NDTV Khabar

अहमदाबाद में बदमाशों ने 20 दिन की बच्ची की पीट-पीटकर की हत्या, दो गिरफ्तार

मामले की जांच में जुटी पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस पूरे मामले में अभी तक दो आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अहमदाबाद में बदमाशों ने 20 दिन की बच्ची की पीट-पीटकर की हत्या, दो गिरफ्तार

प्रतीकात्मक चित्र

खास बातें

  1. पुलिस ने दो आरोपियों को किया है गिरफ्तार
  2. बच्ची की पीटकर हत्या करने का है मामला
  3. अहमदाबाद की है पूरी घटना
नई दिल्ली:

गुजरात के अहमदाबाद से इंसानियत को शर्मसार करने वाले एक घटना सामने आई है. जहां कुछ बदमाशों ने एक परिवार पर हमला कर उनकी 20 दिन की बच्ची की बेरहमी से पीट-पीटकर हत्या कर दी. घटना अहमदाबाद के मेघानीनगर में शुक्रवार को हुई है. मामले की जांच में जुटी पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस पूरे मामले में अभी तक दो आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है. जबकि अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है. पुलिस ने गिरफ्तार दोनों आरोपियों की पहचान सतीश पाटनी और हितेश मारवाड़ी के रूप में की गई है.  

तीसरी बेटी के पैदा होने से परेशान महिला ने की नवजात की गला दबाकर हत्या, पुलिस ने किया गिरफ्तार

मामले की जांच के दौरान पता चला है कि घटना वाले दिन आरोपी अपने साथ चार से पांच लोगों को लेकर पीड़ित लक्ष्मी पाटनी के घर में घुस गए और उनके साथ मारपीट शुरू कर दी. इस दौरान आरोपियों ने लक्ष्मी की नवजात बेटी खुशबू के सिर पर हमला किया जिससे उसकी मौत हो गई. इस हमले में लक्ष्मी और उसकी बहन भी घायल हुई हैं. गौरतलब है कि रिश्तों को शर्मसार करने वाली यह कोई अकेली घटना नहीं है.


12 साल की बच्ची से रेप के बाद पत्थर से सिर कुचलकर हत्या, प्रज्ञा ठाकुर बोलीं- हम लेंगे बदला

इससे पहले महाराष्ट्र (Maharashtra) के नासिक (Nasik) जिले में एक महिला को अपनी 10 दिन की बच्ची पर धारधार हथियार से वार करने और गला दबाकर उसकी हत्या करने के लिए गिरफ्तार किया गया था. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया था कि यह घटना नासिक के अदगांव के वृंदावन नगर इलाके में 31 मई को हुई. साथ ही उन्होंने बताया कि प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि आरोपी इस बात से परेशान थी कि उसने तीसरी बार बेटी को जन्म दिया है.

Celebrating Pride: गूगल ने LGBTQ+ प्राइड के नाम किया 3D Doodle, जानें इतिहास और खास बातें

अदगांव पुलिस थाने के एक अधिकारी ने बताया, 'आरोपी अनुजा काले (26) ने अपनी बच्ची पीयू पर धारदार हथियार से वार किया और बाद में गला दबा कर उसकी हत्या कर दी. पीयू का दस दिन पहले जन्म हुआ था. आरोपी की पहले से दो बेटियां हैं और फिर से एक बार बेटी को ही जन्म देने के कारण वह परेशान थी.'

विदेशी महिला ने गोवा में रहने के लिए पीएम मोदी को किया ट्वीट, लिखा- 'भारत के बिना अधूरी हूं मैं...'

उन्होंने बताया कि आरोपी ने 31 मई को इस अपराध को अंजाम दिया जब उसका पति बालासाहेब काले शहर से बाहर था. बालासाहेब काले ने बताया कि उसकी पत्नी ने फोन पर उसे सूचना दी कि बच्ची में कोई हरकत नहीं हो रही है और उसे अस्पताल ले जाया गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया. हालांकि बालासाहेब को इस बारे में शक हुआ और उसने रविवार को पुलिस को इसकी सूचना दी.

टिप्पणियां

मध्यप्रदेश में रोज जा रही है बिजली, शायर राहत इंदौरी का छलका दर्द, बोले- 'सीएम कमलनाथ जी रमजान चल रहे हैं...'

अधिकारी ने बताया कि बच्ची के पोस्टमार्टम में पता चला कि सिर पर चोट लगने एवं गला दबने की वजह से उसकी मौत हुई. अनुजा से पूछताछ करने पर उसने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया जिसके बाद हत्या का मामला दर्ज कर उसे रविवार को गिरफ्तार कर लिया गया. (इनपुट भाषा से) 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement