स्टंप आउट किया. चहल ने चौथे वनडे की पूर्व संध्या पर पत्रकारों से कहा, ‘मैक्सवेल के लिये मेरी रणनीति स्टंप पर गेंदबाजी करने की नहीं होती है. ऐसा करने से नुकसान होगा. मैं उसके लिये आफ स्टंप से बाहर गेंद करता हूं और मैं अपनी गति में बदलाव करता हूं.

यह भी पढ़ें : INDvsAUS ODI: जब एमएस धोनी ने युजवेंद्र चहल की खिंचाई की, 'तू भी नहीं सुनता क्‍या'

मैं जानता हूं कि अगर मैं दो . तीन गेंदें खाली डाल देता हूं तो वह बाहर आकर लंबा शाट खेलना चाहेगा. हालांकि बल्लेबाजों को झांसा देने के लिये आपकी लाइन और लेंथ अच्छी होनी चाहिए. ’ उन्होंने कहा कि मैक्सवेल के अलावा डेविड वार्नर अब भी खतरा होंगे भले ही वह नहीं चल पा रहे हैं.

चहल ने कहा, ‘वार्नर आस्ट्रेलिया का मुख्य खिलाड़ी है. जब वह क्रीज पर पांव जमा लेता है तो बड़ी पारी खेलता है. इंदौर में भले ही आरोन फिंच ने शतक जमाया लेकिन वार्नर सबसे खतरनाक खिलाड़ी है. ’ उन्होंने कहा, ‘उन्हें आईपीएल में खेलने का अनुभव है और उनकी मानसिकता आक्रमण करने की है.अगर वह 40 से 50 गेंदें खेल लेता है तो 70 से 80 रन बना सकता है. हमारी रणनीति वार्नर को जल्दी आउट करने की है ताकि हम बीच के ओवरों में दबाव बना सकें. ’ आस्ट्रेलिया के खिलाफ पलड़ा भारी होने के बारे में चहल ने कहा कि भारतीय स्पिनरों ने अंतर पैदा किया जिन्होंने अब तक 13 विकेट लिये हैं.

VIDEO :  निडर गेंदबाज हैं कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल : सुनील गावस्‍कर​
उन्होंने कहा, ‘आस्ट्रेलियाई स्पिनरों की तुलना में हमारे स्पिनरों ने अच्छा प्रदर्शन किया और 13 विकेट लिये. हमने उनकी तुलना में परिस्थितियों का बेहतर उपयोग किया. यह हमारे लिये फायदे की बात रही. एडम जंपा उनकी टीम में एकमात्र कलाई का स्पिनर है और वह नियमित तौर पर टीम में नहीं रहा.’ 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement