NDTV Khabar

'पुलिस की टीम आई...शुरू कर दी फायरिंग और लूट लिए डेढ़ लाख रुपये'

पुलिस अधीक्षक शशिकांत शुक्ला ने सभी छह पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है.

719 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
'पुलिस की टीम आई...शुरू कर दी फायरिंग और लूट लिए डेढ़ लाख रुपये'

फाइल फोटो

खास बातें

  1. जबलपुर की घटना
  2. पुलिस की कार्यशैली पर सवाल
  3. आरोपी पुलिसकर्मी निलंबित
नई दिल्ली: मध्यप्रदेश के जबलपुर में पुलिस ही अपराधी और लुटेरी बन गई. बुधवार की रात को अपराध शाखा के पुलिसकर्मियों ने एक युवक को गोली मार दी और उससे डेढ़ लाख रुपये लूट ले गए. पुलिस अधीक्षक शशिकांत शुक्ला ने सभी छह पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है. अस्पताल में भर्ती अशोक गांवकर नामक युवक ने गुरुवार को बताया कि वह बुधवार रात को लगभग साढ़े ग्यारह बजे चेरीताल के पास लघुशंका करने रुका तो पीछे से अपराध शाखा की टीम गाड़ी में पहुंची और उस पर फायर करने लगी.  बचाव के लिए वह भागा और कुछ दूर जाकर अर्द्धबेहोशी की हालत में गिर गया, तभी सादिक नाम का पुलिस कर्मी आया और बोला कि गोली गले में लगी है, बचेगा नहीं.  इसके बाद पुलिसकर्मी उसके पास रखे डेढ़ लाख रुपये लेकर फरार हो गए. उसके बाद वह परिचित की मदद से अस्पताल पहुंचा.

पढ़ें :  प्रधानमंत्री का किसी को ट्विटर पर फॉलो करना 'चरित्र प्रमाण' पत्र देना नहीं : बीजेपी

पुलिस अधीक्षक शशिकांत शुक्ला ने बताया कि अपराध शाखा के साजिक, राशिद, राजवीर, महेंद्र व वीरबल सहित कोतवाली थाने में पदस्थ भूपेंद्र को निलंबित कर दिया गया है. अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश तिवारी को जांच के निर्देश दिए हैं. 

टिप्पणियां
वीडियो : गौरी लंकेश को नक्सलियों से खतरा था?
उन्होंने बताया कि अपराध शाखा की टीम को यह खबर मिली थी कि विजय नगर निवासी छोटू चौबे हथियार की तस्करी में लिप्त है. वह अपनी गाड़ी में अवैध हथियार की खेप लेकर जा रहा था, इसी सूचना पर अपराध शाखा के जवान उसकी गाड़ी के पीछे लगे थे.

इनपुट : आईएनएस


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement