NDTV Khabar

प्रयागराज के सोरांव में एक ही परिवार के 5 लोगों की हत्या

मृतकों में विजय शंकर तिवारी (55), विजय शंकर के पुत्र सोमदत्त तिवारी उर्फ सोनू (35), सोमदत्त की पत्नी कामिनी उर्फ सोनी (28), सोमदत्त का पुत्र कान्हा (छह) और छोटा पुत्र कुंज (तीन) शामिल हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
प्रयागराज के सोरांव में एक ही परिवार के 5 लोगों की हत्या

प्रतीकात्मक तस्वीर

खास बातें

  1. सोरांव थाना क्षेत्र के यूसुफपुर गांव में विजय शंकर सहित 5 लोगों की हत्या
  2. ग्राम प्रधान सहित पांच लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है
  3. पुलिस महानिरीक्षक केपी सिंह ने बताया कि यह घटना कल देर रात की है
नई दिल्ली:

जिले के गंगा पार सोरांव थाना क्षेत्र के यूसुफपुर गांव में विजय शंकर तिवारी सहित उनके परिवार के पांच लोगों की शनिवार देर रात हत्या कर दी गई. इस संबंध में ग्राम प्रधान सहित पांच लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. पुलिस महानिरीक्षक केपी सिंह ने बताया कि यह घटना कल देर रात की है. विजय शंकर तिवारी और उनके परिवार के चार सदस्यों की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई. मृतकों में विजय शंकर तिवारी (55), विजय शंकर के पुत्र सोमदत्त तिवारी उर्फ सोनू (35), सोमदत्त की पत्नी कामिनी उर्फ सोनी (28), सोमदत्त का पुत्र कान्हा (छह) और छोटा पुत्र कुंज (तीन) शामिल हैं. पुलिस द्वारा जारी विज्ञप्ति के मुताबिक, मृतका कामिनी के भाई कार्तिकेय तिवारी ने पुलिस को दी गयी शिकायत में ग्राम प्रधान प्रदीप कुमार सरोज पर हत्या की साजिश रचने का आरोप लगाया है.

ग्वालियर के गूजरी महल म्यूजियम से 400 साल पुरानी अष्टभुजीय देवी प्रतिमा चोरी


ग्राम प्रधान के अलावा सचिदानंद तिवारी, संपूर्णानंद तिवारी, राम प्रकाश तिवारी, अंबुज तिवारी, जितेंद्र कुमार तिवारी, विकास तिवारी, सत्यम तिवारी पर हत्या में संलिप्त होने के आरोप लगाए हैं. शिकायत के आधार पर सोरांव थाना की पुलिस ने ग्राम प्रधान प्रदीप कुमार सरोज, सचिदानंद तिवारी, संपूर्णानंद तिवारी, अंबुज तिवारी, जितेंद्र कुमार तिवारी, विकास तिवारी, सत्यम तिवारी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. पाचों आरोपियों से पूछताछ की जा रही है. इसके अलावा पुलिस ने बताया कि सभी मृतकों का शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है.

संदिग्ध हालात में नवजात की मौत, माता-पिता ने एक दूसरे पर लगाया हत्या का आरोप

पुलिस महानिरीक्षक सिंह ने बताया कि जिस तरह से घर का सामान बिखरा है, प्रथम दृष्टया लगता है कि मानसिक रूप से विक्षिप्त किसी व्यक्ति ने इस घटना को अंजाम दिया. हत्या का उद्देश्य अभी स्पष्ट नहीं है, जांच के बाद ही यह साफ हो सकेगा. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज ने मीडिया से बातचीत में बताया कि हत्या में घरेलू सामानों जैसे सिलबट्टा आदि का प्रयोग किया गया. फारेंसिक टीम यहां पड़ताल कर रही है और सबूतों को इकट्ठा किया जा रहा है.

टिप्पणियां

VIDEO: नोएडा SSP की चिट्ठी पर DGP ओपी सिंह ने दी सफाई



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... 'तानाजी' कर रही तूफानी कमाई, सैफ अली खान बोले-फिल्म में मेरा किरदार...

Advertisement