NDTV Khabar

22 साल के युवक की बेरहमी से हत्या, चार दोस्तों पर है आरोप, पुलिस ने शुरू की जांच

अभिषेक के परिजनों का आरोप है कि जिन दोस्तों के साथ अभिषेक गया था उन्हीं ने उसकी हत्या की है. बहरहाल, पुलिस ने इस पूरी घटना को लेकर एक FIR दर्ज कर मालमे की जांच शुरू कर दी है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
22 साल के युवक की बेरहमी से हत्या, चार दोस्तों पर है आरोप, पुलिस ने शुरू की जांच

प्रतीकात्मक चित्र

खास बातें

  1. दोस्तों पर है अभिषेक की हत्या का शक
  2. पीड़ित परिजनों ने दर्ज कराया केस
  3. पुलिस ने सभी दोस्तों को लिया हिरासत में
नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर से हैरान करने वाली घटना सामने आई है. यहां एक युवक ने अपने 22 साल के दोस्त की हत्या कर दी. पीड़ित परिजनों की शिकायत के बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. पुलिस ने मृतक युवक की पहचान अभिषेक जायसवाल के रूप में की है. पीड़ित परिवार के अनुसार अभिषेक अपने चार दोस्तों के साथ गया था लेकिन बाद में वह जब घर नहीं लौटा तो उन्होंने उसके दोस्तों को फोन करना शुरू किया लेकिन किसी से बात नहीं हो पाई. इसके बाद उन्होंने इसकी जानकारी पुलिस को दी. अभिषेक के परिजनों का आरोप है कि जिन दोस्तों के साथ अभिषेक गया था उन्हीं ने उसकी हत्या की है. बहरहाल, पुलिस ने इस पूरी घटना को लेकर एक FIR दर्ज कर मालमे की जांच शुरू कर दी है. पुलिस फिलहाल अभिषेक के दोस्तों को हिरासत में लेकर उनसे पूछताछ कर रही है. नार्थ गोरखपुर ग्रामीण के एसपी अरविंद पांडे ने बताया कि हमनें पीड़ित परिवार के आरोप के आधार पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. अभिषेक के चारों दोस्तों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. 

पहले 3 करोड़ 20 लाख का बीमा खरीदा, पैसा हड़पने के लिए युवकों ने रची ऐसी ख़ौफनाक साजिश कि...


बता दें कि इस तरह की यह कोई पहली घटना नहीं है. इससे पहले मुंबई में एक युवक की बर्बरता से हत्या कर उसके शव के टुकड़े कर टॉयलेट में बहाने का मामला सामने आया था. घटना पुलिस (Mumbai Police) के अनुसार एक युवक के शव के कई टुकड़े सीवर से मिले थे. पुलिस (Mumbai Police) ने शव की पहचान 58 वर्षीय गणेश विट्ठल के रूप में की थी. पुलिस की जांच में पता चला है कि गणेश की हत्या उसके ही एक दोस्त ने एक हफ्ते पहले की थी. मामला मुंबई के विरार का है. पुलिस (Mumbai Police) की शुरुआती जांच में पता चला था कि गणेश की हत्या सिर्फ इसलिए की गई क्योंकि उसने आरोपी पिंटू के एक लाख रुपये नहीं लौटाए थे. आरोपी पिंटू ने पहले गणेश को घर पर फर्नीचर को हटाने के बहाने बुलाया. इसके बाद दोनों ने साथ बैठकर शराब पी, इसी दौरान दोनों के बीच कहासुनी शुरू हो गई. इसके बाद ही आरोपी ने गणेश की हत्या कर दी. पुलिस (Mumbai Police) अधिकारी के अनुसार गणेश की जल्द ही शादी होने वाली थी. पिंटू ने गणेश की हत्या करने के बाद उसके शव के कई टुकड़े किए और फिर एक-एक करके उसे टॉयलेट में बहा दिया था. 

यह भी पढ़ें : शराब पार्टी के दौरान विवाद के बाद युवक को पीट-पीटकर मार डाला

सीवर जाम होने से खुला मामला
पुलिस अधिकारी के अनुसार पिंटू के गुनाह के बारे में किसी को पता नहीं चलता अगर पिंटू के घर के नीचे का सीवर जाम नहीं होता. शरीर के कई टुकड़े सीवर में फंस गए जिस वजह सीवर का पानी बाहर आने लगा. इसके बाद लोगों ने इसकी शिकायत की थी. सीवर साफ करने के दौरान अंदर से शव के कई टुकड़े बाहर आए थे. बाद में इसकी जानकारी पुलिस को दी गई थी. पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की. आखिरकार लंबी जांच और पूछताछ के बाद पुलिस ने आरोपी की पहचान की और उसे गिरफ्तार कर लिया था. पुलिस अधिकारी ने बताया था कि आरोपी युवक स्टॉक एक्सचेंज में काम करता है जबिक मृतक प्रिंटिंग प्रेस चलाता था.

खतरनाक स्थितियों से निपटने को सेना के लिए 'खुली छूट' दें : अमरिंदर सिंह

गौरतलब है कि बर्बरता से हत्या का यह कोई पहला मौका नहीं था. इससे पहले मुंबई के निकट ठाणे में एक शख्स के हाथ-पांव बांधकर उसे पेड़ से उल्टा लटकाकर उसकी बेरहमी से हत्या कर दी थी. हत्या की इस घटना के वायरल हो रहे वीडियो में सबसे ज़्यादा दर्दनाक पहलू यह है कि वहां दो पुलिस वाले भी खड़े दिखाई दे रहे थे, लेकिन उन्होंने उस शख्स को बचाने के लिए अंगुली तक नहीं हिलाई.स्थानीय लोगों के मुताबिक, जिस 28-वर्षीय शख्स को मारा गया, वह मानसिक रूप से अस्वस्थ था, और उसे तब तक पीटा गया, जब तक उसका हिलना-डुलना और चीखना बंद नहीं हो गया, जिसके तुरंत बाद उसकी मौत हो गई थी.

यह भी पढ़ें : झारखंड में महिला की पीट-पीटकर हत्या, चोटी-कटवा होने का था शक

इस शख्स पर भयावह तरीके से हमला करने वाले अमित पाटिल, सागर पाटिल और बलराम फुराद को सोमवार को गिरफ्तार कर लिया गया था, और इस बर्बर कृत्य को चुपचाप देखते रहने वाले पुलिस कॉन्स्टेबलोंएचएन गरुड़ तथा एसवी कंचावे को निलंबित कर दिया गया है. जिस शख्स की हत्या की गई, उसकी पहचान अभी तक नहीं हो पाई है.

टिप्पणियां

VIDEO: अंतिम संस्कार में उमड़ी भीड़.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement